रानगिर की माँ हरसिद्धि माई

शनिवार, 27 मार्च 2021

विश्व रंगमंच दिवस पर हुई अन्वेषण की प्रस्तुति

विश्व रंगमंच दिवस पर हुई अन्वेषण की प्रस्तुति



सागर।  27 मार्च को विश्व रंगमंच दिवस के अवसर पर अन्वेषण थिएटर ग्रुप द्वारा स्थानीय रविंद्र भवन में शाम 7:00 बजे से कुत्ते नामक नाटक का मंचन किया गया | नाटक में दिखाया गया कि किस तरह एक आदमी जानवर बनकर वहशी हो जाता है | विकृत मानसिकता का आदमी इस हालत में पहुंचता है कि वह किसी स्त्री को स्त्री न समझ कर उसे मात्र एक भोग की वस्तु समझता है | इसी विषय वस्तु के माध्यम से नाटक ने लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया और नाटक की भूरि-भूरि प्रशंसा की | कोरोना के चलते सरकारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए अन्वेषण द्वारा इस नाटक की प्रस्तुति दी गई | नाटक में मुख्य कलाकारों के रूप में करिश्मा गुप्ता, संतोष सिंह दांगी (सरस), प्रवीण केम्या, अतुल श्रीवास्तव, एवं दीपक राय शामिल थे | नाटक के लेखक विजय तेंदुलकर  और नाटक का निर्देशन किया जगदीश शर्मा ने | नाटक में मंच परे के कलाकारों में राजीव जाट, कपिल नाहर, नितिन दुबे, ऋषभ सैनी, सतीश साहू, रविंद्र दुबे कक्का, मनोज सोनी,  झुड़ेले, दीपगंगा साहू, असरार अहमद, आशीष चौबे, अश्वनी साहू, नीतेश लोधी, ऐश्वर्या केशरवानी, चंचल आठिया, उदय सिंह भदौरिया, समर पांडेय, आदर्श नामदेव, शिवा ठाकुर, आयुषी चौरसिया आदि शामिल रहे | नाटक की प्रस्तुति के पूर्व कार्यक्रम के अतिथि प्रसिद्ध लोकगायक हरगोविंद विश्व, थिएटर के वरिष्ठ कलाकार डॉ. राकेश सोनी एवं शास्त्रीय नृत्य से जुड़ीं सुश्री अपर्णा चाचौंदिया उपस्थित थे | अतिथियों सहित नाट्य निर्देशक जगदीश शर्मा ने मां सरस्वती की पूजा व मंच पूजा कर कार्यक्रम की शुरुआत की इसके बाद नाटक का मंचन किया गया | नाटक में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दर्शकों से दूरी रखने व मुंह पर मास्क लगाने के लिए बार-बार अनाउंस किया गया जिसका लोगों ने पालन करते हुए नाटक का आनंद लिया |

---------------------------- 





तीनबत्ती न्यूज़. कॉम ★ 94244 37885


-----------------------------

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive