सोमवार, 14 मार्च 2022

मिर्गी एवम पुराने सिरदर्द का है सौ फीसदी इलाज

मिर्गी एवम पुराने सिरदर्द का है सौ फीसदी इलाज
सागर। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की सागर ब्रांच ने सिविल लाइंस स्थित एक होटल में सीएमई आयोजित की। जिसमे मेदांता हॉस्पिटल इंदौर से आए न्यूरोलॉजिस्ट डा वरुण कटारिया ने बताया की आधुनिक चिकित्सा विज्ञान में हो रही उत्तरोत्तर प्रगति की वजह से लगभग सभी किस्म के मिर्गी के झटके का, बिना साइड इफेक्ट के ,इलाज संभव है,इस अवसर पर सागर के न्यूरोलॉजिस्ट डा दीपांशु दुबे ने सिरदर्द के विभिन्न प्रकारों के लक्षण एवम इलाज पर रोशनी डाली तथा नए चिकित्सा शोधों से अवगत कराया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता डा राजेंद्र चउदा ने की,एवम चेयरपर्सन की तौर पर डा अमिताभ जैन और डा मनीष झा उपस्थित थे। इस अवसर पर समस्त सदस्यों ने क्लिनिक एवम अस्पताल में हो रही हिंसा का घोर विरोध किया एवम इस मामले में अब जीरो टॉलरेंस की वकालत की ,और ऐसे झगड़ालू परिवारों को आईएमए सागर द्वारा प्रतिबंधित करने की मांग पर जोर दिया।



कार्यक्रम का संचालन डा तल्हा साद ने किया ,इस अवसर पर डा मधु जैन, डा संजीव मुखारया,डा केके शाक्य ,डा राजेश पटेल गैस्ट्रो एंटीरोलॉजिस्ट  ,डॉ अरुण दवे , एस. एस. खन्ना , डॉक्टर अनिल तिवारी , , डॉ प्रॉमिस जैन , डॉक्टर अमित वर्मा , डॉ पुष्कर रानाडे  , डॉ संज्योत महेश्वरी  डॉ ईशान दुबे , डॉक्टर मनोज साहू इत्यादि मौजूद थे। अंत में आईएमए की संगोष्ठी का आभार पैथोलॉजिस्ट डा ईशान दुबे ने माना ।


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense