आपदामपहर्तारं दातारं सर्वसम्पदाम्‌ । लोकाभिरामं श्रीरामं भूयो भूयो नमाम्यहम्‌ ॥ श्री रामनवमी की हार्दिक शुभकामनाएं

सोमवार, 4 जनवरी 2021

बतौर मन्त्री विकास सम्बन्धी कार्यो में अनुकूलता,अन्यथा विधायक रहते सँघर्ष ज्यादा ★ भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष और विधायक प्रदीप लारिया का बयान

बतौर मन्त्री विकास सम्बन्धी कार्यो में अनुकूलता,अन्यथा विधायक रहते सँघर्ष ज्यादा

★ भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष और विधायक प्रदीप लारिया का बयान


*  कुछ महीने पहले विधायक लारिया को मन्त्री बनाने के समर्थन में उनके समर्थकों ने भोपाल में प्रदर्शन भी किया था


सागर। ( तीनबत्ती न्यूज़)। एमपी में मन्त्रिमण्डल के विस्तार में सिर्फ सिंधिया समर्थकों को बनाये जाने के बाद भाजपा विधायकों में निराशा का भाव बना हुआ है। अभी तीन चार मन्त्री पद खाली भी है । कई वरिष्ठ विधायक मन्त्री बनने की दौड़ में है। 
सागर जिले की नरयावली विधानसभा क्षेत्र से लगातार तीन दफा से चुनाव जीत रहे अनुसूचित जाति के विधायक और भाजपा के रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप लारिया  को आज मी डिया ने  मन्त्री बनने के सवालों पर घेर लिया। लारिया आज अजा वर्ग के विधार्थियो के लिए केंद्र सरकार द्वारा छात्रवृत्ति बढाने पर चर्चा कर रहे थे।  हालांकि सागर जिले से तीन मन्त्री गोपाल भार्गव ,भूपेंद्र सिंह और गोविंद राजपूत के बनने के कारण बाकी विधायको की  उम्मीदों पर फिलहाल पानी फिर गया है। 


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें
@weYljxbV9kkvq5ZB


वेबसाईट


विधायक लारिया का कहना है कि मन्त्री बनाना मुख्यमंत्री के विशेष अधिकार है। यह उनका निर्णय है। वैसे क्षेत्र का विकास विधायक रहते कराना सम्भव है। लेकिन सँघर्ष बहुत है। मन्त्री बनने के बाद कामो में अनुकूलता रहती है। उन्होंने अजा वर्ग से कम मन्त्री होने के सवाल पर कहा कि सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व मिला है। मन्त्री बनाना पार्टी और सीएम का  मामला है। उनहोंने समर्थकों द्वारा प्रदर्शन करने के सवाल पर कहा कि ये क्षेत्र के लोगो को भावनाएं थी। मेने कभी मन्त्री को लेकर विरोध नही किया। न ही करूंगा।  
यहां बता दे विधायक प्रदीप लारिया के समर्थकों ने पिछले मन्त्रिमण्डल विस्तार के समय भोपाल में भाजपा कार्यालय में नारेबाजी की थी। 

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


SAGAR : ऑक्सीजन की प्रति घंटे के हिसाब से कीमत तय ,लो फ्लो ऑक्सीजन प्रति घंटे डेढ़ सौ एवं हाईफ्लो ऑक्सीजन व्हिथ वेंटीलेटर 300 रुपये

Archive