SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

सोमवार, 10 मई 2021

बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज के असिस्टेंट प्रो डॉ सत्येंद्र मिश्रा हुए स्वस्थ्य, हैदराबाद से लौटे, कोरोना से जीती जंग ★ परिजनों ने बरसाए फूल, उतारी आरती ,डॉ मिश्रा ने लिया आशीर्वाद ★ पलमोनरी रिहैबिलिटेशन के लिए गए जबलपुर , बोले सभी का आभार, ड्यूटी पर जल्द लौटेंगे


बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज के असिस्टेंट प्रो डॉ सत्येंद्र मिश्रा हुए स्वस्थ्य, हैदराबाद से लौटे, कोरोना से जीती जंग 
★ परिजनों ने बरसाए फूल, उतारी आरती ,डॉ मिश्रा ने लिया आशीर्वाद
 ★ पलमोनरी रिहैबिलिटेशन के लिए गए जबलपुर , बोले सभी का आभार, ड्यूटी पर जल्द लौटेंगे


★ मेडिकल कालेज के टीबी और चेस्ट विभाग के युवा डॉ सत्येंद्र मिश्रा कोविड मरीजो की सेवा में लगे थे, हुए थे  पाजिटिव, फेफड़ो में आई थी खराबी


★ सागर से भोपाल तक 175 किलोमीटर लंबा ग्रीन कारीडोर बनाकर भेजा गया  था डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा को हैदराबाद के लिए

साग़र। (तीनबत्ती न्यूज़ .कॉम )। कोरोना कहर ने कोरोना वारियर्स यानी डॉक्टरी को अपने घेरे में ले लिया है। कई डॉक्टर्स जान गंवा बैठे। कई इलाजरत है। ऐसे ही एक तस्वीर शासकीय बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज साग़र के 38 साल के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ सत्येंद्र मिश्रा की 
सामने आई। कोरोना की पीक लहर में डॉ मिश्रा कोरोना पाजिटिव हुए। उनके फेफेडे बुरी तरह संक्रमित हुए। साग़र ने उनकी हालत नही सुधरी तो कलेक्टर दीपक सिंह और विधायक शेलेन्द्र जैन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से इस सम्बन्ध में आग्रह किया। सीएम शिवराज
सिंह ने फ़ौरन इलाज के निर्देश दिए।डॉ मिश्रा को हैदराबाद में एयर एंबुलेंस के जरिये ले जाया गया है। 19 अप्रैल को भोपाल में एयर एंबुलेंस से हैदराबाद गए। सागर से भोपाल तक ग्रीन कारी डोर बनाकर भेजा। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

दुआएं आई काम , उतारी आरती ,बरसाए फूल

डॉ मिश्रा को बचाने दुआएं भी खूब हुई। आखरकार दवा और दुआ काम आई। अब वे खतरे से बाहर है। सिर्फ शारीरिक थकान है। कल रविवार की शाम को डॉ सत्येंद्र मिश्रा साग़र के पथरिया स्थित अपने घर पहुचे। उनको परिसर में बाहर कुर्सी पर बैठाया। परिजनों ने फूल बरसाए। माँ से लेकर पूरा परिवार खुशी के आंसू लिए था। नजर उतारी । आरती  भी उतारी। फिलहाल बोलने और चलने में थोड़ा कमजोर पड़ गए डॉ मिश्रा ने इशारो ही इशारो में हाथ जोड़कर अपनी कृतज्ञता जताई। इसका एक वीडियो भी सामने आया। 

देखे:  मिश्रा की आरती उतारते वीडियो


डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा गए जबलपुर
सभी का आभार, फिर आएंगे ड्यूटी पर

डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा आज सुबह पलमोनरी रिहैबिलिटेशन के लिए जबलपुर रवाना हुए। डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा को अभी भी बोलने एवं उठने बैठने में परेशानी आ रही है और उनका अभी भी सिटी स्कोर 17/25 (70%) है। सागर के सीनियर डॉक्टरस एवं  हैदराबाद के डॉक्टरो की सलाह पर परिवार वालों ने उन्हें पलमोनरी रिहैबिलिटेशन के लिए जबलपुर भेजना उचित समझा। 

ट्वीट@ ब्रजेश राजपूत

बुजुर्गों की दुआयों की ताक़त देखिये. सागर मेडिकल कालेज के डाक्टर सत्येंद्र मिश्रा इलाज करते करते क़ोरोना की चपेट में आ गए और हैदराबाद में इलाज के बाद जब घर लौटे तो इस अंदाज़ में स्वागत हुआ. 

@ABPNews @awasthis @SanjayBragta @anandrai177 @VinodAr04717939 @DrPRChoudhary



जाने से पहले डॉक्टर मिश्रा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,  मंत्री गोपाल भार्गव जी, मंत्री गोविंद सिंह जी, मंत्री भूपेंद्र सिंह विधायक  शैलेंद्र जैन, विधायक  प्रदीप लारिया ,पूर्व विधायक  भानु राणा , सागर कमिश्नर मुकेश शुक्ला,, सागर कलेक्टर दीपक सिंह,,  एसपी अतुल सिंह , डीन बीएमसी आर एस वर्मा,, भाग्योदय प्रबंधन, डॉ दीपांशु दुबे, डॉ मनीष जैन, डॉ विक्रम जैन, डॉक्टर उमेश पटेल सहित सागर के समस्त डॉक्टरो , हैदराबाद के डॉक्टर ,सागर के लोगों को उनकी अनवरत प्रार्थना के लिए एवं सहयोग के लिए मेरे एवं मेरे परिवार की ओर से सहृदय धन्यवाद दिया । उन्होंने कहा कि इतने प्यार और सहायता के लिए मैं और मेरा परिवार जीवन पर्यंत सागर के लोगों का आभारी रहेगा। डॉ मिश्रा जबलपुर जाते हुए बोले बहुत जल्दी पूरा ठीक होकर फिर से लोगों की सेवा में आऊंगा।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive