SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

बुधवार, 28 अप्रैल 2021

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन ★ अंदर की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी ★ संभाग में जल्द खुलेगा बड़ा ऑक्सीजन प्लांट : मंत्री गोविंद सिंह राजपूत

SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

★ अंदर की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी
★ संभाग में जल्द खुलेगा बड़ा ऑक्सीजन प्लांट  : मंत्री गोविंद सिंह राजपूत

सगर ।  कोरोना कहर को देखते हुए राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने जिला अस्पताल एवं बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया ।जिला अस्पताल में बनने वाले ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ऑक्सीजन प्लांट 10 दिन में तैयार होने की बात कही उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में तैयार यह प्लांट रोज 100 बिस्तरों कि मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करेगा, जिससे इसको कोरोना काल में मरीजों को बहुत मदद मिलेगी इसके अलावा जो भी चिकित्सा संबंधी सामग्री की आवश्यकता होगी वह उपलब्ध कराई जायेगी।

हर वार्ड में एक एमडी डॉक्टर की जिम्मेदारी तय हो

राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने कोरोना संकट को लेकर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में कलेक्टर कमिश्नर तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मीटिंग ली जिसमें उन्होंने निर्देशित किया कि हर वार्ड में 1 एमडी डॉक्टर की जिम्मेदारी तय की जाए ताकि वार्ड में व्यवस्थाएं बनी रहे वार्ड में डॉक्टर न होने से मरीज परेशान होते हैं खासतौर से इस समय हर वार्ड में डॉक्टरों की जिम्मेदारी तय होना बहुत जरूरी है इसलिए हर वार्ड में एक डॉक्टर की जिम्मेदारी तय की जाए।

शिफट वाईज लगायें ड्यूटी

श्री राजपूत ने बैठक में कहा कि इस संकट के समय चिकित्सकों को तथा स्वास्थ्य विभाग को निस्वार्थ और पूर्ण श्रद्धा से अपने कर्तव्य का पालन करना होगा अस्पताल में शिफ्ट वाइज ड्यूटी तय करके मरीजों को अच्छे से अच्छी व्यवस्था की जाए सुबह 8ः00 बजे से दोप. 2ः00 बजे तक 2ः00 से रात्रि 8ः00 तक तथा रात्रि 8ः00 बजे से सुबह 8ः00 बजे तक की ड्यूटी तय करके मरीजों की देखभाल की जाए शिफ्ट वाइज ड्यूटी से चिकित्सकों तथा स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर भी एक साथ भार नहीं आएगा और वह भी अच्छे से अपना काम कर पाएेंगे।

100 डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की करें भर्ती

स्वास्थ्य विभाग में शुरू से ही चिकित्सकों की कमी है जिसके कारण कोरोना काल में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही है बैठक में राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने कमिश्नर को निर्देशित किया है कि स्वास्थ्य सेवाएं सुधारने के लिए तत्काल प्रभाव से 100 डाक्टरों तथा नर्सिंग स्टाफ की शीघ्र भर्ती की जाये। श्री राजपूत ने कहा कि यह नर्सों के लिए स्वर्णिम अवसर है वह अधिक से अधिक आवेदन कर नौकरी पाएं, ताकि लोगों की सेवा भी हो सके और उन्हें रोजगार भी मिल जाए।

डॉक्टरों की काउंसलिंग में शामिल होंगे मंत्री

राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने स्वास्थ्य विभाग में होने वाले नए डॉक्टरों की काउंसलिंग में शामिल होने की बात कही उन्होंने कहा कि अभी स्वास्थ्य विभाग में स्टाफ की कमी के कारण मरीजों को तथा स्वास्थ्य कर्मियों को भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है लेकिन जल्द ही स्वास्थ्य विभाग में 100 डाक्टरों तथा नर्सिंग स्टाफ की भर्ती की जाएगी, जिसमें उन्होंने कहा कि डॉक्टरों की काउंसलिंग में वह खुद शामिल होकर डॉक्टरों का उत्साहवर्धन करेंगें। स्वास्थ्य विभाग में स्टाफ की भर्ती होने के बाद बुंदेलखंड मेडीकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की बहुत सी समस्याएं कम हो जायेगी, जिसका लाभ मरीजों को मिलेगा।

समय पर मिले मरीजों को भोजन

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की आए दिन अव्यवस्थाएं अखबारों की सुर्खियां बनती है जिसमें मुख्य रूप से पिछले दिनों भोजन की कमी को लेकर खबरें चल रही थी बैठक में श्री राजपूत ने संभागायुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि अस्पतालों में मरीजों को समय पर भोजन मिलना सुनिश्चित करें, यह आपकी जिम्मेदारी है क्योंकि अगर मरीजों को समय पर भोजन नहीं मिला तो उन्हें स्वास्थ्य लाभ जल्द नहीं मिल सकता भोजन समय पर मिलना प्रमुखता से आप अपनी प्राथमिकी में दर्ज करें, आगे से समय पर भोजन न मिलने की बात सामने नहीं आनी चाहिए।

अंदर की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी

राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज पहुंचकर जायजा लिया तो कुछ परिजन पहुंचे जिन्होंने अंदर की व्यवस्थाओं को लेकर मंत्री से शिकायत की जिस पर राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने अधिकारियों से नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अंदर की व्यवस्थाएं जल्द ही दुरुस्त की जाए, मरीज व मरीजों के परिजन भीतर की व्यवस्थाओं से खुश नहीं है साथ ही उन्होंने हिदायत दी थी मरीजों व उनके परिजनों को पूरी जानकारी दी जाए क्योंकि अंदर की जानकारी ना मिलने से मरीज के परिजन परेशान रहते हैं। स्वास्थ्य विभाग अच्छा काम कर रहा है लेकिन मरीजों के परिजनों को जानकारी ना होने से परिजन परेशान होते हैं। जिससे स्वास्थ्य विभाग की छबि भी लोगों में अच्छी नहीं बन रही।

एक सप्ताह में चाहिए रिजल्ट

प्रदेश में अपने तेजतर्रार व्यक्तित्व के लिए जाने, जाने वाले राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने प्रशासनिक तथा स्वास्थ्य अधिकारियों को निरीक्षण के दौरान दो टूक शब्दों में कहा कि एक सप्ताह के भीतर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं में सुधार हो जाना चाहिए, इन्हीं समस्याओं को लेकर दोबारा बैठक नहीं लूंगा। उन्होंने मेडिकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर अधिकारियों से लगभग डेढ़ घंटे तक बातचीत की। अंत में उन्होंने कहा कि सरकार विभागों को हर संभव मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है।

पुलिस कर्मियों को बांटी पीपीई किट

राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने जिला अस्पताल में खोले जा रहे ऑक्सीजन प्लांट तथा बीएमसी के निरीक्षण के दौरान बीएमसी तथा जिला अस्पताल में सुरक्षा के लिए लगे पुलिस कर्मियों को भारतीय जनता पार्टी तथा स्वयं के व्यय से पीपीई किट का वितरण किया। इस अवसर पर श्री राजपूत ने पुलिस कर्मियों से कहा कि आपके उपर बहुत बड़ी समाज की जिम्मेदारी है, सतर्क रहे और अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। निरीक्षण के दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष गौरव सिरोठिया, नगर विधायक शैलेंद्र जैन, संभागायुक्त मुकेश शुक्ला, जिला कलेक्टर दीपक सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री अहिरवार, जिला सीईओ गढ़पाले, जिला अस्पताल के सिविल सर्जन तथा बीएमसी डीन सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी शामिल रहे।
 है।

BMC का किया निरीक्षण और बेठक ली

मन्त्री गोविंद सिंह राजपूत ने बीएमसी परिसर में नगर पालिक निगम द्वारा संचालित कोरोना हेल्प डेस्क का निरीक्षण किया एवं यहां आने वाली सूचनाओं एवं उनके निराकरण की जानकारी ली। साथ ही अधिकारीयों के साथ बैठक कर बीएमसी में स्थापित कोविड-19 हॉस्पिटल की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान बताया गया की कुल 750 बेडेड हॉस्पिटल है जिसमें से 500 बेड कोरोना हेतु आरक्षित है। जिनमे से आईसीयू के 64 बेड है, एचडीयू के 200 बेड, सारी के 236 बेड है। वर्तमान में 494 मरीज कोरोना के भर्ती है। 12-12 किलो लीटर के दो ऑक्सीजन टेंकर है दैनिक खपत 7 किलो लीटर की है जो की अब सुचारु रूप से पूर्ति की जा रही है। यहां 160  मेडिकल डॉक्टर्स है। जो की अलग-अलग तीन शिफ्टों में कार्यरत हैं। 150 नर्स स्टॉफ कार्यरत है। इसके अलावा 30 अप्रेल बाद यहां के 100 मेडिकल इंटर्न डॉक्टर्स को भी लगाया जायेगा।

मंत्री श्री राजपूत ने निर्देशित करते हुए कहा की फ़ाइनल ईयर मेडिकल स्टूडेंट्स को बताये की कोविड पेसेंट्स का इलाज ही आपकी असली परीक्षा है। ऐसे मौक़े सभी को नहीं मिलते यहाँ आप अपने को साबित कर सकते हैं।  इसके साथ ही बीएमसी में भर्ती कोविड मरीजों की हर पल की खबर बीएमसी के बाहर उनके परिजनों को मिलती रहे इसकी तत्काल व्यबस्था की जाये एवं कहा की बीएमसी में सफाई व्यवस्था एवं भोजन आपूर्ति हेतु अनुबंधित एजेंसी को सख्त निर्देश दें की सारी व्यवस्था दुरुस्त रखें अन्यथा एजेंसी को प्रदेश में ब्लेकलिस्टेड किया जायेगा।

इस अवसर पर विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया, संभागायुक्त श्री मुकेश शुक्ला, जिला कलेक्टर श्री दीपक सिंह, निगमायुक्त श्री आर पी अहिरवार, डॉ एस के पिप्पल मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बोद्ध सहित अन्य अधिकारी एवं डॉ आदि उपस्थित रहे ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive