मंगलवार, 19 अप्रैल 2022

SAGAR : मनरेगा योजना से गरीब किसान प्रशांत पटेल की बदली किस्मत ★ सरकारी योजना से लगाये थे नींबू, महंगे हुए नीबू तो चमकी किश्मत★ 2 एकड़ खेत में 200 से 300 नींबू के पेड़ों में लबालब लगे हजारों नींबू

SAGAR : मनरेगा योजना से गरीब किसान प्रशांत पटेल की बदली किस्मत 
★ सरकारी योजना से  लगाये थे नींबू, महंगे हुए नीबू तो चमकी किश्मत

★ 2 एकड़ खेत में 200 से 300 नींबू के पेड़ों में लबालब लगे हजारों नींबू

सागर। पूरे देश मे नीबू की महंगे दामो ने गर्मी के मौसम में परेशान कर दिया । लेकिन नीबू की खेती करने वालो की किस्मत चमक गई। ऐसी ही एक तस्वीर एमपी के सागर जिले के देवरी जनपद क्षेत्र की सामने आई। जहाँ कुछ किसानों ने सरकारी योजनाओं का लाभ लिया और मनरेगा योजना से नीबू की खेती की। यह फसल भी बढ़िया और अब दाम भी अच्छे मिल रहे है। 

              ★ किसान : प्रशांत पटेल




जहां पूरे मध्यप्रदेश में इस वर्ष नींबू की भारी मात्रा में कमी बताई जा रही है एवं नींबू की कमी से पूरा मध्यप्रदेश में जूझ रहा तथा नींबू की कमीहोने  से  मध्य प्रदेश भर में नींबू के इतने काफी ज्यादा रेट हो गए हैं की प्रत्येक नींबू 10 से ₹20 तक का बेचा जा रहा वही सागर जिले के देवरी जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत डोभी सिमरिया मैं एक गरीब कृषक ने मनरेगा योजना से जुड़ कर करीब 200 से 300 नींबू के पेड़ लगाकर हजारों की संख्या में नींबू  बेच रहा है । 


जिसके बारे में किसान प्रशांत ने बताया की विगत वर्ष पूर्व मनरेगा योजना अंतर्गत जनपद पंचायत देवरी द्वारामैने  निंबू का वृक्षारोपण का कार्य 2 एकड़ जमीन में किया,जिसमें  ग्राफ्टेड निंबू के पौधे लगाए सही समय पर सिंचाई की और खाद आदि का समुचित ध्यान रखा,जिसका परिणाम यह रहा कि आज मेरे खेत में करीब 200 से 300 नींबू के पेड़ स्वस्थ हैं,जिसमें प्रत्येक में लगभग 70-90 नींबू लगे हुए हैं, पहले में  मजदूरी करके जीवन यापन कर रहा था।


परशांत कहते है कि आज मेरा एक बागान बन कर तैयार हो गया है,एक ग्राफ्टेड नींबू 10 से ₹20 का बिक रहा है।  यह सब कार्य देवरी सीईओ एवं सहायक सचिव के प्रयास से हो पाया जिन के सहयोग से मैं शासन की मनरेगा योजना से जुड़ कर आज लाभ कमा पा रहा हूं।



  ★  देवेंद्र जैन,सीईओ ,देवरी जनपद पंचायत

सीईओ जनपद पंचायत देवरी देवेंद्र जैन बताते है कि कुछ किसानों को मनरेगा के तहत क्राफ्टेड नीबू की खेती कराई थी। अब उनकी फसल अच्छी आ गयी है। वर्तमान में अच्छी कमाई किसान को हो रही है। 


सहायक सचिव डोभी सिमरिया  -चंद्रभान कुर्मी कहते है कि मनरेगा के तहत नीबू की खेती किसानों ने की चार सौ पेड़ उग आए। उनको अच्छा मुनाफा भी मिल रहा है। 


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense