SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021

लापता कोविड मरीज का शव मिला, परिजनों ने की शिनाख्त, तीन दिन से लापता थे मुन्ना लाल जैन

लापता कोविड मरीज का शव मिला, परिजनों ने की शिनाख्त, तीन दिन से लापता थे मुन्ना लाल जैन

★ मेडिकल कालेज प्रबंधन के रिकार्ड में  बेहतर इलाज कराने डिस्चार्ज किये गए थे मुन्ना लाल


साग़र। साग़र शहर के कोरोना संक्रमित मरीज मुन्ना लाल जैन के लापता होने की गुत्थी अभी सुलझी नही थी कि उनकी लाश मिलने से मामला और अधिक उलझ गया है। शास्त्री वार्ड निवासी मुन्ना लाल 14 अप्रैल को कोविड लक्षण मिलने पर शासकीय बुंदवलखण्ड  मेडिकल कालेज साग़र में एडमिट हुए थे। 18 अप्रैल तक उनके बेटे अंशुल का पिता से सम्पर्क बना रहा । 19 तारीख के बाद जब कोई खबर नही मिली तो बेटे ने मेडिकल कालेज में तलाशी की। सोसल मीडिया पर खबर चली। 21 अप्रैल को बीएमसी प्रबंधन ने बताया कि मुन्ना लाल 19 अप्रैल को डिस्चार्ज हुए। उनको परिजन बेहतर इलाज के लिए ले गए। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

इस जानकारी ने मुन्ना लाल के परिजनों की चिंताएं बढा दी। परेशान बेटे अंशुल ने गोपालगंज थाना  में गुमशुदा की रिपोर्ट दर्ज कराई।  आज शुक्रवार को केंट थाना क्षेत्र में मुन्ना लाल का शव मिला।  सबइंस्पेक्टर विकास कुमार के अनुसार मृतक के शरीर पर चोट के निशान नही मिले है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। मुन्ना लाल बीएमसी से लापता हुए थे। 
बेटे अंशुल का कहना था कि परिजनों को बिना बताए किस आधार पर पिता को डिस्चार्ज किया गया। बीमसी प्रशाज़न किं लापरवाहि है। 
शिनाख्ती करने पूछे उनके रिश्तेदारों ने भी लापरवाही का आरोप लगाया है । बहरहाल मुन्ना लाल की मौत ने कई सवाल खड़े किए है । 
बीएमसी ने गायब मुन्नालाल जैन के बेटे अंशुल को DAMA स्लिप देकर पल्ला झाड़ लिया है। इस स्लिप के मूताबिक मुन्नालाल के परिजन बेहतर इलाज के लिए डिस्चार्ज करा लें गए। 


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------





0 comments:

एक टिप्पणी भेजें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive