दानवीर , सागर विवि के संस्थापक डॉ हरि सिंह गौर की जयंती,26 नवम्बर ।

बुधवार, 10 नवंबर 2021

भोपाल के अस्पताल में आगजनी की घटना के बाद जिला चिकित्सालय का किया निरीक्षण विधायक शेलेन्द्र जैन ने

भोपाल के अस्पताल में आगजनी की घटना के बाद जिला चिकित्सालय का किया निरीक्षण विधायक शेलेन्द्र जैन ने 

सागर। विधायक शैलेंद्र जैन ने भोपाल के आगजनी की घटना के बाद जिला चिकित्सालय सागर का औचक निरीक्षण किया और बारीकी से सभी एंगल से तैयारियों का जायजा लिया उन्होंने एसएनसीयू वार्ड, पीआईसीयू वार्ड, नवीन आई सी यू वार्ड का निरीक्षण किया। उन्होंने प्राथमिक रूप से प्रथम क्लास  विशेषज्ञ इंजीनियरों द्वारा जिला चिकित्सालय की पूरी इलेक्ट्रिक लाइन का परीक्षण कराने के निर्देश दिए ताकि ऐसी कोई भी संभावना ना रहे इसमें शॉर्ट सर्किट का अंदेशा हो और उसके कारण कहीं भी इलेक्ट्रिक फॉल्ट हो सके, उन्होंने कहा कि हम जिला चिकित्सालय की ड्रेनेज व्यवस्था को सुधारने के लिए स्मार्ट सिटी के माध्यम से उसका कार्य करा रहे हैं जिला चिकित्सालय में लगे एयर कंडीशनर को भी निरंतर चालू रखने के निर्देश दिए और उनका एनुअल मेंटिनेस कांट्रैक्ट तैयार करने के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि जिला चिकित्सालय तक कोई भी एयर कंडीशनर बंद मिलता है तो 24 घंटे के अंदर चालू किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारा नवीन आईसीयू और पीआईसीयू भी बनकर तैयार है यह किसी भी सर्व सुविधा युक्त निजी अस्पताल के आईसीयू से कमतर नहीं है इनमें जो भी कमियां हैं पीडब्ल्यूडी विभाग को निर्देशित कर दिया गया उसे जल्द से जल्द पूर्ण किया जाएगा।
इसके पूर्व में उन्होंने जिला चिकित्सालय पहुंचकर सर्वप्रथम कैजुअल्टी वार्ड को अपडेट करने के लिए निर्देषित किया, इसके बाद कोरॉना मरीजों के लिए आरक्षित 19 बिस्तरीय आई सी यू वार्ड एवं नवीन 20 बिस्तरिय आई सी यू वार्ड का भी निरीक्षण किया और भविष्य में कोविड की तैयारियों की समीक्षा की।
उन्होंने अस्पताल के ओपीडी एवं ब्लड बैंक में टेलीफोन सुविधा सुचारू रूप से चालू करने के निर्देश दिए ताकि लोगो को किसी प्रकार की असुविधा न हो। उन्होंने निरीक्षण के दौरान पाया कि अस्पताल की छत से सीमेंट गिर गई है और सरिया बाहर निकल आया है उसका भी मेंटेनेंस करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।
    वार्ड क्रमांक 1 के बाजू में रिक्त पड़े स्थान पर अस्पताल के बेकार पड़े सामान को हटाने के निर्देश देते हुए उस जगह को लोगों को बैठने योग्य बना कर कहां पर बेंच लगाने के निर्देश दिए, वार्डों के बाहर डिस्प्ले बोर्ड लगाने को लेकर भी चर्चा की गई जिसमें मरीजों के नाम लिखे जाए ताकि आने वाले अटेंडर की जानकारी लग सके कि हमारा मरीज किस पलंग पर भर्ती है। इसके अतिरक्त एस एन सी यू वार्ड में पहुंचकर वहां पर एंट्री एग्जिट के द्वार देखे फायर इक्विपमेंट की जानकारी ली।इस दौरान विधायक जैन के साथ सिविल सर्जन डॉ ज्योति चौहान, डॉ डी के गोस्वामी, डॉ योगेन्द्र खटीक, डॉ अभिषेक ठाकुर, डॉ आशीष जैन, उपस्थित रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive