SAGAR : 8000 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना से जीती जंग ,आत्मबल और मनोबल बनाए रखें

शनिवार, 24 अप्रैल 2021

SAGAR: संधिग्ध कोविड मरीज की मौत , मुस्लिम समाज के लोगो की मदद से हुआ अंतिम संस्कार ★ पीपीई किट पहनी मुस्लिमो ने और घर से श्मशान घाट तक पहुचाने में की मदद ★शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज साग़र के कर्मचारी की हुआ निधन

SAGAR: संधिग्ध कोविड मरीज की मौत , मुस्लिम समाज के लोगो की मदद से हुआ अंतिम संस्कार 
★ पीपीई किट पहनी मुस्लिमो ने और घर से श्मशान घाट तक पहुचाने में की मदद
★शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज साग़र के कर्मचारी की हुआ निधन



साग़र। (तीनबत्ती न्यूज़) ।कोरोना आपदा  में सामाजिक  सदभाव  की मिसाल भी सामने आ रही है। हिन्दू और मुसलमान का भेद तोड़कर लोग एक दूसरे की मदद के लिए सामने आ रहे है। साग़र शहर के रामपुरा वार्ड  निवासी  शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज साग़र में पदस्थ  उल्लास हार्डिकर की मौत हो गई। उनकी कुछ दिनों से तबियत खराब थी।  तबियत बिगड़ने पर उनकी कल शुक्रवार को कोविड जांच हुई थी। उल्लास होम आईशोलेशन में थे। आज उनकी मौत हो गई। घर मे उनकी पत्नी  एक बेटा  - बहु है। उल्लास को जब अंतिम संस्कार के लिए घर से शव वाहन तक ले जाने और श्मशान घाट तक की बात आई तो  पड़ोसी और परिचित सामने नही आये। ऐसे में एक व्यक्ति ने साग़र मुस्लिम समाज के लोगो को फोन लगाया। कब्रिस्तान कमेटी और समाज के कुछ लोग आगे आये। उन्होंने पीपीई किट पहनी। शव को  घर से चौराहे तक शव वाहन तक उठाकर लाये। फिर बाइक से नरायवली नाका मुक्तिधाम तक गए। जहां अंतिम संस्कार हुआ। 

तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें


वेबसाईट

कब्रिस्तान कमेटी के अध्यक्ष इरशाद खान पप्पू पहलवान ने बताया कि उनके पास फोन आ आया था कि रामपुरा में उल्लास जी का निधन हो गया है। अंतिम संस्कार के लिए ले जाना है।हम लोग आए और व्यवस्था की।
बेटे मधुर बेलापुरकर ने बताया कि पिता जी को हल्का निमोनिया था। जिसकी जांच कराई थी। आज उनका निधन हो गया। अंतिम संस्कार के समय  संकट में मुस्लिम समाज ने मदद की। 


---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------


0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


SAGAR: जिला अस्पताल में 10 दिन में तैयार हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट , 100 बिस्तरों को रोज मिलेगी ऑक्सीजन

Archive