सतर्क रहें..बने सायबर योद्धा

रविवार, 5 दिसंबर 2021

महाप्रसादी (भंडारा) में श्री गुलाब बाबा के जयकारों से गूंजायमान रहा श्री गुलाब बाबा मंदिर

महाप्रसादी (भंडारा) में श्री गुलाब बाबा के जयकारों से गूंजायमान रहा 
श्री गुलाब बाबा मंदिर





सागर ।  श्री गुलाब बाबा मंदिर सागर के 14वें वार्षिक उत्सव के तहत् आज रविवार 5 दिसम्बर 21 को महाप्रसादी (भंडारा) का आयोजन किया गया, परिसर के अंदर निर्मित श्री गुलाब अन्नपूर्णा भवन में सुबह 11ः32 में आरंभ हुये महाप्रसादी (भंडारा) में समाचार लिखे जाने तक लभगभग सत्तर हजार भक्त पूर्ण सम्मान, सुरक्षा, कोरोना गाइड लाइन से शामिल हुये, पूरे समय भंडारा हाल श्री गुलाब बाबा के जयकारों से गूंजायमान होता रहा । ज्ञात हो कि महाप्रसादी के तहत कल 4 दिसम्बर को मंदिर में लगभग 30-35 हजार भक्तों ने महाप्रसादी (भंडारा) ग्रहण किया था ।





मंदिर के सचिव श्याम सोनी ने बताया कि 14वें वार्षिक उत्सव का आयोजन नरसिंहगढ़(दमोह) में 28 नवम्बर 21 को भंडारे के साथ शुभारंभ हुआ था, 29 नवम्बर को दमोह भ्रमण करती हुयी हर वर्ष की तरह श्री गुलाब बाबा चरण पादुका पालिकी रथयात्रा बांसातारखेड़ा (दमोह) मदिर में विश्राम करती हुई 30 नवम्बर को सागर आई थी, तब से ही लगातार बुंदेली उत्सव के तहत रोज ही मंदिर प्रांगण में बने श्री गुलाब सत्संग भवन में बुंदेली सांस्कृतिक आयोजन हो रहे थे, एवं संपूर्ण परिसर को बुंदेली परम्परा से सजाया गया था, सतसंग हाल के सामने श्रीगुलाब बाबा कुटिया बनी हुई थी जहां पर सैकड़ों भक्तों ने सेल्फी लेकर फोटोग्राफी की, जहां का वातावरण पूर्ण ग्रामीण परिवेश में था । 4 दिसम्बर को हर वर्ष की तरह सागर शहर में चरण पादुका पालिकी रथयात्रा निकली थी ।






मंदिर के अध्यक्ष भरत आनंद वाखले ने बताया कि हर वर्ष की भांति इतने विशाल भंडारे के निर्माण-व्यवस्था हेतु महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों से लगभग 100 भंडारा निर्माण करने वाले रसोइये, करीब 100 भक्त स्वयं सेवक परोसने वाले व्यवस्था संभाले थे । श्री गुलाब बाबा की मंशानुसार सभी को रूचिकर सब्जी, दाल, रोटी, मीठा की प्रसादी सम्मानपूर्वक ग्रहण कराई गई । आने वाले भक्तों को प्रसादी के साथ चाय का इंतजाम किया गया जो सुबह से अनवरत् रात्रि तक चालू रखा गया । 
मंदिर के व्यवस्थापन सदस्य गोलू (प्रमेन्द्र) रिछारिया ने बताया कि उत्सव के समापन दिवस पर हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी विशाल भजन संध्या में वृंन्दावन के डाॅ. रामसरकार ठाकुर ने गायकों के साथ झांकियों पर नृत्य प्रस्तुतियांे से इस आयोजन में सभी को थिरकाया । रात्रि 11ः32 तक चले इस आयोजन के पश्चात श्री गुलाब बाबा चरण पादुका पालिकी को भक्त अपने कंधे पर श्री गुलाब शक्तिपीठ से श्री गुलाब बाबा मंदिर के गर्भगृह में लेकर आये जहाॅ मंदिर ट्रस्ट की ज्योति अलमेड़ा (ताईजी), जयंत एवं किरण परासरे (मामाजी) ने आरती कर भक्तों की ओर से आराधना की। समापन अवसर पर सभी भक्तों ने ढोल तासे पर नृत्य कर आतिशबाजी का आनंद लिया । संपूर्ण आयोजन में श्री गुलाब बाबा मंदिर के व्यवस्थापन हेतु विभिन्न टीमों ने कार्यकर वार्षिक उत्सव के सफल आयोजन में सहयोग प्रदान किया, एवं जिला पुलिस, नगर निगम सागर, नगर प्रशासन सागर, समस्त पत्रकार बंधुओं एवं वार्ड वासियों का सहयोग रहा । 





संपूर्ण आयोजन के व्यवस्थापन में डाॅ. हरीशंकर साहू, डाॅ. घनश्याम वैद्य, शिवकुमार ताम्रकार, के,एल.नेमा, डालचंद पटेल (लम्बरदार), डाॅ. अजय विश्वकर्मा, डाॅ. अनिल साहू, डाॅ. शिवराम आठया, डाॅ. रजनीश विश्वकर्मा, डाॅ. तरूण बडोन्या, डाॅ. श्याम चैबे, डाॅ. जीवनलाल विश्वकर्मा, संजय जडिया, प्रवीण जग्गी, सुधीर पलया, नीतेश शर्मा, राजू गंगवानी, मनोज संगतानी, गुड्डू मोटवानी, नरेन्द्र छाबड़ा, ओमपाल आर्य, संुदरलाल करेले, संतोष करेले, सिद्धार्थ पण्डा, कैलाश साहू, अखलेश जैन, उत्तम पटैल, शेखर भाटे, दिनेश तंतवाल, मनोज बडोन्या, जसवंत सिंह ठाकुर, सतीश विश्वकर्मा, प्यारेलाल आठ्या, मनोज पटैल, लकी सराफ, गोपाल कोलते, संतोष दगडे (मुंबई) के साथ दमोह के श्री महेन्द्र सोनी, संदीप सराफ, अमित सोनी, मनीष विश्वकर्मा, श्री बी.एन.सोनी, सहित महिला मंडल से श्रीमति योगिनी वाखले, सविता सोनी, मेघना परासरे, क्षिप्रा सराफ, अमिता पलया, सुश्री शिबू सोनी, श्वेता तिवारी, अमिता दुबे आदि व्यवस्था संभाली है। आफिस व्यवस्था में सचिन मातोंडकर, अमोल म्हस्के (मुंबई), सुरेश शिंदे, प्रकाश नेमा का सहयोग रहा ।  



    
                                                   

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense