मध्यप्रदेश में लगभग 135 लाख मैट्रिक टन किया जाएगा गेंहू उपार्जित -खाद्य, नागरिक आपूर्ति प्रमुख सचिव श्री किदवई

शनिवार, 30 जनवरी 2021

हम समृद्ध और विकसित मध्यप्रदेश बनाएंगे-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ★ सिंगल क्लिक से प्रदेष के 20 लाख किसानों को 400 करोड़ रूपये के हितलाभ से हुए लाभांवित ★ तीन साल के अंदर हर गांव में पाईप लाईन से होगी पेयजल आपूर्ति



हम समृद्ध और विकसित मध्यप्रदेश बनाएंगे-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 

★ सिंगल क्लिक से प्रदेष के 20 लाख किसानों को 400 करोड़ रूपये के हितलाभ से हुए लाभांवित
★ तीन साल के अंदर हर गांव में पाईप लाईन से होगी पेयजल आपूर्ति

★ 430 करोड़ रूपये के कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन हुआ ,राज्य स्तरीय हितलाभ वितरण कार्यक्रम संपन्न

सागर : मुख्यमंत्री  षिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेष में विकास का यज्ञ फिर शुरू हो गया है। प्रदेष के विकास के लिए अनेक योजनाएं बनाई गई है, जरूरत पड़ने पर और भी योजनाएं बनाई जाएंगी। हम समृद्ध और विकसित मध्यप्रदेष बनाएंगे। आज सागर के विकास के लिए बैठक की है। यहां केवल सागर ही नहीं, पूरे प्रदेष का विकास सुनिष्चित किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री षिवराज सिंह चौहान सागर के खेल परिसर के समीप ही मैदान में आयोजित राज्य स्तरीय मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना अंतर्गत प्रदेष के 20 लाख किसानों को 400 करोड़ रूपये के हितलाभ सिंगल क्लिक करने के बाद आयोजित गरिमामय कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा फरवरी और मार्च में भी 4-4 सौ करोड़ रूपये किसानों के खातों में डाले जाएंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री षिवराज सिंह चौहान ने 430 करोड़ रूपये के कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। 

इस अवसर पर लोक निर्माण,  मंत्री गोपाल भार्गव, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री  भूपेन्द्र सिंह, राजस्व एवं परिवहन मंत्री  गोविन्द सिंह राजपूत, कृषि मंत्री कमल पटेल, पषुपालन मंत्री प्रेमसिंह पटेल, सांसद  राजबहादुर सिंह, पूर्व सांसद  लक्ष्मीनारायण यादव, सागर विधायक शैलेन्द्र जैन, नरयावली विधायक  प्रदीप लारिया, बीना विधायक  महेष राय, जिला अध्यक्ष  गौरव सिरौठिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि मंचासीन थे।
मुख्यमंत्री श्री षिवराज सिंह चौहान ने कहा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना शुरू कर किसानों के खाते में 6 हजार रूपये डालने योजना शुरू की थी, तत्कालीन सरकार ने किसानों की सूची केन्द्र को नहीं भेजी थी। हमने सरकार में आते ही 78 लाख किसानों की सूची भेजी और हमने भी निर्णय लिया, क्यों ने किसानों के खाते में दो किस्तों 4 हजार रूपये डाला जाए। सरकार ने किसानों को राषि डालने में कोई भेदभाव नहीं किया है। चाहे आधा एकड़ का किसान या एक एकड़ सभी को दोनों योजनाओं तहत साल में 10 हजार रूपये खाते में डाले जा रहे है। उन्होंने कहा कोरोना काल में तंगी होने के बावजूद भी अलग-अलग योजनाओं में 85 हजार करोड़ रूपये किसानों और अन्य हितग्राहियों के खाते में डाले गए। श्री चौहान ने कहा किसान भाईयों चिंता न करें। कर्जमाफी के दौरान उनके सिर पर ब्याज जो बोझ  हो गया है, सरकार वह चुकाएगी।
संबल योजना गरीबों की ताकत

उन्होंने कहा संबल योजना गरीबों की ताकत है। पिछली सरकार ने इसे बंद कर दिया था। इसे हमने शुरू कर दिया है। श्री चौहान ने कहा संबंल योजना के तहत छात्रों की मेडीकल-इंजीनियरिंग की फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री ने कहा बहनों को बच्चे के जन्म के पूर्व 4 हजार  और जन्म के बाद 12 हजार रूपये की राषि उनके खाते में डाली जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा संबंल में सामान्य मृत्यु पर 2 लाख और दुर्घटना मृत्यु पर 4 लाख रूपये सहायता शुरू कर दी गई है।  

कन्या विवाह योजना फिर होगी शुरू

मुख्यमंत्री ने कहा मुख्यमंत्री कन्यादान सामूहिक विवाह योजना फिर शुरू होगी। बेटियां देवी स्वरूप होती है। हम कार्यक्रम की शुरूआत उनके पूजन से ही करते है।

आयुष्मान योजना में कोई न छूटे

मुख्यमंत्री ने कहा आयुष्मान भारत योजना तहत गरीब पात्र हितग्राहियों को 5 लाख रूपये तक का इलाज मिल रहा है। उन्होंने कहा कोई भी पात्र हितग्राही कार्ड बनने से वंचित न रहे। प्रदेष में 2 करोड़ आयुष्मान कार्ड बने है। यह भी कहा यदि कोई व्यक्ति छूटा है तो उसके कार्ड बनवा लिए जाएं।  
तीन साल के अंदर हर गांव में पाईप लाईन से होगी पेयजल आपूर्ति
मुख्यमंत्री ने कहा 3 साल के अंदर हर गांव में पाईप लाईन बिछा कर नल (टोंटी) से पानी घर-घर आएगा। अब हमारी बेटियों को गांव में हेण्डपंप और कूओं से पानी लाने से मिलेगी निजात।

एनओसी के लिए बैंक चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे

मुख्यमंत्री ने कहा सुषासन के तहत ऐसी व्यवस्था की जा रही है कि अब एनओसी के लिए बैंक चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। उन्होंने कहा ऑनलाईन आवेदन करो और ऑनलाईन एनओसी ही मिल जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा सुषासन के तहत ऐसी व्यवस्था की गई है। अब किसान को सीमांकन की सुविधा अब मोबाईल डिवाईस मिलेगी। उन्होंने कहा राजस्व सिस्टम आधुनिक किया गया है। जिसे आरसीएमएस कहा जाता है। अब पेषी की जानकारी एसएमएस से भेजी जाती है। जमीन का नामांतरण बंटवारा, सरलीकरण-कम्प्यूटरीकृत कर दिया गया है।

पटवारी दो दिन रहेंगे हल्के में ,नही तो मिले  तो जिम्मेदारी कलेक्टर की

मुख्यमंत्री ने कहा पटवारी सप्ताह में दो दिन हल्के में रहेगी। जनता परेषान न  हो, सुषासन देना हमारी जिम्मेवारी है। पटवारी हल्के में नहीं मिलते है तो इसकी जिम्मेवारी कलेक्टर की होगी। मुख्यमंत्री ने कहा 41 लाख हेक्टेयर में सिंचाई हो रही है। आने वाले दिनों में 65 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा हो जाएगी। उन्होंने कहा अकेले बुन्देलखण्ड में ही 8 हजार 644 करोड़ की सिंचाई परियोजनाएं चल रही है। केन-बेतवा नदी जोडे़ जाने की भी जानकारी लेते हुए कहा कि पूरा बुन्देलखण्ड सिंचित हो जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा स्व-सहायता समूहों को सषक्त किया जाएगा। लक्ष्य है बहनों की आमदनी बढ़ाना। उन्होंने कहा हर माह डेढ़ सौ करोड़ रूपये समूहों के खाते में डाले जा रहे है। बहनें स्कूल की ड्रेसें बना रहीं है, अब बच्चों का पोषण आहार भी बहनें बनाएंगी। श्री चौहान ने कहा इनमें बड़ी क्षमताएं है। समूहों के विकास और समृद्धि के सरकार समूहों के उत्पाद की मार्केटिंग भी करवाएगी।

सरकार सज्जनों के लिए फूल और दूर्जनों के लिए बज्र से ज्यादा कठोर

मुख्यमंत्री ने कहा मध्यप्रदेष की सरकार सज्जनों के लिए फूल और दुर्जनों के लिए बज्र से ज्यादा कठोर है। उन्होंने कहा मासूम से दुराचार पर कठोर कानून बनाए गए है। उन्होंने कहा मां और बेटियों पर गलत नजर से देखने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। धर्मांतरण पर जेल की सजा का प्रवाधान किया गया है। मिलावटखोरी पर की जा रही कार्यवाही की जानकारी दी। इसके पूर्व सांसद एवं प्रदेष के भाजापा अध्यक्ष श्री बिष्णुदत्त शर्मा ने देवास से वर्चुअली संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने सभी को विकास के लिए सहभागी होने संकल्प दिलाया।  
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जबलपुर, गुना सहित अन्य जिलों के किसानों से वर्चुलअी संवाद किया। उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री सम्मान निधि योजना के बारे में जाना। साथ ही शासन की अन्य योजनाओं से मिले लाभों की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा 15 मार्च से गेंहू, चना, मसूर की समर्थन मूल्य पर खरीदी प्रारंभ की जाएगी। किसानों से कहा पंजीयन कराएं और खरीदी का एसएमएस आने पर अपना उत्पाद लाकर बेंचे।

अनेक हितग्राही हुए लाभांवित

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अनेक हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं के तहत लाभांवित किया। स्व-सहायता समूह को 1.49 करोड़ का स्वीकृति पत्र, मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना अंतर्गत किसान आषोक दुबे, हरिनारायण को दो-दो हजार के चैक, हितग्राही पूरनलाल को मकान की चाबी, शफीक को ऑटो की चाबी, किरण सैनी स्व सहायता समूह को दूकान की चाबी, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना तहत गुल्ली-चेतु को 10 हजार का स्वीकृति पत्र सहित अन्य हितग्राहियों को हितलाभ वितरित किए गए।

ये रहे मौजूद

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती दिव्या अषोक सिंह,  नारायण प्रसाद कबीरपंथी, पूर्व महापौर  अभय दरे, पूर्व विधायक हरवंश 
सिंह राठौर , श्रीमती सुधा जैन,  राजेन्द्र सिंह मोकलपुर, पूर्व विधायक श्भानूराणा,  सुषील तिवारी,  सुधीर यादव,  संतोष रोहित, मुकेश जैन ढाना, सुखदेव मिश्रा,  अनुराग प्यासी, वैभव कुकरेले,  जगन्नाथ गुरैया,  लक्ष्मन सिंह, कमिष्नर श्री मुकेष कुमार शुक्ला, कलेक्टर श्री दीपक सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह, जिला पंचायत सीईओ श्री इच्छित गढ़पाले, अपर कलेक्टर श्री अखिलेष जैन, नगर निगम आयुक्त श्री आरपी अहिरवार, उपायुक्त डा. पीके खरे, नगर दण्डाधिकारी श्री सीएल वर्मा, एसडीएम श्री पवन बारिया, श्री शैलेष केषरवानी, स्व-सहायता समूह की महिलाएं और बड़ी संख्या में किसान बंधु, सम्मानीय मीडियाजन, गणमान्य नागरिक सहित अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन श्री अरविन्द जैन और आभार प्रदर्षन सागर विधायक श्री शैलेन्द्र जैन ने व्यक्त किया।


मुख्यमंत्री ने लोक सेवा केन्द्रों पर फीड बैक मशीन का उदघाटन किया

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने लोक सेवा केन्द्रों की फीड बैक मषीनों का कलेक्टर कार्यालय में उदघाटन किया ।
आवेदक मीना रैकवार ने जैसे ही आवेदन ऑपरेटर श्री प्रबोध कुमार श्रीवास को सौंपा मशीन ने मुख्यमंत्री के 30 सेकंड के उदबोधन का ऑडियों प्ले कर दिया । जिसमें मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि "सुशासन मध्यप्रदेश सरकार की प्राथमिकता है, सरकार सज्जनों के लिए फूल से ज्यादा कोमल और दुर्जनों के लिए वज्र से भी अधिक कठोर है ।"
    आवेदन पूर्ण होते ही मशीन ने स्वयं उच्चारित किया कि "ऑपरेटर को 40 रूपये प्रदान कीजिए और उसके व्यवहार के लिए मशीन पर फीड बैक दीजिए ।" आवेदक ने हरा बटन दबा कर आपरेटर के व्यवहार को शानदार ग्रेड दिया ।
    मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान को कलेक्टर श्री दीपक सिंह व श्री अभिनव जैन जिला प्रबंधक लोक सेवा प्रबंधन सागर द्वारा मषीन के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।
मुख्यमंत्री ने सागर जिले के इस नवाचार की सराहना करते हुए कहा कि इससे लोक सेवा केंद्रों की प्रासंगिकता और पारदर्शिता बढ़ेगी। इस अवसर पर जिला प्रबंधक लोक सेवा अभिनव जैन, लोक सेवा केंद्र संचालक सागर शहरी अमित शर्मा राहुल शर्मा प्रबंधक यश जायसवाल मौजूद थे।





---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------
 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive