हर हर तिरंगा

रविवार, 31 जुलाई 2022

साप्ताहिक राशिफल : 1 अगस्त से 8 अगस्त तक★ जाने आने वाले समय मे किन ग्रहों की बदलेगी चाल★ पण्डित अनिल पांडेय

साप्ताहिक राशिफल : 1 अगस्त से 8 अगस्त तक

★ जाने आने वाले समय मे किन ग्रहों की बदलेगी चाल

★ पण्डित अनिल पांडेय




जय श्री राम
भाग्य की गति कोई नहीं जानता है । जब तक भाग्य आपका अच्छा है तब तक आप राजा हैं । भाग्य के खराब होते ही आप करोड़पति से रोडपति हो जाते हैं  । एक कवि ने कहा है :-
"भाग्य की गति रूग्ण होती, काल से कालान्तर।
कौन  जाने  कब  कहाँ, ले  जाए  वो  देशान्तर।"
आपके इस सप्ताह के भाग्य के संबंध में बताने के लिए मैं पंडित अनिल कुमार पाण्डेय आपके सामने प्रस्तुत हूं । आप सभी को मेरा नमस्कार।
इस सप्ताह चंद्रमा प्रारंभ में सिंह राशि का रहेगा उसके उपरांत कन्या और तुला से होता हुआ 6 तारीख को 8:32 से दिन में वृश्चिक राशि का हो जाएगा । पूरे सप्ताह सूर्य कर्क राशि में मंगल मेष राशि में , बुध सिंह राशि में , गुरु वक्री होकर मीन राशि में  , शनि वक्री होकर मकर राशि में ,  तथा राहु वक्री होकर मेष राशि में रहेगा । शुक्र प्रारंभ में मिथुन राशि में रहेगा तथा 6 अगस्त को  5:44 रात अंत से कर्क राशि का हो जाएगा। अब हम राशि साप्ताहिक राशिफल के बारे में बातचीत करते हैं।

★ मंत्री भूपेंद्र सिंह, गोविंद सिंह और हरवंश राठौर के बीच

मेष राशि
आपका स्वास्थ्य जो थोड़ा खराब चल रहा था इस सप्ताह ठीक रहेगा । बहनों से आपका संबंध उत्तम रहेगा । जनता में आपके प्रसिद्धि बढ़ेगी ।आपको अपनी संतान से सहयोग प्राप्त होगा । भाग्य आपका सामान्य है । कार्यालय में कष्ट हो सकता है ।   छोटी मोटी दुर्घटना हो सकती है । इस सप्ताह आपके लिए 4 और 5 तारीख किसी भी कार्य के लिए उपयुक्त है । 2 और 3 तथा छह और 7 तारीख को  आपको कोई भी कार्य पूरी सावधानी से करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह अपने जीवन साथी के उत्तम स्वास्थ्य के लिए काले कुत्ते को रोटी खिलाएं। सप्ताह का शुभ दिन बृहस्पतिवार है।

वृष राशि
इस सप्ताह आपको न्यायालय के कार्यों में सफलता मिलने के उत्तम योग हैं । भाग्य से आपको कम सहयोग प्राप्त होगा । धन आने का उत्तम योग है । लोगों में आप लोकप्रिय होंगे । माताजी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । कार्यालय में आपको सफलताएं मिलेंगी । इस सप्ताह आपके लिए 1 तारीख उत्तम फलदायक है। छे और 7 तारीख को आपकी कुंडली के गोचर में नीच भंग राज योग बन रहा है । जिसके कारण अगर आप का विवाह नहीं हुआ है तो उसमें आपको सफलता मिल सकती है । प्रेम संबंधों में दृढ़ता आएगी  । 4 और 5 तारीख को आपको सावधान रहना चाहिए । इस सप्ताह आपको चाहिए कि आप  अपने भाग्य को ठीक करने के लिए शनिवार को शनि मंदिर में जाकर पूजा पाठ करें । यह कार्य आपको हर शनिवार को दिसंबर तक करना है। सप्ताह का शुभ दिन शनिवार है।


मिथुन राशि
नये संबंध बन सकते हैं । पुराने संबंधों में भी दृढ़ता आएगी । धन प्राप्ति का योग है । परंतु धन प्राप्ति में बाधा भी है । आपका अपने संतान के साथ संबंध में थोड़ी गिरावट आएगी । व्यापार ठीक चलेगा । भाग्य से आपको सफलता भी मिलेगी । इस सप्ताह आपके लिए 2 और 3 तारीख उत्तम और फलदायक है । 6 और 7 तारीख को आपको कुछ कार्यों में विशेष रूप से सफलता मिल सकती है। आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह राहु की शांति का उपाय करवाएं । सप्ताह का शुभ दिन बुधवार है।

कर्क राशि
आपकी कुंडली के गोचर में इस सप्ताह सूर्य लग्न में विद्यमान है । जिसके कारण आपके प्रभामंडल में वृद्धि होगी । कचहरी के कार्यों में सफलता प्राप्त होगी । कार्यालय में आपको सम्मान प्राप्त होगा । भाग्य से थोड़ा कम मिलेगा । आपके जीवनसाथी को कष्ट हो सकता है । आपके पिताजी को कष्ट हो सकता है । इस सप्ताह आपके लिए 4 और 5 तारीख उत्तम एवं लाभप्रद हैं । 6 और 7 को आपके संतान को सफलता मिल सकती है । इस सप्ताह आपको चाहिए कि आप भगवान शिव का अभिषेक करवाएं । सप्ताह का शुभ दिन बृहस्पतिवार है ।


सिंह राशि
इस सप्ताह आपको व्यापार में सफलता मिलने की पूरी उम्मीद है । न्यायालय के कार्यों में आपको सफलता मिलेगी । धन प्राप्ति हो सकती है । खर्च भी इस सप्ताह कुछ ज्यादा होगा । नए शत्रु बनेंगे । भाई और बहनों से असहयोग प्राप्त हो सकता है । इस सप्ताह आपके लिए 1 अगस्त सफलता दायक है । 6 और 7 अगस्त को आप अपने सुख हेतु कोई नई सामग्री खरीद सकते हैं । 6 और 7 अगस्त को आपके सुख में वृद्धि होगी । आपको चाहिए कि अपने भाग्य को अच्छा करने के लिए  इस सप्ताह  राहु की शांति का उपाय करवाएं ।इस सप्ताह आपके लिए सोमवार का दिन उत्तम है।


कन्या राशि
इस सप्ताह आपकी अपने कार्यालय में प्रतिष्ठा बढ़ेगी । उत्तम धन की प्राप्ति होगी । छोटी मोटी दुर्घटना का योग है । भाइयों से संबंध उत्तम होगा । व्यापारिक मुकदमों में आपको विजय मिल सकती है । इस सप्ताह आपके लिए 2 और 3 अगस्त फलदायक है । 1 अगस्त को आपको सावधानी पूर्वक कार्य करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह गुरुवार को व्रत रखें और रामचंद्र जी या भगवान कृष्ण के मंदिर में जा कर पूजा अर्चना करें । सप्ताह का शुभ दिन बुधवार है।

तुला राशि
इस सप्ताह आपको कार्यालय में अद्भुत सफलताएं मिलेंगी । धन आने का   योग है । व्यापार में वृद्धि होगी । भाग्य साथ देगा । माताजी को कष्ट हो सकता है । शत्रु आप को पीड़ा पहुंचा सकते हैं । जीवनसाथी को कष्ट हो सकता है । इस सप्ताह आपके लिए 4 और 5 अगस्त उत्तम फल देने वाले हैं । 2 और 3 अगस्त को आपको सावधान रहना चाहिए । 6 और 7 अगस्त को आपके पास धन आने का उत्तम योग है । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह अपने कष्टों को दूर करने के लिए गणेश अथर्वशीर्ष का पूरे सप्ताह पाठ स्वयं करें या किसी  विद्वान ब्राम्हण से  करवाएं  ।  सप्ताह का शुभ दिन शुक्रवार है।


वृश्चिक राशि
आपका स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । भाग्य से आपको  मदद मिलेंगे । व्यापार में वृद्धि का योग है । संतान को कष्ट हो सकता है । भाई और बहनों से संबंध खराब होंगे । उनका सहयोग इस सप्ताह आपको प्राप्त नहीं होगा । शत्रु परास्त होंगे । जीवनसाथी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । इस सप्ताह आपके लिए 1 अगस्त सफलता का दिन है । 6 और 7 अगस्त को आपको व्यक्तिगत सफलताएं मिल सकती हैं । 4 और 5 अगस्त को आपको संभल कर कार्य करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह अपनी संतान  के  लिए राम रक्षा स्त्रोत का प्रतिदिन पाठ करें । सप्ताह का शुभ दिन रविवार है।

धनु राशि
अविवाहित जातकों के विवाह के उत्तम प्रस्ताव आएंगे । प्रेम संबंधों में सफलता मिलेगी । संतान से सहयोग प्राप्त होगा । भाग्य आपका साथ देगा । कार्यालय में सफलता प्राप्त होगी । धन प्राप्त हो सकता है। इस सप्ताह आपके लिए 2 और 3 अगस्त लाभकारी हैं । 6 और 7 अगस्त को आपको सफलताएं मिल सकती हैं, विशेषकर न्यायालय के कार्य में ।  इस सप्ताह आपको चाहिए कि आप प्रतिदिन विष्णु सहस्त्रनाम का जाप करें । सप्ताह का शुभ दिन मंगलवार है।

मकर राशि
इस सप्ताह आपकी सभी शत्रु आप से परास्त हो सकते हैं । दुर्घटना होने की कोई भी आशंका नहीं है ।  स्वास्थ्य में खराबी आ सकती है । भाई बहनों से संबंध में तनाव आ सकता है । पिताजी का स्वास्थ्य खराब हो सकता है । शत्रुओं को आप परास्त कर सकते हैं । इस सप्ताह आपके लिए 4 और 5 अगस्त उत्तम हैं । 1 अगस्त को आपको कोई भी कार्य सावधानीपूर्वक करना चाहिए । 6 और 7 अगस्त को धन आने का योग है । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह अपने कष्टों को दूर करने के लिए रुद्राष्टक का पाठ करें एवं रुद्राभिषेक कराएं । सप्ताह का शुभ दिन शुक्रवार है।

कुंभ राशि
इस सप्ताह आपके संतान को उन्नति प्राप्त हो सकती है । उनको अपने कार्यों में सफलता प्राप्त होगी । आपका व्यापार अत्यंत उत्तम चलेगा । व्यापार में लाभ प्राप्त होगा । भाइयों से संबंध ठीक रहेगा । न्यायालयीन कार्यों में इस सप्ताह में न फंसे । इस सप्ताह आपके लिए 1 अगस्त हितवर्धक है । 6 और 7 अगस्त को आपको अपने कार्यालय में और शासकीय कार्यों में सफलता मिलेगी । 2 और 3 अगस्त को आपको कुछ कार्यों में असफलता मिल सकती है । अतः आपको 2 और 3 अगस्त को सावधानी पूर्वक कार्य करना चाहिए । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह  गौ माता को हरा चारा खिलाएं । सप्ताह का शुभ दिन शनिवार है।

मीन राशि
इस सप्ताह आपके जीवन साथी का स्वास्थ्य ठीक रहेगा । गलत और सही दोनों रास्तों से धन आने का योग है । आपके संतान को सफलताएं प्राप्त होगी । माताजी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । जनता में आपकी लोकप्रियता में वृद्धि होगी । इस सप्ताह आपके लिए दो और तीन अगस्त लाभदायक है । 1 अगस्त तथा 4 और 5 अगस्त को आपको  सतर्कता पूर्वक कार्य करना चाहिए । 6 और 7 अगस्त को भाग्य आपका विशेष रूप से साथ दे सकता है । आपको चाहिए कि आप इस सप्ताह दक्षिण मुखी हनुमान जी के मंदिर में  शनिवार को  जाकर कम से कम 3 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें । यह कार्य आपको पूरे वर्ष भर करना चाहिए । सप्ताह का शुभ दिन  मंगलवार है ।

साथियों आपको इस बात की जानकारी मिल चुकी होगी  की आसरा ज्योतिष चैनल ने आज से करीब डेढ़ वर्ष पहले महाराष्ट्र के सरकार के 11 जुलाई 2022 को सत्ता परिवर्तन की भविष्यवाणी की थी । आज यह सही साबित हो रही है । आप सभी से अनुरोध है कि आप यूट्यूब पर आसरा ज्योतिष चैनल को सब्सक्राइब करें और इसी तरह के भविष्यफल को प्राप्त करते रहें।

जाने आने वाले समय मे किन ग्रहों का होगा बदलाव, 

प्राचीन वैदिक शास्त्र के अनुसार सूर्य चंद्र मंगल बुध बृहस्पति शुक्र और शनि यह 7 ग्रह माने गए हैं राहु और केतु छाया ग्रह है । बुध ग्रह सूर्य का एक चक्कर  88 दिन में करते हैं । एक राशि में यह सामान्यतया 21 दिन रहते हैं। अगर वे किसी राशि में 21 दिन से ज्यादा रहते हैं तो उनको अतिचारी कहा जाता है। इस बार कन्या राशि में बुध अतिचारी रहेगा ।
बुध एक अत्यंत शांत ग्रह है। यह मिथुन राशि और कन्या राशि का स्वामी होता है । भ्रमण काल के दौरान जब बुध कन्या राशि में आता है उच्च का कहा जाता है  । कन्या राशि 16 से 20 अंश तक यह मूल त्रिकोण में माना जाता है । बुध मिश्रित स्वभाव का ग्रह है। पापी ग्रह  के साथ होने पर यह पापी हो जाता है । इसे हरा रंग का माना जाता है ‌।  
इस वर्ष  लाला रामस्वरूप पंचांग के अनुसार 20 अगस्त के रात के 2:17 से बुध का कन्या राशि में प्रवेश हो रहा है । इसी प्रकार पुष्पांजलि पंचांग के अनुसार 20 अगस्त को ही 2:15 रात से कन्या राशि में बुध का प्रवेश होगा । भुवन विजय पंचांग के अनुसार 21 अगस्त को 53 घटी 58 पल पर बुद्ध कन्या राशि में प्रवेश कर रहे हैं। यहां पर 20 अगस्त की रात का आशय 20 और 21 अगस्त के बीच की  रात्रि से है।
कोई भी राशि जब उच्च की होती है तो उसकी शक्तियों में भारी वृद्धि हो जाती है । इस प्रकार 21 अगस्त  के बाद से बुद्ध की शक्तियों में भारी वृद्धि होगी। लाला रामस्वरूप पंचांग के अनुसार बुध कन्या राशि में दिनांक 21 अगस्त से 1 अक्टूबर 2022 के 5 : 56 रात तक सिंह राशि में रहेंगे ।उसके उपरांत पुनः 2 तारीख को ही 5:11 रात अंत से कन्या में प्रवेश करेंगे  और अंतिम रूप से 26 अक्टूबर को 1:48 दिन से तुला राशि में गोचर करेंगे । इस प्रकार 65 दिन बुध उच्च की होकर कन्या राशि में रहेंगे ।
कन्या राशि में रहने के दौरान बुद्ध 10 सितंबर के 7:18 रात्रि से वक्री हो जाएंगे तथा 2  अक्टूबर को 9:42 रात से मार्गी होंगे । इस प्रकार बुद्ध के उच्च होने का असर  10 सितंबर से 2 अक्टूबर तक नहीं रहेगा । वक्री होने के कारण बुध का प्रभाव सामान्य प्रभाव के विपरीत होगा। अर्थात अगर सामान्य में बुद्ध बहुत अच्छा कर रहे हैं तो बक्री होकर वे अच्छा नहीं कर पाएंगे।
इस अवधि के दौरान 12 सितंबर को बुध  ग्रह सूर्य के प्रभाव में आने के कारण अस्त हो जाएंगे ।  29 सितंबर को  उदय होंगे । इसके उपरांत 23 अक्टूबर को बुध पुनः अस्त होंगे तथा तुला राशि में जाकर उदय होंगे। अस्त होने की अवधि में बुद्ध का किसी प्रकार का कोई प्रभाव नहीं होगा।
इस प्रकार हम कह सकते हैं कि हम जो भी फल राशि बार  बताएंगे वह राशिफल 20 अगस्त से 12 सितंबर तक वही फल प्राप्त होगा । उसके उपरांत 12 सितंबर से 29 सितंबर तक बुध ग्रह का कोई प्रभाव नहीं रहेगा । इस  इस अवधि में बताया गया फल  शुन्य रहेगा।  । इसके उपरांत 2 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक बुध का उच्च प्रभाव रहेगा । इसके अलावा 23 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक बुद्ध का प्रभाव उल्टा होगा।
18 सितंबर से सूर्य और बुध एक ही राशि में रहकर बुधादित्य योग बनाएंगे । इस योग के कारण राशि के अनुसार सूर्य और बुध जिस भाव में होंगे उसमें वे उत्तम फल देंगे ।
इस अवधि में गुरु और शनि ग्रह पहले से वक्री  चल रहे हैं । राहु और केतु हमेशा वक्री  रहते हैं । बुद्ध के भी वक्री  हो जाने के कारण नौ ग्रहों में से 5 ग्रह वक्री रहेंगे और ये अद्भुत फल देंगे । इसके बारे में हम अलग से चर्चा करेंगे।
आइए अब हम राशिवार राशिफल की चर्चा करते हैं ।
मेष राशि
मेष राशि के जातकों के लिए बुध उनके छठे भाव में रहेगा ।  बीमारियां समाप्त हो जाएंगी। पराक्रम में वृद्धि होगी । कचहरी के कार्यों में असफलता हो सकती है।

वृष राशि
इस बात की पूरी संभावना है कि 29 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच में आपके संतान को कुछ बहुत ही अच्छा प्राप्त हो ।  अगर आपकी संतान पढ़ रही है तो उसको बहुत अच्छे मार्क्स मिल सकते हैं । अगर नौकरी में है तो प्रमोशन भी हो सकता है। आपको भी धन की प्राप्ति होगी ।

मिथुन राशि
आपके सुख में वृद्धि होगी । माताजी का स्वास्थ्य ठीक रहेगा । आपका भी स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । व्यापार अच्छा चलेगा।

कर्क राशि
भाइयों से आपके संबंध बहुत उत्तम होंगे आपका भाग्य आपका साथ नहीं देगा।

सिंह राशि
धन आने का उत्तम योग है । दुर्घटनाओं से बचें । 2 अक्टूबर से 23 अक्टूबर के बीच आपको अच्छा धन लाभ होना चाहिए।

कन्या राशि
आपका स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । परंतु आपके जीवन साथी का स्वास्थ्य खराब हो सकता है । आपके अंदर क्रोध की मात्रा बढ़ सकती है। अगर आपकी जीवनसाथी पहले से फेफड़े या गले के रोग से पीड़ित हैं तो यह रोग इस अवधि में बढ़ सकता है।

तुला राशि
कचहरी के कार्य में सफलता मिल सकती है । भाग्य उत्तम होगा । शत्रु बनेंगे।

वृश्चिक राशि
धन आने का उत्तम योग है 1 अक्टूबर से 23 अक्टूबर के बीच में आपको धन की अच्छी प्राप्ति हो सकती है । संतान को कष्ट हो सकता है।

धनु राशि
अगर आप अधिकारी या कर्मचारी हैं तो आपके लिए कुछ अच्छा होगा। अगर प्रमोशन ड्यू है तो प्रमोशन हो सकता है । आपको अतिरिक्त कार्यभार मिल सकता है । आपका अपने कार्यालय में अच्छा मान सम्मान होगा । आपके जीवन साथी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा।

मकर राशि
इस अवधि में आपका भाग्य आपका बहुत अच्छा साथ देगा । आपके कई कार्य भाग्य के सहारे हो सकते हैं । शत्रुओं के संख्या में वृद्धि हो सकती है ।

कुंभ राशि
दुर्घटनाओं से आप के बचने की उम्मीद है । आपके संतान के लिए या अवधि अत्यंत उत्तम रहेगी । धन आने में बाधा है परंतु धन आएगा।

मीन राशि
अगर आप का विवाह नहीं हुआ है तो विवाह तय होने के बहुत उत्तम योग हैं । प्रेम संबंधों में वृद्धि होगी । व्यापार अत्यंत उत्तम चलेगा । आपके सुख में वृद्धि होगी।


जय मां शारदा।

निवेदक:-
पण्डित अनिल कुमार पाण्डेय
सेवानिवृत्त मुख्य अभियंता
प्रश्न कुंडली विशेषज्ञ और वास्तु शास्त्री
साकेत धाम कॉलोनी, मकरोनिया
 सागर। 470004
 मो 8959594400 /7566503333

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense