अभियोजन अधिकारियों की साग़र संभाग की एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

बुधवार, 27 जनवरी 2021

लोक निर्माण मन्त्री गोपाल भार्गव के प्रोटोकॉल के उल्लंघन का मामला, PWD विभाग के EE और SDO हुए निलंबित

लोक निर्माण मन्त्री गोपाल भार्गव के प्रोटोकॉल के उल्लंघन का मामला,  PWD विभाग के EE और SDO हुए निलंबित



सागर। प्रदेश के लोक निर्विभाग, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री गोपाल भार्गव के सागर
आगमन पर उन्हें प्रोटोकॉल न दिये जाने के मामले ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है।  पीडब्ल्यूडी विभाग के प्रमुख सचिव ने सागर ईई जायसवाल तथा सागर अनुविभागीय अधिकारी जे.एम. तिवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए उन्हें भोपाल कार्यालय में उपस्थिति देने का आदेश जारी किया गया है। आदेश में कहा गया है कि मन्त्री के सर्किट हाउस से लेकर गणतंत्र दिवस के समारोह तक इन अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई थी। लेकिन इनका उल्लंघन हुआ। इसे लापरवाही मानते हुए निलंबित किया जाता है। 

गणतंत्र दिवस के एक दिन पहले प्रोटो काल नही मिलने से मन्त्री हुए थे नाराज, बड़ी मुश्किलों में झंडावंदन समारोह में पहुचे थे। अभी कुछ और अफसरों पर भी कार्यवाई सम्भव है। 


पढ़े....
प्रोटोकॉल का उल्लंघन होने से नाराज हुए मंत्री गोपाल भार्गव का बयान
★ मुझे अपने प्रोटोकॉल की चिंता नही जनता का सम्मान बना रहे ,विभाग के लोग शायद पुुताई  करवा रहे है...
 ★  यह अफसरो को सोचना चाहिए कि वरिष्ठ विधायको को कितना वेटेज देना चाहिए ,यदि नही देंगे तो  मै सोचूंगा*
★ मुझे सर्किट हाउस में नींद नही आती इसलिए घर चला गया -



ये है मामला

मन्त्री भार्गव गणतंत्र दिवस के एक दिन पूर्व  सोमवार को सागर में सर्किट हाउस रात में पहुचे थे। करीब एक घण्टे तक रुके। लेकिन कोई अधिकारी रिसीव करने नही पहुचा । यहां तक कि  PWD के विभागीय अफसर भी नदारद रहे। इससे खफा मन्त्री रात को ही अपने गृहनगर गढाकोटा चले गए। इस घटना के बाद प्रशासन में हड़कम्प मच गया।  गणतंत्र दिवस की सुबह तक प्रषासन उनको मनाने में लगा रहा। इसके बाद मन्त्री गोपाल भार्गव मुख्य समारोह में पहुचे।

समारोह के बाद जब मीडिया ने पूछा था तो मन्त्री गोपाल भार्गव ने कहा था  कि मेरे लिए प्रोटोकॉल अब महत्वपूर्ण नही है। मुझे सर्किट हाइस में नीद नही आती।इसलिए घर चला गया था। प्रशासनिक स्पस्टीकरण से में संतुष्ट हूँ। उन्होंने कहा कि जनता का प्रोटोकॉल बना रहे उनको सम्मान मिले। में सबसे सीनियर मन्त्री हूँ। यह विभाग को सोचना है कि कितना किसको वेटेज दे। नही देंगे तो में सोचूंगा।

उधर कलेक्टर दीपक सिंह का कहना था कि  मन्त्री जी अपने घर गढाकोटा चले गए थे। मेने adm की ड्यटी लगाई थी। वो गढाकोटा से सागर सम्मान सहित लाये। और गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive