रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 10 जुलाई 2021

सिरफिरे आशिक ने लड़की सहित तीन को मारी गोली, तीनो को मौत के घाट उतारने के बाद की आत्महत्या

सिरफिरे आशिक ने लड़की सहित तीन को मारी गोली, तीनो को मौत के घाट उतारने के बाद की आत्महत्या

★ मयंक भार्गव, बैतूल से

बैतूल। एकतरफा प्यार में पागल एक आशिक के खिलाफ लड़की पक्ष द्वारा छेड़छाड़ की थाने में शिकायत करने के बाद आक्रोशित सिरफिरे आशिक ने दो माउजर से लड़की समेत तीन लोगों को दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या करने के बाद स्वयं को भी गोली मार ली। मौक्े पर ही चारों की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद, एसडीओपी नम्रता सौंधिया सहित आमला पुलिस थाने के टीआई समेत पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंच गया है। घटना जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर दूर ब्लाक मुख्यालय आमला में करीब दो बजे के दौरान घटित हुई।
आमला टीआई सुनील लाटा ने बताया आरोपी भानू पिता रामसिंग ठाकुर (22) निवासी रेलवे कालोनी 12 क्वाटर के खिलाफ इसी कालोनी के ही रोशनी ज्वेलर्स के संचालक सुनील सोनी ने उनकी भांजी बरखा उर्फ मोनू पिता स्व. विनोद सोनी (25) से छेड़छाड़ करने पर आमला थाने में गत दिवस शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत के बाद आमला पुलिस द्वारा भानू ठाकुर को पूछताछ के लिए थाने भी बुलाया गया था। इस सिरफिरे आशिक भानू ठाकुर को इस बात का आक्रोश था कि उसके खिलाफ थाने में शिकायत क्यों दर्ज की गई? इसी आक्रोश के तहत भानू ठाकुर शुक्रवार को पहले डेढ़ बजे दोपहर में रोशनी ज्वलेर्स जहां मृतिका रहती थी वहां पर पहुंचा और परिजनों को  घूर-घूरकर देखने लगा। भानू ठाकुर को आया देखकर मृतिका के मामा सुनील सोनी ने भानू को डांट-फटकार लगाकर उसे भगा दिया था लेकिन वह भागा नहीं और वही पर उसने अपनी बाईक को लात-घूसे मारना प्रारंभ कर दिया। इसके बाद मोहल्ले वाले एकत्र हुए तब कहीं जाकर वह वहां से गया। भानू तुरंत तो चला गया लेकिन 15 से 20 मिनट बाद याने करीब 2 बजे के दरम्यिान पुन: दो माउजर लेकर आया और सीधे बरखा सोनी के मकान में घुस गया और भीतर से दरवाजा भी बंद कर दिया। भानू ठाकुर ने आक्रोश का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उसने बरखा उर्फ मोनू पिता स्व. विनोद सोनी(25), (बुआ का लड़का) भाई लोकेश उर्फ बंटी पिता सुभाष सोनी (22) एवं लोकेश के पड़ोस में रहने वाले लक्की पिता बसंत पाल (18) सभी निवासी रेलवे कालोनी 12 क्वार्टर को एक-एक कर गोलियों से भुन दिया। इसके बाद भानू ठाकुर ने स्वयं को भी गोली मार ली जिससे उसकी भी मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस के आला अफसर मौके पर पहुंचे हैं। पुलिस ने घटना स्थल से दो माउजर भी जब्त की है। इस घटना से समूचे क्षेत्र में सनसनी व्याप्त हो गई है।
वीडियो बनाकर एफबी और पुलिस को किया सेंट
आमला टीआई सुनील लाटा ने बताया कि आरोपी भानू ने वारदात को अंजाम देने के पहले स्वयं का एक वीडियो बनाया और उसे फेसबुक पर अपलोड कर आमला पुलिस को सेंट भी किया। इस वीडियो में उसने कहा कि इस घटना के लिए सिर्फ और सिर्फ यदि कोई जिम्मेदार है तो वह बरखा सोनी है। इसमें मेरे परिजन, दोस्त, मोबाइल कांटेक्ट लिस्ट के किसी भी व्यक्ति का कोई लेना देना नहीं है। भानू ने अपने वीडियो अपने भाई-भाभी से भी माफी मांगते हुए कहा है कि आप मुझे माफ कर देना और माँ के साथ ही रहना। इसके साथ ही उनसे सबसे सनसनीखेज बात जो कही वह यह है कि मुझे दोनों सामान (माउजर/बंदूक) बोडख़ी पुलिस चौकी के पास मोटवानी ट्रेडर्स के पीछे रहने वाले राकेश पिता श्यामलाल हारोड़े (27), आमला  ने उपलब्ध कराई है। इस वीडियो और जानकारी के वायरल होने पर पुलिस ने राकेश हारोड़े को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive