बुधवार, 30 मार्च 2022

SAGAR : स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं एचएमआईएस,अनमोल पोर्टल कीसमीक्षा , कमियां मिली, नोटिस होंगे जारी

SAGAR :  स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं एचएमआईएस,अनमोल पोर्टल की
समीक्षा , कमियां मिली, नोटिस होंगे जारी

सागर । मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध द्वारा सीएमएचओ कार्यालय में समस्त कार्यक्रम अधिकारी, खण्ड चिकित्सा अधिकारी शहरी क्षेत्र प्रभारी सहित अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में समीक्षा की गई।
समीक्षा बैठक में सीएमएचओ ने कहा कि आशा कार्यकर्ता द्वारा सभी एएनसी का प्रथम तिमाही रजिस्ट्रेशन अनिवार्य रूप से दस्तावेज सहित एएनएम द्वारा कराया जावे । प्रत्येक एएनसी का रिकार्ड संघारित किया जावे । सभी आशा कार्यकर्ता एएनसी / पीएनसी के भुगतान के संबंध में क्षेत्र के हितग्राहियों से संपर्क कर राशि पहुँचने की पुष्टि करेंगी ।

समस्त खण्ड चिकित्सा अधिकारी अपने-अपने ब्लॉक की पीपीटी लेकर आयेंगे एवं आगामी संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में स्वयं प्रस्तुत करेगे। बीपीएम मालथौन अनुपस्थित एवं कार्यक्रम की समीक्षा में अनमोल पोर्टल में गंभीरता से कार्य न करना, अपने दायित्वों का निर्वहन न करने के कारण इस संबंध में कारण बताओ नोटिस जारी किया जावेगा । जन्मे खून की कमी होने हेतु ऑयरन सुक्रोज इंजेक्शन लगाये जाने के संबंध में पोर्टल पर समीक्षा करने पर पाया गया कि ब्लॉक केसली में डाटा अधिक प्रदर्शित हो रहा है। बीपीएम को निर्देशित किया गया कि अनमोल पोर्टल पर सूक्षमता से समीक्षा की जावे । देवरी बीएमओ को निर्देशित किया गया कि वह अनमोल एवं एचएमआईएस की समीक्षा कर दो दिवस में सुधार करें। इस हेतु बीसीएम, बीपीएम, डीईओ को आदेशित कर समय सीमा में कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिये। समस्त प्राईवेट नर्सिग होमों को पत्र के माध्यम से प्रसव की जानकारी मॉगी जावेगी । सभी बीएमओ एवं शहरी क्षेत्र प्रभारी जानकारी प्राप्त कर अनमोल पोर्टल में डाटा सुधार करने की कार्यवाही करें। एचएमआईएस एवं अनमोल पोर्टल पर प्रसव एवं जन्म की प्रत्येक एएनएमवार जानकारी सही-सही भरी जावे एवं जो अंतर है समस्त खण्ड चिकित्सा अधिकारी ब्लॉक स्तर पर सभी को बुलाकर समीक्षा कर अनिवार्य रूप से डाटा का मिलान किया जावे । एक अप्रेल को बीपीएम, बीसीएम, बीएएम स्थानीय कार्यालय में उपस्थित होकर एचएमआईएस / अनमोल पोर्टल पर प्रविष्टि कर डाटा सुधार हेतु निर्देशित किया गया । बीना में अनमोल पर प्रसव का डाटा अधिक प्रदर्शित होने की समीक्षा की जावे।

डॉ अखलेश पटेल एसएमओ (डब्ल्यूएचओ) एवं डॉ एस.आर.रोश जिला टीकाकरण अधिकारी द्वारा बताया कि सघन मिशन इन्द्रधुनष 4 अप्रेल से द्वितीय चरण प्रारंभ हो रहा है हेड काउण्ट सर्वे पश्चात डयू लिस्ट बनाकर टीकारण दल को लॉजिस्टिक के साथ प्रदान करें। प्रत्येक ब्लॉक में एक मोबाईल टीम अनिवार्य रूप से बनाई जावे, जो दूर-दराज क्षेत्र में कार्य कर सके तथा एक एएनएम को रिजर्व रखा जावे । सपोटिंग सुपरवीजन एप के माध्यम से सुपरवाईजर को अनिवार्य रूप से लिखित में निर्देशित किया जावे। चूँकि डब्ल्यू.एच.ओ. सुपरवाईजर भी सुपरवीजन कार्य देखने के कारण वह अपनी जानकारी भोपाल प्रेषित करते है। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जावे। राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम जो से 24 अप्रेल तक चलाया जा रहा है। इसमें आईसी मटेरियल एवं गतिविधि आयोजित की जाना है एसटीएस के माध्यम से रिपोर्टिग की जावे। सीएचओ को इसमे जोड़ा जावे। सोशल मीडिया पर प्रचार-प्रसार किया जावे। 80 प्रतिशत से कम उपलब्धि वाले ब्लॉाकों को कारण बताओ नोटिस जारी किये जाएं। सागर, खुरई एवं मालथौन की उपलब्धि संतोषजनक रही ।

181 सीएम हेल्प लाईन की शिकायतों के संबंध में डॉ.एम.एल.जैन जिला नोडल अधिकारी ने बताया कि रहली, शाहपुर, बण्डा, देवरी एवं गढ़ाकोटा की शिकातयों का खण्ड चिकित्सा अधिकारी टीम के साथ संतुष्टिपूर्ण निराकरण कराने के निर्देश दिए गए। जो कार्यकर्ता जबावदेही में लापरवाही बरतते है उनके विरूद्ध कार्यवाही की जावे।
उपरोक्त सभी राष्ट्रीय कार्यक्रमों की समीक्षा बीपीएम, बीसीएम, बीएएम, बीईई, सुपरवाईजर, एएनएम एवं डीईओ की उपस्थिति में समस्त खण्ड चिकित्सा अधिकारी एवं शहरी क्षेत्र प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में बैठक आयोजित कर कमियों को दूर करते हुए जिले की छवि में सुधार करने के प्रयास किये जावे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense