रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शुक्रवार, 24 सितंबर 2021

MP: बिजली विभाग के आउटसोर्स कर्मचारी 27 सितम्बर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

MP: बिजली विभाग के आउटसोर्स कर्मचारी 27 सितम्बर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर


सागर। प्रदेश भर के बिजली आउटसोर्स कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर 27 सितम्बर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे। इससे बिजली विभाग की व्यवस्थाएं गड़बड़ा सकती है। मध्यप्रदेश 
बिजली आउटसोर्स कर्मचारी संघ के प्रदेशाध्यक्ष मनोज भार्गवने आज मीडिया को यह जानकारी दी। प्रदेश में हजारों की संख्या में आऊटसोर्स  पर कर्मचारी बिजली विभाग में काम सँभाले है। इनकी मांग है कि गुजरात पैटर्न पर यहां सुविधाएं सरकार लागू करे। 
प्रदेशाध्यक्ष मनोज भार्गव ने बताया कि  विगत 23अगस्त को उर्जा मंत्री से बिजली आउटसोर्स कर्मचारियों की मांगों पर चर्चा हुई थी। बिजली आउटसोर्स की 19 मांगों केनिराकरण के संबंध में विस्तृत प्रपोजल (प्रस्ताव)  ऊर्जा मंत्री को सौंपा था। तब ऊर्जा मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर ने बिजली आउटसोर्स की इन समस्याओं के निराकरण हेतु 2-3 दौर में मंत्रालय (बल्लभ भवन) अधिकारी स्तर पर कर्मचारी प्रतिनिधियों की चर्चा कराकर एक माह में बिजली आउटसोर्स कर्मियों से जुड़ी इन मांगों के निराकरण करने का हमें आश्वासन दिया था। लेकिन करीब 1 माह बीतने पर भी उस दिशा में आउटसोर्स प्रतिनिधियों से कोई भी उच्च स्तरीय बैठक ही प्रारंभ नहीं हुई है। इसको लेकर  आगामी 27 सितम्बर 2021 से मध्य प्रदेश के बिजली आउटसोर्स कर्मचारी "अनिश्चितकालीन आंदोलन" हेतु विवश है। 
इस मौके पर प्रवक्ता विनोद शुक्ला, यादवेंद्र पटेल, धनप्रसाद,गुलाब लोधी, गब्बर सिंह सहित जिले भर के पदाधिकारी मौजूद थे। आज एक ज्ञापन भी बिजली विभाग को दिया।




तीनबत्ती न्यूज़. कॉम

के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे




ट्वीटर  फॉलो करे



वेबसाईट


ये है मांगे:(1) केन्द्र सरकार के आल इंडिया कंज्यूमर प्राईज इंडेक्स पर आधारित महंगाई दर को आधार बनाकर
तैलंगाना व अन्य राज्य अपने यहां के आउटसोर्स -दैनिक वेतन भोगी - संविदा कर्मचारियों को केन्द्र के समकक्ष न्यूनतम वेतन प्रदान कर रहे हैं तो मध्य प्रदेश के बिजली आउटसोर्स कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन उस अनुपात क्यों नहीं बढाया जा रहा है। कृपया इसे तत्काल गुणात्मक रूप से पुनरीक्षित करवाने का कष्ट करें।
(2) म.प्र.के बिजली क्षेत्र से ठेकेदारी कल्चर समाप्त कर आउटसोर्स रिफार्म नीति बनाई जावे। इस हेतु लघु व छोटे पद सृजित कर अर्थात छोटा कैडर बनाकर ठेका कर्मियों का इन पदों पर संविलियन कर उन्हें विनियमित किया जाये एवं इन ठेका कर्मियों को बिजली कंपनी से ही सीधा वेतन दिलाया जावे। मुख्यालय : 19 दुर्गापुरी तानसेन रोड, ग्वालियर व्हाट.8103304516
(3) बिजली आउटसोर्स सबस्टेशन ऑपरेटर, पॉवर प्लान्ट ऑपरेटर एवं हेल्परों तथा सुरक्षा सैनिकों को सप्ताहिक अवकाश अनिवार्यतः दिये जाने हेतु स्पष्ट आदेश जारी किये जावे एवं साप्ताहिक
अवकाश के दिन ठेका संविदा कर्मियों से काम लिये जाने पर उन्हें सी.ऑफ इंकेशमेंट दिया जावे। नियमित कर्मियों की तरह आउटसोर्स-संविदा कर्मियों को भी राष्ट्रीय त्यौहार पर काम करने के ऐवज
में एडिशनल वेजेस एलाउस प्रदान करने संबंधी प्रावधान किया जाये,क्योंकि ठेका कर्मियों को राष्ट्रीय त्यौहार की पात्रता है किन्तु उन्हें दीपावली सहित अन्य त्यौहारों पर जनहित में काम करने पर मजबूर होना पड़ता है।
(4) बिजली आउटसोर्स कम्प्यूटर ऑपरेटर, 33/11 के.व्ही.-132/220 के.व्ही. सब स्टेशन ऑपरेटर एवं पावर प्लांट ऑपरेटरों को कुशल श्रमिक के स्थान पर उच्च कुशल श्रमिक का मासिक मानदेय प्रति माह प्रदान किया जाये।
(5) म.प्र. के स्वास्थ्य कर्मियों की तरह आपातकालीन बिजली ठेका -संविदा कर्मियों को भी 3 हजार रूपये प्रोत्साहन भत्ता प्रदान किया जावे एवं सभी 6 बिजली कम्पनी के ठेका श्रमिकों को बोनस दिया जाये।
म.प्र. की 6 बिजली कम्पनियों में पूर्व से काम कर रहे 45 साल उम्र पार कर चुके ठेका कर्मियों को 60 वर्ष तक सेवा में रखे जाने हेतु आदेश जारी किया जाये एवं हटाये गये ठेका कर्मी वापिस सेवा में रखे जावें।
(7) म.प्र. में बढ़ती बिजली दुर्घटनाओं को देखते हुए बिजली आउटसोर्स सब स्टेशन ऑपरेटर, पावर प्लांट ऑपरेटर एवं हेल्परों को एन.पी.एस. या अन्य स्कीम के तहत 3 माह का तकनीकि प्रशिक्षण
अनिवार्यतः दिये जाने हेतु आदेश जारी किये जावें।
(8) ठेकेदारी प्रथा के दौरान विद्युत दुर्घटना में मृतक हुए सभी बिजली आउटसोर्स ठेका कर्मियों के परिजनों के संविदा नियुक्ति दिये जाने का प्रावधान करने हेतु आदेश जारी किये जावें।
(9) आउटसोर्स कर्मियों को उनके गृह स्थान से अधिकतम पांच किलोमीटर दूरी से अधिक दूरी पर ट्रान्सफर नहीं किया जावें, क्योंकि अल्पवेतन पाने वाले आउटसोर्स कर्मियों के वेतन का बड़ा हिस्सा ट्रान्सर्पोटेशन में ही खर्च हो जाता है।
(10) आउटसोर्स कर्मियों से उनके पद के अनुरूप काम करवाया जाये, सुरक्षा गार्ड से केवल सुरक्षा गार्ड का ही काम करवाया जावे। म.प्र.की ट्रान्समिशन व जनरेशन विंगों में जारी छोटे पेटी कॉन्टेक्ट खत्म हों।
(11) प्रदेश की सभी 6 बिजली कम्पनियों में ठेका कर्मियों को ऑफर लेटर, आई.कार्ड, हर माहवेतन पर्ची
, इंश्योरेंस व ईएसआईसी कार्ड की प्रति अनिवार्यता दी जावेवमासिक वेतन समय पर दिया जावे।
(12) म.प्र. के सभी सब स्टेशन व जनरेशन पॉवर प्लान्ट विंगों में सभी प्रकार के सुरक्षा उपकरण, वॉटर
फिल्टर व शौचालय जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करायी जावें।

---------------------------- 







तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885



--------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive