SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शनिवार, 10 जुलाई 2021

सौतेला बाप निकला मासूम बच्ची का हत्यारा, केसली क्षेत्र में मिला था नरकंकाल

सौतेला बाप निकला मासूम बच्ची का हत्यारा, केसली क्षेत्र में मिला था नरकंकाल

सागर। सागर जिले के केसली थाना क्षेत्र के निवारी कला में मिले 7 साल की मासूम बच्ची के नरकंकाल का खुलासा हो गया है। उसके सौतेले बाप ने मासूम को मौत के घाट उतारा था। उसकी माँ और आरोपी लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। पहले बच्ची को कुएं में फेंका। जब शव उतराया तो उसको निकालकर जमीन में दफना दिया। 

पुलिस के प्रेस नोट के अनुसार  एसपी अतुल सिंह,एएसपी विक्रम सिंह परिहार,एसडीओपी सुश्री पूजा शर्मा के मार्गदर्शन में थाना केसली के अपराध क्रमांक 207की धारा 363,302,201 में अज्ञात आरोपी की पतारसी हेतु थाना प्रभारी केसली मकसूद अली के नेतृत्व में उप निरीक्षक सत्यव्रत धाकड़,राजेश शर्मा,खिलान सिंह,सुधीर रिछारिया,विनोद विश्वकर्मा,नीलेश, जितेंद्र,तृप्ति त्रिवेदी,नीलम मिश्रा,देवेंद्र पांडे आदि की टीम गठित की गई । जिनके द्वारा सतत कार्यवाही करते हुए थाना केसली के अंधे कत्ल का तत्परता पूर्वक गहन एवं मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ कर विवेचना के दौरान आए साक्ष्य के आधार पर आरोपी मोनू उर्फ भूपेंद्र पिता कंछेदी राजपूत उम्र 28 साल निवासी निवारी खुर्द द्वारा गुमशुदा आरुषि के साथ मारपीट कर उसे अचेत अवस्था में अपने खेत के पास बने कुएं में फेंक देना एवं 2 दिन बाद आरुषि का शव पानी में ऊपर आ जाने पर आरोपी मोनू द्वारा उसे कुएं से निकालकर तालाब के पास जमीन में दफन करना स्वीकार किया गया है।

आरोपी से घटना में प्रयुक्त गैंती,फ़ावड़ा ज़ब्त किए गए हैं।थाना केसली के अंधे कत्ल के आरोपी मोनू उर्फ भूपेंद्र राजपूत निवासी निवारी खुर्द को थाना केसली टीम द्वारा महज 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर अंधे कत्ल का खुलासा किया गया है।

 ये है मामला

जिले के केसली थाना क्षेत्र के अंतर्गत नवारी खुर्द गांव में शनिवार को एक गुमशुदा का शव दो टुकड़ों में मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। मृतक बच्ची पिछले एक सप्ताह से घर से लापता थी। परिजनों ने बच्ची की गुमशुदगी की शिकायत थाना में दर्ज करवाई थी। 
मृतक बच्ची का नाम आरूषि नवारी उम्र 7 वर्ष है। आरुषी एक सप्ताह पहले घर से अचानक लापता हो गई थी। बच्ची की पतासाजी करने के बाद परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की शिकायत पुलिस थाना में दर्ज करवाई। शनिवार को गांव में सूनसान जगह पर मौजूद एक झाड़ी में बच्ची का दो टुकड़ों में शव बरामद हुआ। शव का एक टुकड़ा कंकाल बन चुका था, जिसकी वजह से उसकी पहचान मुश्किल हो गई थी। झाड़ियों में मिले कपड़ों और चप्पलों से मासूम की पहचान की गई।

मामले में पुलिस ने बताया कि 7 साल की मासूम खुर्द गांव में अपने दूसरे पिता के साथ रहती थी। मामले में पूछताछ से पता चला कि आरुषि की मां ने दो शादियां की थी। सभी संदिग्धों से पूछताछ कीगई ।इसी में पूरे मामले का खुलासा हुआ। सौतेले पिता मोनू राजपूत को गिरफ्तार कर लिया गया है। कथित पति और पत्नी में झगड़ा भी होने लगा था। 


---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive