रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 25 सितंबर 2021

वन विभाग द्वारा आदिवासियों के झोपड़ी जलाने का मामला, कलेक्टर ने घटना की जांच के आदेश दिए ★ वन विभाग के डिप्टी रेंजर और कर्मचारी निलम्बित ★ कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने किया घटनास्थल का निरीक्षण

वन विभाग द्वारा आदिवासियों के झोपड़ी जलाने का मामला, कलेक्टर ने घटना की जांच के आदेश दिए
★ वन विभाग के डिप्टी रेंजर और कर्मचारी निलम्बित
★ कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने किया घटनास्थल का निरीक्षण

सागर।  गौरझामर चरगुवां में घटित घटना का कलेक्टर श्री दीपक  आर्य एवं पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह ने वन विभाग एवं राजस्व अधिकारियों के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर से दीपक आर्य ने तत्काल प्रभाव से पूरी घटना की जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने जांच रिपोर्ट तीन दिवस में पूर्ण करने एवं प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए। 

देवरी तहसील के गौरझामर के चरगंवा में आदिवासियों की वन विभाग ने झोपड़ियां जला दी थी। इस मामले को लेकर  पीड़ित आदिवासी पूर्व मंत्री और क्षेत्रीय विधायक हर्ष यादव से मिले थे। विधायक यादव ने तत्काल प्रशासन से दोषियो के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की थी।

मोके पर पहुचे कलेक्टर श्री आर्य ने बताया कि जांच समिति में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री अमन मिश्रा एवं पुलिस श्रीमती पूजा शर्मा तीन दिवस में जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगी। कलेक्टर श्री आर्य ने बताया कि तत्काल प्रभाव से डिप्टी रेंजर श्री निरभान सिंह को निलंबित किया गया है  ।
कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने पीड़ित परिवार को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिए । कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने बताया कि घटना में संलिप्त वन विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारियों को  निलंबित कर दिया गया है।कलेक्टर श्री आर्य ने अनुविभागीय अधिकारी श्री अमन मिश्रा को निर्देश दिए कि प्रभावित परिवारों को तत्काल 50-50 किलो राशन एवं कपड़े पहनने के लिए व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह ने घटनास्थल पर पुलिस बल तैनात करने के निर्देश दिए। 
इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री क्षतिज सिंघल ,डीएफओ श्री नवीन गर्ग ,जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री देवेंद्र जैन, नायब तहसीलदार श्री रघुनंदन शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive