गुरुवार, 7 अप्रैल 2022

आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की हड़ताल 32 वाँ दिन , 6 परियोजना अधिकारी व 7 सुपरवाइजर पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की हड़ताल  32 वाँ दिन , 6 परियोजना अधिकारी व  7 सुपरवाइजर पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

 सागर। आंगनबाडी कार्यकर्ताओं/सहायिकाओं की निरंतर 32 दिन से चल रही हडताल पर आज सभी कार्यकर्ता/सहायिकाओं ने एक सुर में जिले की 6 परियोजना अधिकारी, 7 सुपरवाइजरों पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए उन्हें हटाये जाने की मांग की। संघ की अध्यक्ष श्रीमती लीला शर्मा ने कहा कि हड़ताल की सफलता से बौखलाई जिले की 6 महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी व 7 सुपरवाइजर  आंगनबाडी कार्यकर्ताओं के घर जा जा कर उन्हें मानसिक प्रताड़ना के साथ सेवाएं समाप्त करने की धमकी दे रही है। जिनके खिलाफ आंगनबाडी कार्यकर्ताओं ने हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन तैयार कर राज्य सरकार को भेजने का निर्णय लिया है। श्रीमति शर्मा ने कहा सुपरवाइजर और परियोजना अधिकारी आंगनबाडी कार्यकर्ताओं से जबरन केन्द्र खुलवा रही है और पोषण आहार बटवाने का दवाव बना रही है ताकि पोषण आहार माफिया से कमीशन ले सके। आंदोलन के 32वें दिन आए समर्थन करने आए सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष विक्रम सोनी ने मांगों को जायज और महिलाओं के हित में बताते हुए एसोसिएशन की तरफ से समर्थन देने की घोषणा की। व


हीं दूसरे दिन फिर पहुंची महिला भाजपा मोर्चा नेत्री प्रतिभा चौबे ने कहा कि हमारे पार्टी के बरिष्ठ लोगों की चर्चा भोपाल में जारी है यथाशीघ्र आपकी हडताल को खुशखबरी मिलेगी। हडताल में शिवसेना उपराज्य प्रमुख पप्पू तिवारी, शिवसेना संगठन प्रमुख हेमराज आलू, विकास यादव, दीपक सिंह लोधी, सचिन जैन, चन्द्रवती लोधी, शिल्पी कोरी, निधि चौरसिया,  लक्ष्मी चौरसिया, कमला पटैल, जमना रैकवार, शांति ठाकुर, रूकमणि पटैल, कीर्ति पटैरिया, ज्योति, सीमा सैनी, माधुरी रोहिदास, रानू अहिरवार, परबीन खान, किरन अहिरवार, रागिनी खटीक, ऋतु खटीक, उर्मिला, गायत्री, निधि चौरसिया, देवयंती, भारती चढार, विमला साहू, जनकरानी, साधना जैन, सबीता यादव, संगीता रावत, लक्ष्मी सोनी, किरण प्यासी, ललिता कोरी, प्रमिला सेन, संध्या शर्मा, रमाबाई, उमा यादव, बबीता खटीक, ममीता दुबे, सुनीता कुर्मी, रानी लोधी, ममता यादव, परमसुखी, प्रतिभा चौहान, नेत्रा ठाकुर, मंजू सोनी, लक्ष्मी नामदेव, सविता गर्ग, संध्या नामदेव, संगीता साहू, उमा राय, सावित्री, वेवी, रूकमणी, हरिबाई, मीना जैन, अनीता चौबे, कविता कोरी, सकुन साहू, अकीला बानों, चांदनी, सुमन, लक्ष्मी, किरण प्यासी, आरती मिश्रा, अनीता चौवे, दयाबाई, बैजंती, सपना, दुलारी, सहित सैकडों की संख्या में कार्यकर्ता/सहायिका उपस्थित थी। 


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense