जंय श्री गणेशाय नमः

शनिवार, 21 अगस्त 2021

पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और शांति शोधपीठ में प्रो. वी .के. गोस्वामी मानद आचार्य नियुक्त ★ अम्बेडकर विवि महू में 9 मानद पीठ में पांच वर्षों के लिए मानद आचार्य नियुक्त

पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और शांति शोधपीठ  में प्रो. वी .के. गोस्वामी मानद आचार्य नियुक्त

★ अम्बेडकर विवि महू में 9 मानद पीठ में पांच वर्षों के लिए मानद आचार्य नियुक्त


सागर। सागर विश्वविद्यालय के एलुमनी प्रोफेसर वी . के. गोस्वामी को ड. बी. आर. अंबेडकर विश्वविद्यालय महू ने पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और शांति शोधपीठ में मानद आचार्य के रूप में 5 वर्ष के लिए नियुक्त किया है। बुंदेलखंड के छतरपुर जिले के निवासी प्रो. गोस्वामी भारतीय सेना में विंग कमांडर के पद से सेवानिवृत्ति के उपरांत संगम विश्वविद्यालय और सनराइज विश्वविद्यालय के कुलपति भी रहे हैं। 

आईआईटी खड़कपुर से स्नातक के उपरांत विस्कंसिन विश्वविद्यालय से एमएस किया और इलिनॉइस विश्वविद्यालय अमेरिका से पोस्ट डॉक्टरेट किया। डॉक्टर गोस्वामी यूनाइटेड नेशन इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन और आईसीटीपी इटली में विजिटिंग साइंटिस्ट, आईसीएओ कनाडा के विशेषज्ञ समिति के सदस्य और विश्व विख्यात नासा नेशनल एटमॉस्फेरिक एडमिनिस्ट्रेशन में स्पेस साइंटिस्ट इंजीनियरिंग में स्पेस साइंटिस्ट के रूप में भी कार्यरत रहे हैं।

प्रो. गोस्वामी ने केमिकल टेक्नोलॉजी, एटमॉस्फेरिक साइंस, सेटेलाइट एप्लीकेशन, स्पेस साइंस, क्लाइमेट वेरीएबिलिटी एंड कंट्रोल, ग्लोबल वार्मिंग एवं उच्च शिक्षा के विभिन्न मुद्दों पर 32 से भी ज्यादा देशों में शोध पत्र प्रस्तुत किए हैं। आप वर्तमान में नोएडा दिल्ली के पास निवासरत हैं और अपनी सेवाएं मानद रूप में अनेक संस्थाओं को प्रदान कर रहे हैं। एनवायरमेंट एंड पीस फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष भी हैं। बुंदेलखंड के गौरव प्रो. गोस्वामी को अंबेडकर विश्वविद्यालय महू में हॉनरेरी चेयर प्रोफेसर नियुक्त किए जाने पर अकादमी क्षेत्र के अनेक विशेषज्ञों ने बधाइयां प्रेषित की हैं। यह उम्मीद जताई जा रही है कि मध्य प्रदेश को उनकी सेवाओं का लाभ मिलेगा।

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे




ट्वीटर  फॉलो करे



वेबसाईट




ब्राउस में 9 मानद पीठ में पांच वर्षों के लिए मानद आचार्य नियुक्त

. देश के प्रथम एवं अब तक का एकमात्र सामाजिक विज्ञान का विश्वविद्यालय नित नवाचार कर अकादमिक रूप से नये मानक गढ़ रहा है. कुलपति प्रो. आशा शुक्ला के अथक प्रयासों से नौ नए शोध पीठ की स्थापना की गई जो समाज से जुड़े विविध विषयों पर कार्य करेंगे. खास बात यह है डॉ. भीमराव अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय में स्थापित सभी नौ चेयर मानद (अवैतनिक) हैं. अपने अपने क्षेत्र और विषय विशेषज्ञों ने स्वेच्छा से चेयर सम्हालने की सहमति दी. संभवत: विश्वविद्यालयीन इतिहास में कुलपति प्रो. आशा शुक्ला की यह अलहदा कोशिश है जहां इतने सारे विषय विशेषज्ञ मानद आचार्य के रूप में प्रतिष्ठापित किये गए हैं.

कुलपति प्रो. आशा शुक्ला ने बताया कि मध्यस्थ दर्शन सह-अस्तित्ववादशोध पीठ में श्रीमती सुनीता पाठक,  विज्ञान और अध्यात्म शोध पीठ में डॉ. सी. के भारद्वाज, सद्भाव के लिए मीडिया शोध पीठ में प्रो. संतोष तिवारी, सामंजस्यपूर्ण समाज के लिए कानून और न्याय शोध पीठ में श्री बलराज सिंह मलिक, अहिंसा, सद्भाव और जैन विरासत शोध पीठ में प्रो. अनुपम जैन, पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और शांति शोध पीठ में प्रो. वीरेन्द्र कुमार गोस्वामी, जैन दर्शन शोध पीठ में प्रो. जितेन्द्र बाबूलाल शाह, शांति, सद्भाव और सतत विकास शोध पीठ में, प्रो. मार्केन्ड राय एवं भगवान बुद्ध अध्ययन और सांस्कृतिक विरासत अध्ययन शोध पीठ में डॉ. नीरू मिश्रा को मानद आचार्य मनोनीत किया गया है. इन सभी नौ पीठों के मानद आचार्य का कार्यकाल पांच वर्ष का होगा.
यह सभी मानद आचार्य अपने अपने क्षेत्र के विशेषज्ञ हैं और वर्षों से इन क्षेत्रों में सेवाएं दे रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि परम्परागत शिक्षा पद्धति को नया स्वरूप देते हुए जारी की गई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रभावी क्रियान्वयन के मुद्दों की पहचान एवं आजादी के अमृत महोत्सव के अनेक अनछुये पहलुओं से परिचित कराने साप्ताहिक व्याख्यान माला विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित किया की जा रही है. यह अपने की तरह अलग पहल है क्योंकि इन व्याख्यानों को संकलित कर विषयवार किताबों का प्रकाशन विश्वविद्यालय द्वारा किया जाएगा. विश्वविद्यालय अपने विजन और मिशन के साथ अपने केंद्रीय मूल्यों को नई शिक्षा नीति की अपेक्षाओं के अनुरूप जोड़ते हुए उन्हें पाठ्यक्रम में प्रतिष्ठित करने के लिए भी प्रयासरत है, इसी क्रम में इन मानद पीठ की भूमिका को देखा जा रहा है। कुलपति प्रो. आशा शुक्ला ने बताया कि प्रधानमंत्री के आह्वान एवं राज्यपाल मध्यप्रदेश शासन श्री पटेल के मार्गदर्शन में विश्वविद्यालय की गतिविधियां निरंतर संचालित की जा रही है.



---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------


1 comments:

  1. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय महू के ९ शोधपीठों में नियुक्त सभी मानद आचार्यों को हार्दिक बधाई. कुलपति माननीया डॉ आशा शुक्ल जी को हार्दिक बधाई. आपके द्वारा अम्बेडकर विश्वविद्यालय महू को उच्च शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट संस्थान बनाने हेतु निरंतर कार्य करने एवं सफलता हेतु शुभ कामनाएं.

    जवाब देंहटाएं

Archive