शनिवार, 21 मई 2022

जैन बुजर्ग को मुस्लिम समझकर पीट पीटकर हत्या, आरोपी भाजपा नेता गिरफ्तार★ गिरफ्तारी के समय पुलिस के सामने भांजी तलवार

जैन बुजर्ग को मुस्लिम समझकर पीट पीटकर हत्या, आरोपी भाजपा नेता गिरफ्तार

★ गिरफ्तारी के समय पुलिस के सामने भांजी तलवार

नीमच।  नीमच जिले में एक जैन बुजुर्ग की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ है. इसमें बीजेपी नेता 65 साल के बुजुर्ग को विशेष समुदाय का समझ कर पीट रहा है. वह बार-बार उसका नाम मोहम्मद बुला रहा है और आधार कार्ड मांग रहा है. ये वीडियो सामने आने के बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है. मृतक का नाम भंवरलाल चत्तर नाम है. वे रतलाम के सरसी गांव के रहने वाले थे. पुलिस ने मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है।पुलिस ने घटना के 18 घण्टे बाद आरोपी दिनेश कुशवाहा को गिरफ्तार कर लिया। जब पुलिस दिनेश को गिरफ्तार केने पहुची तो वह तलवार भासजने लगा। पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही उसके घर पर बुलडोजर चलाने की कार्यवाही शुरू कर दी है। 

मनासा में बुजुर्ग भंवरलाल चत्तर नाम के शख्स की संदिग्ध मौत हो गई. वह रतलाम के सरसी गांव के थे. परिवार के साथ धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने चित्तौड़गढ़ गए भंवरलाल वहां से लापता हो गए थे. मनासा में उनका शव गुरुवार शाम मिला. इस मामले में मृतक के परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं. क्योंकि, उनके साथ हुई मारपीट का एक वीडियो सामने आ गया है. ये वीडियो सामने आते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया
बताया जा रहा है कि जो व्यक्ति की बुजुर्ग भंवरलाल के साथ मारपीट कर रहा है वह मनासा का भाजपा नेता दिनेश कुशवाह है. उसकी पत्नी बीना पूर्व भाजपा पार्षद है।  वीडियो में दिख रहा है कि दिनेश भंवरलाल से बार-बार आधार कार्ड दिखाने को कहता है और हर बार पीटता जाता है. वह बुजुर्ग से कहता है- तेरा नाम क्या मोहम्मद है? जावरा से आया है? चल तेरा आधार कार्ड दिखा. इस मामले में मनासा थाना पुलिस कार्रवाई में जुट गई है.






गौरतलब है कि पुलिस ने गुरुवार को 65 साल के अज्ञात व्यक्ति का शव मनासा के रामपुरा रोड स्थित मारुति शोरूम के पास बरामद किया था. चूंकि, मृतक की पहचान नहीं हो रही थी तो पुलिस ने सोशल मीडिया सहित कई जगह उनकी तस्वीरें जारी कीं. ये तस्वीरें देख परिजनों ने उन्हें पहचान लिया और शव लेने मनासा पहुंचे. परिजनों ने मृतक की पहचान भंवरलाल चत्तर के रूप में की. पुलिस ने शुक्रवार को सारी दस्तावेजी कार्रवाई कर शव परिजनों को सौंप दिया.

मानसिक रूप से कमजोर थे बुजुर्ग

दूसरी ओर, इस घटना से जुड़ा वीडियो अचानक सोशल मीडिया पर वायरल हुआ. ये वीडियो मृतक के परिजनों के पास पुहंचा तो उनके होश उड़ गए. इसमें उनसे उनका नाम और आधार कार्ड मांगा जा रहा है. ये सब देख परिजन पुलिस के पास पहुंच गए. उनका आरोप है कि जो पीट रहा है उसकी पिटाई से ही बुजुर्ग की मौत हुई है. भंवरलाल मानसिक रूप से कमजोर थे. परिजनों ने बताया कि वे उनके साथ धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने चित्तौड़गढ़ गए थे, लेकिन रात को अचानक लापता हो गए.

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense