रविवार, 1 मई 2022

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर 10 मई से करेंगे चरणबद्ध आंदोलन

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर  10 मई से करेंगे चरणबद्ध आंदोलन


सागर। संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर 10 मई से  चरणबद्ध आंदोलन करेंगे। संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के प्रदेश संयोजक अमिताभ चौबे और साथियों ने आज पत्रकारों से चर्चा के दौरान यह घोषणा की।
उन्होंने बताया कि  लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) मध्यप्रदेश में लगभग 30000 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी कार्यरत है। जो कि विगत 1 से 17 वर्षों तक लगातार कार्यरत है जो कि कोरोना काल के दौरान भी अपनी जान हथेली पर रखकर लगातार स्वास्थ्य सेवाऐं आज दिनांक तक दे रहे है जिसमें अपने कई सार्थियों को खोया है। म.प्र. शासनकाल द्वारा संविदा कर्मचारियों के लिए केबिनेट में 5 जून 2018 निर्धारित की गई थी जिसके आदेश सामान्य प्रशासन विभाग जारी किये गये थे ।जिसके अनुसार खेल युवा कल्याण विभाग, महिला बाल विकास विभाग, राजस्व विभाग, पशुपालन विभाग, लोक सेवा प्रबन्धन विभाग स्थानीय निधि संपरीक्षा म.प्र.प्रकोष्ठ भोपाल आदि में लागू की जा चुक है परन्तु NHM के संविदा कर्मचारियों पर आज दिनांक तक लागू नहीं की गई। विगत वर्ष 2021 में आंदोलन के दौरान NHM द्वारा पत्र क्र. एनएचएम / एचआर / 2021/8753, दिया गया था जिसमें कहा गया था कि जून के द्वितीय सप्ताह 2021 तक वित्त विभाग से अन्तिम निर्णय लेकर 5 जून 2018 की नीति लागू कराई जायेगी। जो कि आज दिनांक तक लम्बित है।


संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ की मांग
1. NHM के समस्त संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों का नियमितिकरण किया जाए, जब तक नियमितिकरण नहीं किया जाता है तब तक तत्काल सामान्य शासन विभाग के पत्र क्रमांक- सी.-5-2/2018/1/1/3, 5 जून 2018 की नीति लागू कर उसके
अनुसार 05 जून 2018 से नियमित कर्मचारियों का न्यूनतम 90% वेतनमान के आदेश एरियर सहित प्रदान किये जावे।
2. NHM के सपोर्ट स्टापफ को आउट सोर्सिंग से हटाकर तत्काल NHM में वापस लिया जाए एवं अप्रेजल एवं अन्य कारणों से
निष्काषित कर्मचारियों को तत्काल NHM में वापस लिये जाने संबंधित आदेश प्रदान करे ।

संघ के द्वारा बार-बार लगातार पत्रों के माध्यम से शासन एवं प्रशासन के अधिकारियों को अपनी मांगों से
अवगत करा रहे हैं किंतु आज दिनांक तक संघ के प्रतिनिधियों को बुलाकर हमारी मांग का निराकरण नहीं किया गया है जबकि मुख्यमंत्री ने भी संविदा की व्यवस्था को अन्याय पूर्ण माना है।संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ द्वारा सरकार को 18 अप्रैल 2022 को पत्र प्रेषित कर मांगों का निराकरण करने हेतु आग्रह किया गया था। परंतु आज दिनांक तक संघ की मांगों का निराकरण नहीं किया गया है, जिससे दुखी होकर मजबूरन प्रदेश के लगभग 30000 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने दिनांक 10 मई 2022 से चरणबद्ध आंदोलन करने का निर्णय लिया है।


चरणबद्ध आंदोलन की रूपरेखा इस प्रकार होगी 

1. दिनांक 10, 11 एवं 12 मई 2022 को प्रदेश के NHM के समस्त संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा काली पट्टी बांधकर अपने
कार्यस्थल पर कार्य करेंगे एवं जनता से जन समर्थन प्राप्त करेंगे।
2. दिनांक 13, 14 एवं 15 मई को सभी कर्मचारी समस्त जन तिनिधियों एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को ज्ञापन
देकर अपनी मांगों से अवगत कराएंगे ।
3. 16 मई 2022 को समस्त कर्मचारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी महोदय के कार्यालय पर काले गुब्बारे उड़ाकरशासन का ध्यान आकर्षित कर, हमारे मांगे मनाने हेतु प्रदर्शन करेंगे।
4.18 मई 2022 को NHM के समस्त संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा जिला मुख्यालय पर रैली निकालकर कलेक्टर
को ज्ञापन सौंपेंगे तथा 19 मई 2022 को जिला / ब्लॉक कार्यालय पर ताली-थाली बजाकर अपनी मांगों के समर्थन में अपनी
बात पहुंचाने का प्रयास करेगें।। इसके पश्चात भी यदि शासन / प्रशासन द्वारा संघ की मांग पूरी नहीं करती है तो दिनांक 20 मई 2022 से मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत कार्यरत लगभग 30000 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी, अनिश्चितकालीन आंदोलन पर चले जाएंगे। जिससे स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ने वाले प्रतिकूल असर एवं मरीजों को होने वाली असुविधाओं की संपूर्ण जिम्मेदारी शासन की होगी।
 इस अवसर पर मनीष बोहरे, अनूप सैनी , चन्द्रशेखर, पंकज शुक्ला, अमित तोमर ,सतीश वेध, संजय शुक्ला, नितेश पारुचि आदि मौजूद रहे। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense