रविवार, 15 दिसंबर 2019

"मिशन-संतोष क्रांति":भ्रष्टाचार मुक्त शांतिपूर्ण जीवन जीने हेतु सामाजिक अभियान चलेगा, संभागीय साहित्यकार सम्मेलन एवं सम्मान समारोह "21-22 दिसम्बर को


"मिशन-संतोष क्रांति":भ्रष्टाचार मुक्त शांतिपूर्ण जीवन जीने हेतु सामाजिक अभियान चलेगा,
संभागीय साहित्यकार सम्मेलन एवं सम्मान समारोह "21-22 दिसम्बर को 

सागर। भ्रष्टाचार मुक्त शांतिपूर्ण जीवन जीने हेतु सामाजिक अभियान "मिशन-संतोष क्रांति" सागर जिले में चलाया जाएगा। यह जानकारी मिशन के संयोजक रिटायर्ड  महाप्रबंधक जिला उधोग  केंद्र सागर कृष्णकान्त बख्शी और इसके सरंक्षक और  बुन्देलखण्ड साहित्य एवंसंस्कृति विकास मंच, सागर के संयोजक मणिकांत चोबे बेलिहाज ने मीडिया को दी। इस  मौकेपर  "21-22  दिसम्बर को  आयोजित होने वाले संभागीय साहित्यकार सम्मेलन एवं सम्मान समारोह  की जानकारी दी गई।
सम्मेलन में 18 साहित्यकारों का सम्मान,5 पुस्तको का लोकार्पण होगा
संयोजक मणीकांत चौबे 'बेलिहाज ने बताया कि
सागर संभागीय साहित्यकार सम्मेलन एवं साहित्यकार सम्मान समारोह समीति तथा
बन्देलखंड हिन्दी साहित्य-संस्कृति विकास समीति के तत्वाधान में दो दिवसीय आयोजन 21-22 दिसम्बर 2019 को बी.एस.जैन धर्मशाला बड़ा बाजार में सुबह 11 बजे से प्रारंभ होगा। इससमारोह में माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति  दीपक तिवारी मख्यअतिथी होंगे। साथ में समाजवादी चिन्तक रघु ठाकुर होगे। डॉ. सुरेश आचार्य ,
सेठ उदयचंद जैन, डा. बद्री प्रसाद जैन, डा, जी.एस. चौबे, संस्था के प्रान्तीय अध्यक्ष शुकदेव
प्रसाद तिवारी, कार्यकारी अध्यक्ष  के.के. बख्शी, पूर्व विधायक सुनील जैन उपस्थित रहेगे। वरिष्ठ
अधिवक्ता संस्कृत महाविद्यालय के अध्यक्ष कृष्ण कांत सिलाकारी की अध्यक्षता में समारोह संपन्न होगा। उदघाटन के साथ साहित्यकारों की चर्चा छात्रों की विभिन्न विषयों पर प्रतियोगितायें होगी। शामके 8 बजे से कवि सम्मेलन मुशायरा होगा दूसरे दिन 22 दिसम्बर को सुबह 8:30 बजे सेसाहित्यकारों का परिचय एवं  11:30 बजे सम्मान समारोह होगा। 4 बजे समीक्षा बैठक 5 बजे समापन होगा। सम्मान समारोह के बाद 5 पुस्तकों का लोकार्पण होगा।
इनका सम्मान होगा
इस बार 18 साहित्यकारों को सम्मानित किया जा रहा है जिनमें सागर से  रघु ठाकुर, डॉ. वेद
प्रकाश दुवे, डॉ. राजेन्द्र मलैया 'नमन', टीकमगढ़ से डॉ. नरेन्द्र मोहन अवस्थी,  पूरन चंद्र गुप्ता
 प्रभुदयाल श्रीवास्तव पीयूष, छतरपुर से श्री मनोज कुमार तिवारी, श्रीमती गायत्री देवी खरे
'केशव', श्री कन्हैया लाल साहू, पन्ना से प्रतीक द्विवेदी, डा. सीमा दीक्षित, श्रीमती मीना मिश्रा,
एस कुमार चनपुरिया, दमोह से श्रीमती आशा राठौर, श्री राजेन्द्र कुमार नेथन, जनाब अब्दुल शकूर अंजुम',निवाड़ी से डा. राजेश पाठक तथा श्रीमती मनीषा पाण्डे पूना महाराष्ट्र से शामिल है।
विमोचन के लिए आर्यभट्ट पंचांग के साथ दमोह के वरिष्ठ साहित्यकार रामकुमार तिवारी
की पुस्तक गोपी बिरह, बरई के युवा राष्ट्र कवि श्री दिलीप गुप्ता चटपटे की काव्य कृति मधु माटी,सागर के जनपथ के कवि बिहारी सागर की नवीन कृति बुन्देली गुईया और सागर के ही अध्यात्म के कवि मोतीलाल मोती की कृति सागर के मीती भाग-2 को सम्मिलित किया गया है। ।
श्यामलम अध्यक्ष उमाकांत मिश्रा, कपिल बैसाखिया, पूरन सिंह राजपूत, राजेन्द्र दुबे
कलाकार, दिनेश साह, राधाकृष्ण व्यास, नलिन जैन, शिखर चंद शिखर, पुष्पदंत हितकर,
देवकीनंदन रावत, शिरोमणी जैन वकील, तथा सागर इकाई के अध्यक्ष डा. सीताराम श्रीवास्तव
भावुक ने समस्त साहित्यकारों और गणमान्य नागरिक को समारोह में सम्मिलित होने की अपीलकी है।
"मिशन-संतोष क्रांति"
इस मौके पर कृष्णकांत बक्शी ने बताया कि आज के दौर में शांतिपूर्ण जीवन व्यततीत करना कठिन है। इसके लिए भ्रष्टाचार मुक्त शांतिपूर्ण जीवन जीने हेतु सामाजिक अभियान चलेगा। 
अभियान की उत्प्रेरक कन्या महाविद्यालय, सागर  की  मनोविज्ञान की प्रोफेसर डॉ रेखा बक्शी है।  उन्होंने कहा की सत्य ,अहिंसा, प्रेम, कर्त्तव्य-परायणता, ईमानदारी, समत्व आदि-आदि मानवीय-मूल्यों को स्थापना कि जरूरत है।। आज के इस अति-भौतिकवादी समाज में भी सर्वोच्चता तो इन्हीं सद्गुणों को प्राप्त
है। हम ईमानदार, कर्त्तव्यपरायण हों अथवा नहीं परन्तु अपने घर अथवा संस्थान में कार्य करने के लिए सत्यनिष्ठ ईमानदार, कर्त्तव्यपरायण व्यक्ति
की ही तलाश करते हैं। हममें भले ही ढेरों दोष हों, परन्तु अपनी सन्तान कोहम इन दोषों से दूर ही रखना चाहते हैं । भौतिकवादी के
मोह-पाश में जकडा मानव इन सदगणों से कतराता फिरता है। इसके लिए एक जागरूकता अभियान सागर जिले में चलाया जाएगा। विकासखंड स्तर पर नैतिक मूल्यों को लेकर गोष्ठी,प्रतियोगिताएं कर जागरूकता अभियान चलेगा। इसके साथ ही बेहतर और ईमानदारी से कार्य करने वालो को प्रेरक की भूमिका निभाहने वालो को जोड़ा जाएगा। जो ब्रांड की तरह होंगे।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive