गुरुवार, 17 मार्च 2022

मध्यप्रदेश विद्युत मंडल विदिशा के प्रभारी सुपरिटेंडेंट इंजीनियर संपूर्णानंद शुक्ला 15 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए

मध्यप्रदेश विद्युत मंडल विदिशा के प्रभारी सुपरिटेंडेंट इंजीनियर संपूर्णानंद शुक्ला 15 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए

भोपाल। लोकायुक्त पुलिस ने बुधवार की रात एक वेयरहाउस में ट्रांसफार्मर की चार्जिंग अनुमति देने के लिए 15 हजार रुपये की रिश्वत ले रहे बिजली कम्पनी के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर सम्पूर्णानंद शुक्ला को रंगे हाथों पकड़ लिया। शुक्ला विदिशा के होटल में रिश्वत ले रहे थे। लोकायुक्त इंस्पेक्टर रजनी तिवारी ने बताया कि गंजबासौदा निवासी जफर कुरैशी ने शिकायत की थी कि शुक्ला वेयर हाउस निर्माण के लिए ट्रांसफार्मर चार्जिंग की अनुमति के लिए रिश्वत की मांग कर रहे है। कुरैशी ने रिश्वत मांगने के सबूत भी दिए। इसी आधार पर लोकायुक्त दल बुधवार की रात सांची रोड स्थित होटल के बाहर पहुंचा। यहां शुक्ला भोजन के लिए आये थे। रजनी ने बताया कि जफर उनके साथ था।




 फोन पर शुक्ला से बात कर जफर होटल के गेट पर पहुंचा और उसने 15 हजार रुपये शुक्ला के हाथ मे दे दिए।शुक्ला ने तत्काल यह नोट अपने बगल में खड़े ड्राइवर करन राजपूत को थमा दिए। इसी दौरान लोकायुक्त के दल ने दोनों को पकड़ लिया। इंस्पेक्टर रजनी के मुताबिक शुक्ला के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। मालूम हो, शुक्ला कुछ दिन पहले ही विदिशा में एसई के रूप में पदस्थ हुए है।



तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense