मंगलवार, 17 दिसंबर 2019

दो पर्यवेक्षकों व दो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस जारी

दो पर्यवेक्षकों व दो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस जारी
सागर । जिला कार्यक्रम अधिकारी भरत सिंह राजपूत द्वारा पिछले दिनों  आकस्मिक आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण किया गया। आंगनबाड़ी केन्द्र सेमाढाना, सत्ताढाना का निरीक्षण किया गया निरीक्षण में गंभीर लापरवाही एवं अनियमिततायें पायी गई। आंगनबाड़ी केन्द्र सेमाढाना में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमति ऋचा पाण्डेय एवं आंगनबाड़ी केन्द्र सत्ताढाना में श्रीमति रेखा गौड़ ग्राम में न रहकर सागर में निवास करती है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के आंगनबाड़ी केन्द्र/ग्राम में रहने की पहली शर्त है। बगैर निवास किये जाने से आईसीडीएस की सेवाओं का लाभ हितग्राहियों को संपूर्ण रूप से नहीं दिया सकता।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमति ऋचा पाण्डेय सेमाढाना केन्द्र से अनुपस्थित पायी गई। कथित रूप से स्वयं के घर में संचालित होना बताया गया।  आंगनबाड़ी केन्द्र का नामोनिशान भी नहीं पाया गया। ग्रामवासियों को आंगनबाड़ी केन्द्र की सेवायें नहीं मिल रही है। इसी प्रकार श्रीमति रेखा गौड़ केन्द्र ग्राम सत्ताढाना में न रहते हुए सागर में निवास करती है तथा आंगनबाड़ी केन्द्र के संचालन के नाम पर खानापूर्ति करती है। जहाँ पर आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित होना बताया गया है वहां व्यक्तिगत उपयोग का सामान पाया गया। इसी प्रकार श्रीमती पार्वती अहिरवार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता साजी भी केन्द्र/ग्राम में निवास नहीं करती है तथा सागर से आना-जाना करती है। इसके अतिरिक्त आंगनबाड़ी केन्द्र किल्लाई के कार्यकर्ता श्रीमती कल्पना अहिरवार का कार्य अच्छा पाया गया तथा पर्यवेक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के जबाव संतोषप्रद न पाये जाने पर इन्हें पृथक से पृथक किया जावेगा। इन्हीं केन्द्रों के पर्यवेक्षक श्रीमति आशादेवी प्रजापति एवं श्रीमति शारदा ठाकुर के द्वारा प्रभावी निरीक्षण नहीं किये जाने वा आंगनबाड़ी केन्द्रों में कर्मियों को दूर न किये जाने के कारण दो वेतन वृद्धि रोकने का नोटिस जारी किया गया है।          

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive