शुक्रवार, 13 दिसंबर 2019

मादक पदार्थो की रोकथाम को लेकर पुलिस की एक दिनी कार्यशाला

मादक पदार्थो की रोकथाम को लेकर  पुलिस की एक दिनी कार्यशाला
सागर।  पुलिस कट्रोल रूम सागर में राष्ट्रीय सामाजिक रक्षासंस्थान एनआईएसडी और जवाहर लाल नेहरू पुलिस अकादमी के तत्वाधान में सागर पुलिस द्वारा मादक पदार्थों के दुर्व्यसन कीरोकथाम पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका शुभारम पुलिस महानिरीक्षक  सतीश सक्सेना एवं पुलिस अधीक्षक आमित साधी द्वारा किया गया।
इस कार्यक्रम में कई विशिष्ट व्यक्तियों द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें डॉ0 नरेन्द्र शाक्य
डॉ० मनीष जैन (एमडी मेडीसिन एसोसिएट प्रोफेसर बीएमसी सागर),  अनुप दुबे एव अन्य
सदस्य (एल्कोहोलिक एनोनिमस सस्था भोपाल) श्रीमति दीपाली शर्मा मान० विशेष न्यायधीश
एनडीपीएस एव डॉ० राजीव जैनमनोचिकित्सक शामिल हुये। इसी के साथ कार्यक्रम मेंप्रशिक्षित पुलिस अधिकारी निरीक्षक  प्रशात सेन एवं उनि श्रीमति बबीता चौधरी द्वारा भीप्रशिक्षण दिया गया।
इस कार्यशाला में जिले में पदस्थ प्रो० उप पुलिस अधीक्षक, पीएसआई एवं अन्य पुलिस
अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे ।जिन्हें मादक पदार्थो के दुव्र्यसन की रोकथाम से संबंधित
विषयों पर प्रशिक्षण दिया गया साथ ही इस विषय पर डीव्हीडी प्रदाय की गई।
डॉ० मनीष जैन द्वारा अंग्स एवं उनके प्रकार जैसे प्राकृतिक अर्ध कृत्रिम एव कृत्रिम ड्रग्स
एव उनके लक्षणों व दुव्र्यसन के बारे में विस्तार से बताया गया।श्रीमति दीपाली शर्मा विशेष न्यायधीश एनडीपीएस द्वारा एनडीपीएस की कार्यवाही पुलिस किस प्रकार सशक्त कर सकती है। एवं इस अधिनियम की मुख्य धाराओं
से अवगत कराया गया।
भोपाल की एल्कोहोलिक एनोनिमस सस्था द्वारा अपने अनुभव एव किस प्रकार नशीले
पदार्थों के सेवन से निजात पाया जाये एव किस प्रकार यह सस्था सहायता करती है बताया
गया।मनोचिकित्सक डॉ० राजीव जैन ने भी मादक पदार्थों के सेवन से ग्रसित व्यक्ति के
व्यवहार उसका सामाजिक आचरण एवं नग के उपयोग, अपराध व रोजगार के तुलनात्मक
अध्ययन पर प्रकाश डाला। थाना प्रभारी  प्रशांत सेन एवं उनि श्रीमति बबीता चौधरी द्वारा तनाव के कारण किस प्रकार तनाव से दूर रहा जाये के उपाय बताये।
एसपी अमित सांघी ने  मीडिया को बताया कि मादक पदार्थो के दुर्व्यसन की रोकथाम के लिए जिले के 60 पुलिस इंस्पेक्टर और अधिकारी गणों ने प्रशिक्षण लिया है । यह प्रशिक्षण अपने अपने क्षेत्रों में कार्य करने में कारगर साबित होगा। इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा।
इस कार्यक्रम के समन्वयक अतिरिक्त  पलिस अधीक्षक  बीना  विजर्म सिंह एवं अति
पुलिस अधीक्षक सागर  राजेश व्यास रहे।
समापन पुलिस अधीक्षक सागर अमित साधी द्वारा किया गया । 

1 comments:


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive