सोमवार, 4 अप्रैल 2022

MP : लोकायुक्त पुलिस ने रेंजर को 50 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा , ★ सब इंस्पेक्टर से मांगे थेट्रैक्टर ट्रॉली छोड़ने के एवज में दो लाख रुपये

MP : लोकायुक्त पुलिस ने रेंजर को 50 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा , 
★ सब इंस्पेक्टर से मांगे थेट्रैक्टर ट्रॉली छोड़ने के एवज में  दो लाख रुपये


शहडोल:  लोकायुक्त पुलिस रीवा ने शहडोल जिले के जयसिंह नगर में आज वन परिक्षेत्र जयसिंहनगर के रेंजर महेंद्र यादव को 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है।  लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल सिंह धाकड़ ने बताया कि रेंजर अवैध रेत परिवहन में जब्त किए गए एक ट्रैक्टर को छोड़ने के लिए पचास हजार से दो लाख रुपये तक रिश्वत मांग रहा था। शिकायत पर टीम कार्रवाई करने गई और प्रमाणित पाया कि रेंजर रिश्वत मांग रहा था। एसपी ने बताया कि कृष्णकांत तिवारी निवासी, ग्राम ठैगहरा तहसील जयसिंहनगर ने इस मामले की शिकायत किया था। शिकायतकर्ता पुलिस विभाग में उपनिरीक्षक है और खेती का काम भी करते हैं। ट्रैक्टर ट्रॉली छुड़ाने के नाम पर डेढ़ से 2 लाख रुपए की मांग की थी। 






शिकायतकर्ता कृष्ण कुमार तिवारी के परिचित अरविंद सिंह परिहार अपने और अपने परिचित कृष्ण कुमार तिवारी के ट्रैक्टर ट्रॉली को लेकर 6 अक्टूबर 2021 को ग्राम ठेगहरा में अपने खेत से घर की छपाई के लिए मिट्टी लेने गया था। इस दौरान वन परिक्षेत्र जयसिंहनगर के वन विभाग के कर्मचारियों द्वारा दोनों ट्रैक्टर ट्रॉली को यह कहते हुए पकड़ लिया कि तुम रेत लेने गए थे। जिसके बाद ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त कर लिया और इन ट्रैक्टरों को छोड़ने के लिए वन परिक्षेत्र जयसिंह नगर के रेंजर महेंद्र यादव ने प्रति ट्रैक्टर 50- 50 हजार रुपए की रिश्वत के रूप में मांग की।बाद में रिश्वत की रकम 2 लाख कर दी ।जब शिकायतकर्ता ने पैसे नहीं दिए तो दोनों ट्रैक्टरों के खिलाफ रेत चोरी का केस बना दिया गया। जब शिकायतकर्ता ने रेंजर से बात की तो उसने कहा कि अब 50-60 हजार से कुछ नहीं होगा, अब तो डेड़ 2 लाख रुपए देने पड़ेंगे।



 तभी तुम्हारा ट्रैक्टर छूट सकेगा। शिकायत का सत्यापन लोकायुक्त रीवा एसपी गोपाल सिंह धाकड़ द्वारा की गई। जिसमें रिश्वत की मांग किया जाना प्रमाणित पाया जाने पर आज लोकायुक्त संभाग रीवा की टीम ने वन परिक्षेत्र जयसिंहनगर पहुंचकर प्रकरण में कार्रवाई की। जिसमें रेंजर महेंद्र सिंह यादव को पकड़कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है। वहीं ट्रैपकर्ता अधिकारी निरीक्षक प्रमेंद्र कुमार, ट्रेप दल के सदस्य निरीक्षक प्रमेंद्र कुमार, निरीक्षक जिया उल हक, उप निरीक्षक आकांक्षा पांडे और 15 सदस्यीय टीम इस कार्रवाई में शामिल हुई।





0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense