मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

सिटी हैरिटेज वॉक /प्लॉग रन का आयोजन,कलेक्टर-एसपी ने उठाया कचरा

सिटी हैरिटेज वॉक /प्लॉग रन का आयोजन,कलेक्टर-एसपी ने उठाया कचरा
सागर ।जिला पर्यटन संवर्धन समिति, जिला प्रषासन एवं इंटेक  के संयुक्त तत्वाधान में डफरिन अस्पताल के सामने अब्दुल गनी पार्क से चकराघाट तक हैरिटेज वाक का आयोजन मंगलवार को किया गया। वॉक का उद्देष्य शहर के प्रमुख ऐतिहासिक, धार्मिक, प्राकृतिक एवं सामुयिक स्थलों से परिचय करवाना था। प्रति सप्ताह हैरिटेज वॉक का आयोजन किया जायेगा।
कमिष्नर  आनंद कुमार शर्मा और वरिष्ठ समाजसेवी श्रीमती मीनाताई पिंपलापुरे ने हरी झण्डी दिखाकर हैरिटेज वॉक को रवाना किया। इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक, पुलिस अधीक्षक  अमित सांघी, नगर निगम कमिष्नर श्री आरपी अहिरवार, स्मार्ट सिटी सीईओ  राहुल सिंह राजपूत, डिप्टी कलेक्टर सुश्री अमृता गर्ग, जिला कार्यक्रम अधिकारी  भरत सिंह राजपूत, इंटेक संस्था की ओर से अंजली भृतहरि,  रजनीष जैन, डा. मनीष झा, कर्नल मुनीष गुप्ता,  प्रफुल्ल हल्वे,  अतुल जैन, डा. चौहान, एनसीसी केडिट, छात्र-छात्राओं सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और नागरिकगण मौजूद थे।
हैरिटेज वॉक ने पुरानी डफरिन अस्पताल का भ्रमण किया और अस्पताल की साफ-सफाई की। वहां फैले हुए कचरे को काली प्लास्टिक में एकत्रित कर स्वच्छ तरीके से कचरे का निपटारा किया। यहां इंटेक की अंजली भृतहरि ने बताया कि 1800 ईषवी के आसपास अंग्रेजांे द्वारा अस्पताल का निर्माण जन सहयोग से किया गया था। इसका उदघाटन लेडी डफरिन ने किया था। बाद में उनके नाम पर ही अस्पताल चला। डफरिन अस्पताल के भ्रमण के बाद हैरिटेज वॉक धीरे-धीरे सड़क की दोनों किनारों की सफाई करते हुए चकराघाट पर समाप्त हुई।      कलेक्टर और एसपी ने स्वयं कचरा उठाकर दिया स्वच्छता संदेश
इस  दौरान रास्ते मेंं  कलेक्टर  प्रीति मैथिल नायक और पुलिस अधीक्षक  अमित सांघी ने स्वयं अपने हाथों से कई स्थानांे पर कचरा एकत्रित कर स्वच्छता के प्रति जागरूकता रहने का संदेष दिया यदि सागर शहर को साफ-स्वच्छ रखना है तो स्वच्छता के कार्य में हर एक नागरिक को हाथ बंटाना होगा। साफ-सफाई में नागरिकों को सहयोग करना होगा। कलेक्टर और एसपी के साथ अन्य वरिष्ठ अधिकारियों और गणमान्य नागरिकों ने भी कचरा उठाया और साफ-सफाई की। एक स्थान पर एक पान दुकानदार द्वारा कचरा नाली में डाला जा रहा था। उसे कलेक्टर ने समझाईष दी कि नालियांें में कचरा नहीं डालें। कचरा डस्टबिन का उपयोग करें। श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने नगर निगम आयुक्त को निर्देष दिए कि चकराघाट में आवारा पषुओं का प्रवेष न हो इसके लिए प्रवेष स्थान पर ऐसी रैलिंग लगाए जिससे नागरिक आ सके परंतु आवारा पषु न आ पाएं।
चकराघाट पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से बताया साफ-सफाई का महत्व
हैरिटेज वॉक का समापन चकराघाट पर हुआ यंहा रंग थियेटरपुरम सागर के सदस्यों द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम साफ-सफाई का महत्व बताया गया। नुक्कड़ नाटक में बताया गया कि यदि सब्जी देने वाले को सब्जी वाला, दूध देने वाले को दूधवाला तो कचरा करने वाले को कचरावाला कहा जाए। कचरा कौन करता है आप और हम। तो कचरा वाला कौन होगा आप और हम। अभी हो यह रहा है कि जो सफाई करता है उसे कचरा वाला कहा जाता है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive