अभियोजन अधिकारियों की साग़र संभाग की एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

मंगलवार, 29 सितंबर 2020

सुरखी उपचुनाव : बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच होगा चुनाव , चुनावी प्रबन्धन से जुड़े कई हुए है संक्रमित

सुरखी उपचुनाव : बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच होगा चुनाव , चुनावी प्रबन्धन से जुड़े कई हुए  है  संक्रमित





@विनोद आर्य


सागर।( तीनबत्ती न्यूज़ .कॉम )। एमपी में उप चुनाव  की घोषणा हो गई है । सुरखी सहित सभी जगह 3 नवम्बर को वोटिंग और 10  नवम्बर को गिनती होगी। सागर जिले में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच बेहद सतर्कता के साथ इस संग्राम में उतरना होगा। जिले में 2400 से ज्यादा संक्रमित  मरीज निकल चुके है। अभी तक  99 लोगो  की मौत हो चुकी है। यही नही सुरखी उपचुनाव में भाजपा और कंग्रेस के प्रबन्धन से जुड़े कई नेता और उनके परिजन संक्रमण का शिकार बने है। यहां भाजपा से राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत और कांग्रेस से पूर्व विधायक पारुल साहू के बीच कड़ा मुकाबला है।


तीनबत्ती न्यूज़.कॉम

जनता के साथ धोखा और विश्वासघात हुआ, इसके खिलाफ जनता चुनाव लड़ रही है, मै उनकी आवाज हूँ :  पूर्व विधायक पारुल साहू

 https://www.teenbattinews.com/2020/09/blog-post_794.html


यदि पिछले कुछ दिनों में भाजपा और कांग्रेस से जुड़े नेता और चुनावो को लेकर दोनों दलों द्वारा बनाए गये प्रभारियों में फिलहाल असर दिखा है।राजनीतिक आयोजनों में जमकर कोविड के नियमो का उल्लंघन हुआ है। ज्यादातर कार्यकर्मो में मास्क और सोशल डिस्टेंस की अनदेखी हुई है। हालांकि भगवान की कृपा  सभी  स्वस्थ्य भी है। 


सुरखी उप चुनाव में भाजपा से जुड़े प्रबन्धन के आधा दर्जन और कांग्रेस से जुड़े लोग कुछ  संक्रमित निकले है। सागर जिले में यदि विधानसभावार  कोरोना संक्रमण पर नजर डाले तो सबसे कम सुरखी विधानसभा क्षेत्र के है। जबकि सर्वाधिक आयोजन यही हो रहे है। बाहर से  नेताओं का आना जाना बना हुआ है। वही अधिकारियों और कर्मचारियों की मौजूदगी भी बढ़ी है। इसमें सबसे दिलचस्प यह है कि प्रदेश के नगरीय विकास मंत्री भूपेंद्र सिंह उसके संयोजक है और लगातार मास्क और सोशल डिस्टेंस का खुद पालन कर रहे है और लगातार दुसरो को इसकी समझाईश भी देते है।  एमपी में कोरोना काल मे मंत्रियों में सबसे सुरक्षित कार्यशैली के आईकॉन भूपेंद्र सिंह को माना जाता है। 

प्रदेश के राजस्व और परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत के बेटे और बड़े भाई हीरासिंह  

कोरोना पॉजिटिव निकले। उधर मन्त्री के  निज सहायक ज्वाला सिंह भी संक्रमण का शिकार बने। मन्त्री के करीबी कमलेश बघेल के परिवार में संक्रमण आया।  उधर सुरखी के सहप्रभारी और भोपाल के पूर्व सांसद आलोक संजर की   कोरोना पॉजिटिव निकले। आलोक संजर पिछले कई दिनों से सागर और सुरखी क्षेत्र में लगातार सक्रिय थे।। 

भाजपा के प्रबन्धन से जुड़े पूर्व विधायक भानू राणा,  सम्भागीय संगठन मंत्री केशव भदौरिया आदि पॉजिटिव होने के बाद स्वस्थ्य होकर फिर चुनावी गतिविधियों में सक्रिय हो गए है। 


सुरखी में कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके  लोकनिर्माण मन्त्री गोपाल भार्गव के कार्यक्रम पहले निरस्त हो चुके  है। जिस दिन मन्त्री भार्गव की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, उसी दिन उनका बड़ा कार्यक्रम यहां प्रस्तावित था।




सुरखी में मन्त्री गोविंद राजपूत के लगातार कई बड़े आयोजन हो चुके है। लगातार जारी भी है। आयोजनों में कई दफा मास्क और सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ी। बढ़ते संक्रमण के चलते मन्त्री राजपूत अब सतर्कता भी बरत रहे है। कोरोना की गाईड लाईनों को फॉलो कर रहे है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के जैसीनगर में आयोजित कार्यक्रम में मंच पर उमड़ी भीड़ में ज्यादातर मास्क में दिखे। लेकिन सोसल डिस्टेंस नही था।  जनता के हाल क्या होंगे इससे अंदाज लगाया जा सकता है। 


जैरा मध्यम सिंचाई परियोजना का कार्य शीघ्र शुरू होगा , जैसीनगर को शासकीय महाविद्यालय और नगर पंचायत की सौगात -मुख्यमंत्री श्री चौहान

https://www.teenbattinews.com/2020/09/blog-post_973.html






कांग्रेस ने भी नही रखा ध्यान , जिलाध्यक्ष हुए पॉजिटिव


ऐसा नही है कि सुरखी विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस ने भीड़भाड़ भरे आयोजन नही किये हुए। इनमे भी कोविड सतर्कताओ की अनदेखी हो रही है। पिछले दिनों ग्रामीण जिलाध्यक्ष नरेश जैन पॉजिटिव निकले। उनका इलाज जारी है। 

कांग्रेस के  कई पूर्व मंत्री और नेता लगातार बैठके, दौरा धरना प्रदर्शन कर रहे है। सुरखी चुनाव  में कांग्रेस के प्रबन्धन से जुड़े सागर जिले के देवरी के विधायक और पूर्व मंत्री हर्ष यादव कोरोना संक्रमित होने  के बाद कुछ दिन पहले ही स्वस्थ होकर लोटे है। वही पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया भी सुरखी मे सक्रिय रहे। फिर पॉजिटिव रिपोर्ट आई अब स्वस्थ्य है। कांग्रेस की आदर्श गार्डन में हुई बैठक में भी कार्यकर्ताओं की खूब भीड़ दिखी। कई बिना मास्क के दिखे। सोसल डिस्टेंस कम ही दिखा। 


यहां बता दे कि सागर जिले में पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह ,  अजाक एसपी अनिल सोनकर सागर सम्भाग के  अपर कमिश्नर के के शुक्ला सहित  2400  से अधिक संक्रमित मरीज अभी तक मिल चुके है। सागर जिले में 99 लोगो की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है।  1575 स्वस्थ्य होकर घर वापिस जा चुके है। कोरोना के शिकार बनने वाले सरकारी कर्मचारियो की संख्या अच्छी खासी है। 



तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे

https://www.facebook.com/तीनबत्ती-न्यूज़-कॉम-107825044004760/


ट्वीटर  फॉलो करें

@weYljxbV9kkvq5ZB

https://twitter.com/weYljxbV9kkvq5Z?s=08


वेबसाईट

www.teenbattinews.com



जिम्मेदारी बढ़ी प्रशासन की, जागरूकता अहम


उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। चुनाव आयोग ने इसकी गाईड लाईन भी तैयार की है। इनको पालन कराने की जिम्मेदारी प्रशासन के साथ राजनीतिक दलों की ज्यादा है। राजनीतिक आयोजनों से लेकर मतदान तक सतर्कता बरतते हुए  चुनाव  सम्पन्न कराने होंगे। जनता को सजग रहने की जरूरत है। 





---------------------------- 


www.teenbattinews.com



तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive