रविवार, 15 दिसंबर 2019

ठंड का समय : थोड़ा संभल के रहिये, इन बातों का ध्यान रखे :डॉ राजेन्द्र चउदा

ठंड का समय  : थोड़ा संभल के रहिये, इन बातों का ध्यान रखे :डॉ राजेन्द्र चउदा

सर्दियों का मौसम शुरू हो गया है । इस मौसम में शरीर का ध्यासन रखने की बेहद जरूरत है। खासतौर बीपी , हार्ट,दमा आदी के मरीजों के लिए। वही स्वस्थ्य रहने के लिए सतर्कता भी जरूरी है । आइए, क्या करे ठंड के मौसम में।

#ठंड के मौसम में ठंडी हवा से सर्दी ,खाँसी , बुख़ार , निमोनिया एवं साइनस की परेशानियां ज़्यादा होती हैं। ठंड में फ़्लू वायरस से इन्फ़ेक्शन होता है।सर्दी खाँसी होने पर गर्म पानी के गरारे एवं सादे पानी की भाप लें..गुनगुना पानी पीना सेहत के लिए लाभदायक है। सर्दी खाँसी होने पर घर परिवार के दूसरे सदस्यों के मुँह पर खाँसकर उन्हें बीमार ना करें।
#ठंड में श्वांस के मरीज़ों को साँस लेने में ज़्यादा दिक़्क़त हो सकती है.. ब्लड प्रेशर , हार्ट अटैक, मोटापा , दमा श्वांस , बीड़ी सिगरेट पीने से होने वाली फेफड़े की ख़राबी (COPD) , किड्नी की बीमारी एवं खून की कमी -  श्वांस की बीमारी के मुख्य कारण हैं ।

#ठंडी हवा कान में जाने से एक तरफ़ के चेहरे का लकवा (Bell's Palsy )हो सकता है।

#ठंडी हवा से Giddiness (Vertigo )की समस्या भी हो सकती है..अतः कान को ढँककर बाहर निकलें..।

#ठंड में चमड़ी ( Skin ) रूखी-रूखी सी रहती है एवं ओंठ फटते हैं...नहाने के बाद कोई भी Body Lotion या नीबू - ग्लिसरीन के साथ तिल या सरसों का तेल शरीर पर लगाएँ ।

#कई लोगों को ऊनी कपड़ों के पहनने से एलर्जी हो जाती है ..उन्हें इस्तेमाल करने से पहले अच्छे से धूप में सूखा लें.।

#ठंड में शरीर को गर्म बनाए रखने के लिए हार्ट को ज़्यादा तेज़ी से धड़कना पड़ता है ..ठंड में ब्लड प्रेशर भी बढ़ जाता है , जिससे हार्ट अटैक , लकवा , ब्रेन हेमोरेज जैसी बीमारियों का ख़तरा ज़्यादा हो जाता है ।अतः ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रख़ें...।

#ठंड में हार्ट अटैक एवं लकवा के मरीज़ों को दुबारा हार्ट अटैक एवं लकवा होने का डर रहता है.।

#जोड़ों के मरीज़ों को सुबह ठंड में जोड़ों में अकड़न होती है..माँसपेशियों में जकड़न भी हो सकती है ..अतः सुबह बिस्तर से बाहर निकलने से पहिले थोड़ा हाथ पाँव चला लें।

#व्यायाम करने से पहिले बी.पी. एवं शुगर कंट्रोल में रखें...।
#ठंड में पार्टियों का दौर रहता है....अधिक शराब शरीर के लिए नुक़सान दायक है..Drinks के साथ लेने वाले तले पदार्थ हानिकारक होते हैं.।

#धूम्रपान ना करें..बीड़ी , सिगरेट (धूम्रपान ) एवं तंबाखू से BP, हार्ट अटैक एवं लकवे की सम्भावना बढ़ जाती है.।

डॉ. राजेन्द्र चउदा..MD
सीनियर मेडिसिन विशेषज्ञ,सागर

1 comments:


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive