अभियोजन अधिकारियों की साग़र संभाग की एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

गुरुवार, 28 जनवरी 2021

महिलाएँ इतनी आत्मनिर्भर बनें कि कहीं भी उनका तिरस्कार या उलाहना ना हो : मंत्री गोपाल भार्गव

महिलाएँ इतनी आत्मनिर्भर बनें कि कहीं भी उनका तिरस्कार या उलाहना ना  हो : मंत्री
गोपाल भार्गव


सागर।  जब महिलाएँ स्वावलंबी और सशक्त बनती हैं तो न केवल महिला,उसके परिवार और समाज बल्कि संपूर्ण देश का विकास होता है।महिलाएँ इतनी आत्मनिर्भर बनें कि कोई व्यक्ति या समाज उनका तिरस्कार या उलाहना ना कर सके। उक्त विचार लोक निर्माण विभाग मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने गुरुवार को गढ़ाकोटा में आयोजित किये गए स्वसहायता समूह के क्रेडिट लिंकेज कार्यक्रम में व्यक्त किए।
मंत्री श्री भार्गव ने बताया कि,आज स्वसहायता समूह की महिलाओं को स्कूल जाने वाले छात्र छात्राओं के गणवेश बनाने का कार्य दिया गया है। कोरोना काल में भी समूह की महिलाओं ने मास्क, पीपीई किट बनाकर अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्होंने कहा कि वास्तविक स्वरूप में मध्य प्रदेश एवं भारत तब आत्मनिर्भर बनेगा जब हम बाहर से किसी चीज को नहीं खरीदेंगे। बल्कि हमारे द्वारा बनाए गए उत्पादों को मार्केट में बेहतर पहचान मिलेगी।
उन्होंने बताया कि आजीविका मिशन के तहत स्व सहायता समूह की महिलाओं को ऋण प्राप्त करने का सुरक्षित माध्यम मिला है। पहले प्राइवेट व्यक्तियों से ऋण लेते थे परंतु आज सरकार ने ऐसी व्यवस्था की है जिससे बैंक के सहयोग से स्वसहायता समूह की महिलाओं को ऋण प्राप्त हो रहा है।

'आत्मनिर्भर भारत एवं मैं भी डिजिटल कार्यक्रम का किया शुभारंभ'
 
भारतीय स्टेट बैंक शाखा गढ़ाकोटा द्वारा एक भव्य कार्यक्रम में एक करोड़ रुपए के बैंक लिंकेज के माध्यम से 69 परिवारों को राशि प्रदान की गई। मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि  स्व सहायता समूह की महिलाओं को सशक्त बनाने की दिशा में ऋण वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें रहली विधानसभा क्षेत्र की 216 ग्रामों को शामिल किया गया है  अजीबिका मीशन के तहत 2038 समूहों गठन कर कुल 22773 परिवारों को जोड़ा गया है और विगत 3 वर्षों में ₹ 6 करोड़ 65 लाख की राशि आजीविका मिसन के द्वारा प्रदान की गई  
उन्होंने बताया कि रहली विधानसभा क्षेत्र के लिए रिवाल्विंग खर्च के लिए दो करोड़ 9 लाख की राशि भी प्रदान की गई ।उन्होंने कहा कि बैंक लिंकेज के तहत आज 658 समूह को 854 लाख की राशि प्रदान की जा रही है । उन्होंने बताया कि यह बड़ा सौभाग्य का विषय है कि महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए आजीविका मिशन के तहत महिलाएं बैंक किओस्क भी क्षेत्र के दूरस्थ अंचलों मैं चलाए जा रहे हैं। और अपनी सेवाएं रहली विधानसभा क्षेत्र में प्रदान की जा रही हैं उन्होंने कहा कि रहली विधानसभा क्षेत्र  में रोजगार मेला के तहत 667 युवाओं को रोजगार का अवसर प्रदान किया गया ।एवं आरसीटी प्रशिक्षण केंद्र के माध्यम से 506 युवक-युवतियों को रोजगार प्रदान किया गया ।उन्होंने कहा कि आजीविका मिशन के तहत 600 परिवारों को डेयरी दुग्ध योजना के माध्यम से जोड़ा गया है एवं सिलाई कढ़ाई के माध्यम से 352 महिलाएं लाभ प्राप्त कर रही हैं। अन्य गतिविधियों में 1000 परिवार जोड़े गए हैं उन्होंने बताया कि स्वावलंबी योजना के तहत 1223 महिलाओं को व्यक्तिगत गतिविधि हेतु लाभान्वित किया गया है।
इस अवसर पर पूर्व विधायक श्री भानु राणा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री इच्छित गढ़पाले, ग्रामीण आजीविका मिशन के योजना अधिकारी श्री हरीश दुबे, क्षेत्रीय प्रबंधक जबलपुर श्री संजीव कुमार, क्षेत्रीय प्रबंधक एसबीआई सागर श्री गोविंद अहिरवार, मुख्य प्रबंधक सागर श्री राकेश अग्रवाल, शाखा प्रबंधक गढ़ाकोटा श्री मयंक, शाखा प्रबंधक रहली श्री पंकज बंसल, जनपद अध्यक्ष श्री संजय दुबे, श्री भरत चौरसिया, श्री मनोज तिवारी, अनुविभागीय अधिकारी श्री जितेन्द्र पटेल, तहसीलदार श्री कुलदीप पाराशर, श्री विजय मिश्रा, श्री मनीष परते एवं समस्त एसबीआई बैंक परिवार मौजूद थे।
                           

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------
 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive