रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शुक्रवार, 1 अक्तूबर 2021

पद्मश्री प्रो. कपिल तिवारी का हुआ डॉ गौर विश्वविद्यालय में सम्मान ★ ईएमएमआरसी की गवर्निंग बॉडी की बैठक सम्पन्न

पद्मश्री प्रो. कपिल तिवारी का हुआ डॉ गौर विश्वविद्यालय में सम्मान

सागर.. डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर में पद्मश्री प्रो. कपिल तिवारी के विश्वविद्यालय आगमन पर कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया. उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय और सागर शहर के लिए यह गौरवपूर्ण क्षण है और ऐसी अद्वितीय प्रतिभा का सम्मान करके विश्वविद्यालय को गर्व है. सागर में जन्मे, विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र, आदिवासी कला-संरक्षक, लोक संस्कृति के संवाहक, लोक-संस्कृति साहित्य पर केंद्रित उनतालीस ग्रंथों के संपादक प्रो. कपिल तिवारी को भारत सरकार द्वारा इसी वर्ष पद्मश्री से सम्मानित किया गया है. गौरतलब है कि बुन्देली साहित्य-संस्कृति विशेषकर पारंपरिक लोक-नृत्यों को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाने में प्रो. तिवारी की महती भूमिका रही है. मध्यप्रदेश लोककला अकादमी के निदेशक के साथ-साथ भारत सरकार के विदेश मंत्रालय भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद् के सदस्य और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र, नई दिल्ली के सलाहकार सदस्य के रूप में प्रो. तिवारी अपनी सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं. प्रशस्ति वाचन कुलसचिव संतोष सोहगौरा ने किया.  
 
 
विश्वविद्यालय का तैयार होगा मानचित्र, वेबसाईट पर होगा स्टूडेंट कार्नर 

. डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर की कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग का निरीक्षण किया. उन्होंने विभाग के कार्यों की सराहना की. इस अवसर पर उन्होंने विभाग के शिक्षकों से विश्वविद्यालय का मानचित्र तैयार करने के लिए कहा. विभाग के शिक्षक और वेबसाईट कंटेंट के समन्वयक डॉ. राकेश सैनी को विश्वविद्यालय वेबसाईट पर स्टूडेंट कार्नर सृजित करने के लिए कहा. 
 
'राजस्थान का भूगोल' पुस्तक का हुआ विमोचन 

इस अवसर कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने विभाग के सहायक प्राध्यापक डॉ. पवन शर्मा द्वारा लिखित 'राजस्थान का भूगोल' पुस्तक का विमोचन किया. उन्होंने पुस्तक के प्रकाशन के लिए लेखक को बधाई दी और विभागीय शिक्षकों को पाठ्य-पुस्तकों के लेखन के लिए प्रोत्साहित किया. डॉ. पवन ने बताया कि स्नातक एवं स्नातकोत्तर के समेकित पाठ्यक्रम अनुसार पुस्तक का लेखन किया गया है. इसमें अद्यतन आंकड़ों और रुचिकर मानचित्रों का समावेश किया गया है. विमोचन में विभागाध्यक्ष प्रो. आर. पी. मिश्रा, विश्वविद्यालय के उपकुलसचिव सतीश कुमार, विभाग के प्राध्यापक और शोधार्थी मौजूद रहे. 
 
  

ईएमएमआरसी की गवर्निंग बॉडी की बैठक समपन्न

 डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर के ईएमएमआरसी (एजुकेशनल मल्टीमीडिया रिसर्च सेंटर) की गवर्निंग बॉडी की बैठक संपन्न हुई. बैठक में नियमित मामलों पर निर्णय लिए गए. ज्ञातव्य है कि इस सेंटर में यूजीसी-सीईसी की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत अकादमिक पाठ्यक्रमों का निर्माण किया जाता है जिसमें विद्यार्थी ऑनलाइन पठन-पाठन करते हैं और उन्हें संबंधित पाठ्यक्रमों की डिग्री प्रदान की जाती है. इसके अलावा इस सेंटर द्वारा विभिन्न ऑडियो-वीडियो कार्यक्रमों, वृत्त-चित्र, टेलीविजन कार्यक्रमों निर्माण भी किया जाता है. विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में सीईसी के निदेशक प्रो. जे. बी. नड्डा, कुशाभाऊ ठाकरे राष्ट्रीय संचार एवं पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बलदेवभाई शर्मा, पद्मश्री प्रो. कपिल तिवारी, प्रसिद्ध संचारविद प्रो. बीरबाला अग्रवाल और केंद्र के निदेशक डॉ. पंकज तिवारी उपस्थित थे. बैठक के बाद समिति ने सेंटर का निरीक्षण किया. इस दौरान विश्वविद्यालय के कुलसचिव संतोष सोहगौरा और उपकुलसचिव सतीश कुमार मौजूद रहे.  

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive