मध्यप्रदेश में लगभग 135 लाख मैट्रिक टन किया जाएगा गेंहू उपार्जित -खाद्य, नागरिक आपूर्ति प्रमुख सचिव श्री किदवई

रविवार, 24 जनवरी 2021

मध्यप्रदेश शासन बेटियों के प्रति जागरूक : मंत्री श्री राजपूत

मध्यप्रदेश शासन बेटियों के प्रति  जागरूक : मंत्री श्री राजपूत

★ किशोरियों की बहुमुखी विकास के लिए हुआ 'पंख' कार्यक्रम का शुभारंभ


सागर । राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत 'पंख' कार्यक्रम की शुरुआत की गई। 'पंख' के अंतर्गत बेटियों के प्रोटेक्शन, अवेयरनेस, न्यूट्रीशन, नोलेज तथा हेल्थ एवं हाइजीन अर्थात बेटियों के संरक्षण, जागरूकता, पोषण, ज्ञानवर्धन तथा स्वास्थ्य की रक्षा जैसे पाँच आयामों को सम्मिलित  किया गया है।
भारत देश जहाँ एक ओर देवी माँ की पूजा की जाती है वहीं दूसरी ओर एक काला सच कन्या भ्रूण हत्या से लेकर उसके जीवन के विभिन्न पड़ावों में असुरक्षा तथा असमानता का व्यवहार भी है। समाज में इस वांछनीय बदलाव के लिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 'पंख' योजना की शुरुआत की गई है। मुख्य कार्यक्रम भोपाल के मिंटो हॉल में आयोजित किया गया जिसे राज्य के समस्त ज़िलों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वर्चुअल रूप से देखा।
सागर में आयोजित किए गए इस कार्यक्रम की अध्यक्षता राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने की जिनके साथ जिला कलेक्टर श्री दीपक सिंह, श्रीमती लता वानखेड़े, डॉक्टर नीना गिडियन, डॉक्टर ज्योति चौहान, डॉक्टर वंदना गुप्ता, जिला शिक्षा अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक एवं कार्यक्रम अधिकारी तथा छात्राएँ उपस्थित थी।

उन्होंने बताया कि परिवहन विभाग द्वारा भी महिलाओं को अलग से ड्राइविंग सिखाने की शुरुआत की गई है। महिलाओं के लिए कमर्शियल व्हीकल की भी ड्राइविंग ट्रेनिंग दी जाना शुरू की गई है। फ़िलहाल यह इन्दौर मैं शुरू किया गया है जिसे धीरे-धीरे समस्त ज़िलों में लागू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह प्रशिक्षण पूर्णतः नि शुल्क होगा।  इसके साथ ही उन्होंने समस्त बेटियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वे आगे बढ़ें और घर, परिवार तथा देश का नाम रोशन करें और देश की तरक़्क़ी में सहभागी बने बने।
इससे पूर्व कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने स्वागत अपने उद्बोधन में कन्याओं की बेहतरी का संकल्प लेने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य पर बालिकाओं के हित के लिए प्रदेश में विभिन्न योजनाओं के माध्यम से कार्य किया जा रहा है। परंतु आज भी कई क्षेत्रों में बालिकाओं के जन्म को रोकने जैसे विचार पनपते हैं,  असमानता देखने मिलती है।
इस अवसर पर महारानी लक्ष्मीबाई विद्यालय क्रमांक एक में आयोजित कार्यक्रम में विभिन्न विधाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली बालिकाओं का सम्मान किया गया तथा उन्हें 5 हज़ार रूपये की राशि भी प्रदान की गई। इन बालिकाओं में नूपुर अग्रवाल, रिद्धि तिवारी, प्रसिद्धि राहने, रिया पटेल, दिव्या अहिरवार, पूनम अहिरवार, रागिनी भदौरिया, भारती, पारुल,नंदनी कोरी, ज्येष्ठा सोनी, यूरेन खान, पलक जायसवाल, स्नेहलता लोधी आदि बच्चियों को सम्मानित किया गया इसके अतिरिक्त लाड़ली लक्ष्मी योजना की लाभार्थियों को भी सम्मानित किया गया।

बालिकाओं के प्रति सम्मान तथा समान व्यवहार की शपथ दिलाई
 कार्यक्रम में राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ तथा बालिकाओं के प्रति सम्मान तथा समान व्यवहार की शपथ दिलाई। उपस्थित सभी लोगों ने  लिंग भेद और लिंग चयन जो कि बालिकाओं के जन्म एवं उनके अस्तित्व को जोखिम में डालता है, उस मानसिकता का त्याग करने का संकल्प लिया जिससे यह सुनिश्चित हो कि लड़कियां जन्म लें, उन्हें प्यार व शिक्षा मिले और देश का सशक्त नागरिक बनने का समान अवसर मिले।
यह संकल्प भी लिया गया कि जन्म पूर्व लिंग पहचान के आधार पर हो रही कन्या भूण हत्या को व्यक्तिगत रूप से और सामूहिक रूप से समाप्त करने की मुहिम को व्यक्तिगत रूप से भरपूर सहयोग देंगे। साथ ही अपने देश की महिलाओं एवं पुरुषों को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के संदेश के प्रति जागरूक करेंगे।                                                                                                                                               ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive