रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

सोमवार, 19 अप्रैल 2021

कोरोना वारियर्स डॉ सत्यम मिश्रा को बचाने की जद्दोजहद, एयर एम्बुलेंस से ले गए हैदराबाद, साग़र से भोपाल तक बना ग्रीन कॉरिडोर

कोरोना वारियर्स डॉ सत्यम मिश्रा को बचाने की जद्दोजहद, एयर एम्बुलेंस से ले गए हैदराबाद, साग़र से भोपाल तक बना ग्रीन कॉरिडोर

★ शासकीय बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज साग़र में टीवी और चेस्ट विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ सत्यम मिश्रा कोविड मरीजो की सेवा में लगे थे, हुए पाजिटिव, फेफड़े खराब हुए

सागर ।  ( तीनबत्ती न्यूज़.कॉम )। कोरोना  संक्रमण की भयावह तस्वीर अब सामने आने लगी है। कोविड मरोजो को सेवाएं दे रहे डॉक्टर्स और स्टाफ भी कोरोना संक्रमण का शिकार बन रहा है । ऐसे में हॉस्पिटलों में कोविड मरीजो का इलाज करना चुनोती बनता जा रहा है।  साग़र के सरकारी बुन्देलखण्ड मेडिकल कालेज से एक ऐसी ही तस्वीर सामने आई है। मेडिकल कालेज के टीबी  और चेस्ट विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ सत्यम मिश्रा कोविड मरीजो की सेवा में लगे थे ।  38 वर्षीय डॉ मिश्रा 12 अप्रैल को कोरोना के शिकार हुए। उनके इलाज के दौरान तेजी से फेफड़े खराब होने लगे। डॉ मिश्रा को मेडिकल कालेज से सागर के ही एक निजी कोविड हास्पिटल भाग्योदय तीर्थ में भर्ती कराया गया। भाग्योदय तीर्थ हॉस्पिटल में  उनकी हालत सुधरी नही  है। अब उनको हैदराबाद में फेफड़े ट्रांसप्लांट के लिए एयर एंबुलेंस के जरिये ले जाया गया है। रविवार को भोपाल में एयर एंबुलेंस आई। भोपाल से सागर में भाग्योदय हॉस्पिटल तक सड़क मार्ग से विशेष एम्बुलेंस आई। और आज सुबह 5 बजे भोपाल 175 किलोमीटर के कॉरिडोर बनाकर ले गए। भोपाल से एयर एम्बुलेंस के जरिये हैदराबाद ले जाया गया। 
मुख्यमंत्री के निर्देश पर हुई व्यवस्थाएं

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में पदस्थ डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा कोरोना संक्रमित होने के पश्चात फेपड़ों में अत्याधिक संक्रमित हो जाने के कारण उचित इलाज हेतु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर कलेक्टर  दीपक सिंह द्वारा मध्य प्रदेश शासन के द्वारा उपलब्ध कराई गई एयर एंबुलेंस के माध्यम से डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा को हैदराबाद भेजा गया।
कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देश के तत्काल पश्चात हैदराबाद के डॉक्टरों से चर्चा करने के पश्चात रविवार को ही एयर एंबुलेंस का भुगतान कर एयर एंबुलेंस भोपाल बुलाई गई ।भोपाल एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से विशेष एंबुलेंस के माध्यम से हैदराबाद के डॉक्टरों की विशेष टीम रात्रि में  सागर भाग्योदय अस्पताल पहुंची ।
सागर पहुंचते ही हैदराबाद की डॉक्टरों की टीम ने डॉ सतेंद्र मिश्रा का संपूर्ण परीक्षण करने के उपरांत प्रातः 5:00 विशेष एंबुलेंस के माध्यम से भोपाल के लिए भेजा गया ।
कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि सागर भाग्योदय अस्पताल से लेकर भोपाल एयरपोर्ट तक 175 किलोमीटर लंबा ग्रीन काली रोड बनाया गया। जिसमें पुलिस अधीक्षक श्री अतुल सिंह द्वारा उपलब्ध कराया गया पुलिस बल की माहिती भूमिका रही ।

डॉक्टर सत्येंद्र मिश्रा का इलाज कर रहे है छय एवं छाती रोग विशेषज्ञ डॉक्टर सौरभ जैन ने बताया कि हैदराबाद के डॉक्टरों की टीम रात्रि 12 बजे पहुंची उन्होंने डॉ मिश्रा को वेंटिलेटर पर रखकर संपूर्ण परीक्षण किया ।तत्पश्चात प्रातः 5 बजे सड़क मार्ग से ग्रीन कालीडोर के माध्यम से भोपाल एयरपोर्ट ले गए जहां से एयर एंबुलेंस के माध्यम से प्रातः 10.30 हैदराबाद की अस्पताल पहुंचे और उनका इलाज प्रारंभ कराया गया।

बीएमसी के डॉक्टर उमेश पटेल का कहना है कि  कलेक्टर दीपक सिंह और विधायक शेलेन्द्र जैन के प्रयासों से डॉ मिश्रा का इलाज संभव हो पाया। उन्होंने सभी शुभचिंतकों का आभार भी जताया।
  ---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive