अभियोजन अधिकारियों की साग़र संभाग की एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

रविवार, 29 मार्च 2020

गृहस्थ संत सही दद्दाजी की पत्नी कुंती देवी पंचतत्व में विलीन, नम आंखों से लोगों ने दी अंतिम विदाई

गृहस्थ संत सही दद्दाजी की पत्नी कुंती देवी पंचतत्व में विलीन, नम आंखों से लोगों ने दी अंतिम विदाई
सागर।  गृहस्थ संत पं.देवप्रभाकर शास्त्री दद्दाजी की धर्मपत्नी श्रीमती कुंती देवी छोटी जिज्जी आज पंचतत्व में विलीन हो गयी।उनका देर रात्रि में दुखद निधन हो गया था।  सरकार द्वारा  पारित आदेश सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए दद्दा धाम कटनी में ही अंतिम संस्कार किया गया।  बड़े भैया डॉ अनिल त्रिपाठी ने उनकी पार्थिव देह को मुखाग्नि दी। आचार्य पूरन लाल जी शास्त्री,  कालिका प्रसाद पांडे ने पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार डॉ अनिल त्रिपाठी से कराया ।सुबह 10बजे  डॉ सुनील त्रिपाठी जी के निवास से अंतिम यात्रा शुरू हुई
गमगीन था  शिष्य परिवार
जिज्जी शिष्य परिवार के सदस्यों को एक सूत्र में पिरोयी थी  रिश्तेदार व शिष्य परिवार की महिलायें गमगीन थी और रो रही थी। परिवार का भी रो रोकर बुरा हाल था। सभी लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए डॉ अनिल त्रिपाठी डॉ सुनील जी त्रिपाठी नीरज त्रिपाठी संतोष पांडे  पूर्व मंत्री संजय पाठक सभी को सांत्वना दे रहे थे।दद्दा शिष्य मंडल सागर से डा.सुखदेव मिश्रा. वीरेन्द्र गौर. सुरेन्द्र सुहाने. उत्तम सिंह ठाकुर. राजकुमार तिवारी. शांतिस्वरूप दुबे. राजेन्द्र सुहाने. सुशील सुहाने. निकेश गुप्ता.संजीव श्रीवास्तव. अजय गर्ग.अज्जू साहू.मोहन कुशवाहा.शुभम तिवारी. कपिल तिवारी सहित बडी संख्या में गुरू भाई ने अंतेष्टि में शामिल हुए ।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive