जंय श्री गणेशाय नमः

शनिवार, 15 मई 2021

SAGAR: सिर कटी लाश के अंधे कत्ल का खुलासा, मामूली विवाद पर तीन भाइयों ने की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

SAGAR: सिर कटी लाश के अंधे कत्ल का खुलासा, मामूली विवाद पर तीन भाइयों ने की हत्या, आरोपी गिरफ्तार


साग़र।  साग़र के मोतीनगर थाना क्षेत्र में कल शुक्रवार को सिर कटी लाश के अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। मामूली विवाद के चलते तीन भाईयों ने मिलकर हत्या की थी। 
पुलिस के मूताबिक  थाना मोतीनगर में दिनांक 14.05.2021 को सूचना प्राप्त हुई कि कुम्हारो का कुआ सूबेदार वार्ड में एक रस्सी से बंधी पोटली में मानव पैर दिख रहे है।  मौके पर  पोटली को खुलवाकर देखा गया जिसमें एक अज्ञात व्यक्ति (पुरूष) उम्रकरीबन 40-45 वर्ष की सिर कटा शरीर(धड) बरामद हुआ जिस पर पत्थर बंधे हुये थे।
जिससे प्रथम दृष्टया किसी अज्ञात व्यक्ति की सिर काट कर हत्या होना एवं साक्ष्य
छिपाने के लिये सिर काट कर कुआ में पोटली बनाकर पत्थर बंधा कर फेक देना प्रतीत पाया गया।  पुलिस ने  अपराध धारा 302,201 ता.हि. का पाये जाने से अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध  अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। घटना की परिस्थियों को देखते हये अज्ञात
व्यक्ति की पहचान व आरोपी का तलाश पुलिस के लिये के लिये एक बड़ी चुनौती थी। 
थाना प्रभारी सतीश सिंह के अनुसार
पहचान के लिये मृतक के शरीर पर पहनी हुई अंगूठियां, हाथ की कलाई में पहने हुये
धागे व बैंड, अंतःवस्त्र(जांघिया) एवं मृतक के दाहिने हाथ की मध्यमा अंगुली में विकृति थी। शव शिनाख्तगी के क्रम में सूचना संकलन के दौरान कई गुमशुदा एवं
संभावित लोगो से मिलान कार्यवाही के दौरान सूचना मिली की गौड बाबा मंदिर के पास एक 45 वर्षीय पुरूष लगडा यादव रहता है। जिसकी मध्यमा अंगुली में ठीक वैसी ही विकृति है जैसे मृतक के हाथ में है। एवं वह भी करीब 3 दिनों से दिखाई नही दिया है।
पुलिस को प्राप्त इस क्लू के आधार पर पुलिस ने गौड़ बाबा मंदिर के आस पास पूछताछ एवं तलाश किया। जो सूचना मिली कि गौड बाबा मंदिर के पास कोरी समाज का एक टूटा हुआ कमरा था, जिसमें मृतक का आना जाना रहता था। जिसकी तलाश किया तो उस कैमरे में कई भौतिक साक्ष्य प्राप्त हये थे। जो संदेह के आधार पर कोरी परिवार के
संजय कोरी, अजय कोरी व बादल कोरी से एफ.एस.एल. अधिकारी की उपस्थिती मे वैज्ञानिक तरीके से पूछताछ किया जिन्होने अतंतः घटना से स्वीकार कर बताया कि लगडू  उर्फ महेश यादव पिती स्व. रम्मा यादव उम्र- 45 वर्ष आये दिन हम लोगो के साथ गाली गलौच करता था। जिससे हम परेशान थे। तो गुस्से में आकर मंगलवार को हम तीनो ने मिलकर लगडू यादव का गला काट कर सिर धड़ से अलग कर हत्या कर दी एवं लाश
ठिकाने लगाने के लिये साडी एवं प्लास्टिक की तिरपाल में बांध कर कुआ में डालना व सिर को सुलभ काम्पलेक्स सूबेदार वार्ड के सेप्टिक टैंक में डालना बताया। जो सुलभ काम्पलेक्स सूबेदार वार्ड के सेप्टिक टैंक से मृतक का कटा हुआ सिर बरामद किया गया।
मृतक के परिजनो पत्नि व भाई के द्वारा भी मृतक के सिर व धड को देखकर उसे लगडूउर्फ महेश यादव पिता स्व. रम्मा यादव उम्र- 45 वर्ष का होना पहचाना। पुलिस को आरोपियो के कमरे से लाश से संबंधित कई भौतिक साक्ष्य भी बरामद हुये हैं। जिससे आरोपीगण की घटना में संलिप्तता की क्रमशः सिद्ध पाई गई। जो आरोपीगण संजय पिता देवेन्द्र कोरी उम्र- 40 वर्ष नि. सूबेदार वार्ड, अजय पिता देवेन्द्र कोरी उम्र- 36 वर्ष नि.सूबेदार वार्ड सागर, बादल पिता देवेन्द्र कोरी उम्र- 25 वर्ष नि. सूबेदार वार्ड सागर के विरूद अपराध सिद्ध पाये जाने से गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया जाता है।
उक्त कार्यवाही पुलिस के द्वारा चंद घंटो में कर अंधे कत्ल का खुलासा किया गया।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive