सोमवार, 4 जनवरी 2021

मुख्यमंत्री ने चिट फंड कंपनियों के विरुद्ध उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सागर कलेक्टर को दी बधाई


मुख्यमंत्री ने चिट फंड कंपनियों के विरुद्ध उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सागर कलेक्टर को दी बधाई

★कलेक्टर्स- कमिश्नर्स कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री 
ने जिलेवार सालाना विकास प्लान तैयार करने के दिये निर्देश  ,कार्ययोजना बनाकर अधिक से अधिक राजस्व वसूली करें

सागर । वर्चुअल माध्यम से आयोजित हुई कलेक्टर्स- कमिश्नर्स कॉन्फ्रेन्स में मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चैहान ने सागर कलेक्टर  दीपक सिंह द्वारा चिटफंड कंपनियों के खिलाफ की गई कार्यवाही पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी। उल्लेखनीय है कि, कलेक्टर श्री दीपक सिंह द्वारा सहारा क्रेडिट कंपनी की 100 एकड़ भूमि कुर्क की गई थी, साथ ही दूसरी चिट फंड कंपनियों के खिलाफ भी 4 एफ.आई.आर. दर्ज की गई थी। इन कार्रवाई के बाद आवेदकों को 11 लाख रुपये भी वापस किए गए।

कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री श्री चैहान में मध्य प्रदेश राज्य के समस्त जिलों के लिए जिला वार सालाना विकास प्लान तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ये प्लान जिले के संसाधनों के आधार पर बनाए जाएँ।
मध्यप्रदेश राज्य में सुशासन के लिये निरंतर कार्य किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने समस्त कलेक्टरों को निर्देश दिया कि राजस्व वसूली हेतु कार्य कार्य योजना  बनाकर वसूली करें

मिलावट से मुक्ति अभियान में भी सागर ने किया बेहतर प्रदर्शन


मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलों के द्वारा मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत की जा रही कार्यवाही की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि, दूध मसाले आदि खाद्य पदार्थों में मिलावट करना स्वास्थ्य के प्रति छेड़खानी के साथ साथ मानव जीवन के साथ खिलवाड़ करना है। सागर में भी लगातार इस दिशा में कार्य किया जा रहा है। विभिन्न दुकानों, फैक्टरियों से सैंपल लेकर जाँच के लिए भेजे जा रहे हैं तथा मानक ना पाए जाने की स्थिति में उन पर कार्यवाही की जा रही है साथ ही लाइसेंस भी रद्द किए जा रहे हैं।
अवैध निर्माण, अतिक्रमण पर विशेष बल देते हुए मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि उनका उद्देश्य राज्य को अतिक्रमण मुक्त बनाना है।अतः भू माफियाओं, गुंडों, शासकीय भूमि पर अवैध कब्जाधारियों पर नियम सम्मत कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह ने प्रदेश में रोजगार मूलक योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति, स्व सहायता समूहों के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए बैंक लिंकेज, मार्केट लिंकेज की समीक्षा की। उन्होंने प्रधानमंत्री स्वनिधि एवं मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना के क्रियान्वयन,नगरीय क्षेत्रों में स्वच्छता सर्वेक्षण, 2021 की तैयारियों की समीक्षा,लोक परिसंपत्तियों के प्रभावी प्रबंधन हेतु जिलों से अपेक्षायें,मध्यप्रदेश में गौशालाओं के संचालन एवं प्रबंधन की समीक्षा ,प्रदेश में खनिज के अवैध उत्खनन की रोकथाम, प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति की समीछा की।
इसके अतिरिक्त उन्होंने समर्थन मूल्य पर धान ख़रीदी, अमानक बीज, अवैध रेत उत्खनन तथा परिवहन, महिला अपराध के विरुद्ध की गई कार्यवाही से संबंधित विषयों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में साइबर क्राइम को रिपोर्ट करने के लिए कॉल सेंटर बनाने की आवश्यकता है। साथ ही सायबर एथिक्स से संबंधित ओरिएंटेशन ट्रेनिंग की भी आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि , मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में वन अधिकार की पटेधारियों को भी शामिल किया जाए। नवीन राशन पात्रता पर्ची का वितरण शत प्रतिशत किया जाए।
उन्होंने आगामी योजनाओ के बारे मे बताया। जिसमें प्रदेश में महिला पुलिस वालेन्टियर स्कीम,वार्ड एवं ग्राम पंचायतों में महिला स्वयं सेवक, पुलिस एवं जनता के मध्य सेतु, 42 महिला थानों के प्रस्ताव , सेफ सिटी प्रोजेक्ट ,महिला हेल्प लाईन 1090 का उन्नयन ,जागरुकता अभियान सम्मान शामिल हैं।
  उन्होंने अन्न उत्सव के आयोजन के बारे में बताया कि प्रत्येक दुकान पर अन्न उत्सव का आयोजन कर सामग्री का वितरण किया जाये। प्रत्येक माह की 07 तारीख अथवा कलेक्टर द्वारा निर्धारित तारीख को किया जाये।

अन्न उत्सव, स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में आयोजन किया जाये। दुकानदार नोडल अधिकारी को नियुक्ति ,पात्र हितग्राहियों को राशन का वितरण किया जाये एवं  दुकान के स्टाक का सत्यापन , दुकानों पर सूचना का पदर्शन एवम  प्रसार - प्रसार किया जाये।
मिलावट से मुक्ति अभियान भू माफिया की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चैहान ने निर्देश दिए कि किसी भी कीमत पर मिलावटखोरों को बख्शा ना जाए और सख्त कार्रवाई की जाए जिला एक उत्पाद की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चैहान ने निर्देश दिए कि समस्त जिले  उत्पाद का चयन कर उत्पादन को बढ़ावा देवे।एवम जनसंपर्कके माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जावे। आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए अभियान चलाया जाए जिससे से अधिक से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाए जा सके। जनसुनवाई के प्रकरण का समय सीमा में निराकरण किया जाए।

इस अवसर पर सागर से संभागायुक्त  मुकेश शुक्ला, आइजी  अनिल शर्मा, कलेक्टर  दीपक सिंह, पुलिस अधीक्षक  अतुल सिंह, अपर कलेक्टर  अखिलेश जैन, नगर निगम आयुक्त श्री आरपी अहिरवार, विभिन्न विभागों के संभागीय एवं जिला अधिकारियों ने भाग लिया ।

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive