रविवार, 1 मई 2022

SAGAR : सूदखोरी, हत्या सहित माफियाओं पर कार्रवाई★ 131 करोड़ रुपये से अधिक की शासकीय भूमि से हटाया गया अतिक्रमण

SAGAR : सूदखोरी, हत्या सहित माफियाओं पर कार्रवाई
★ 131 करोड़ रुपये से अधिक की शासकीय भूमि से हटाया गया अतिक्रमण

सागर एक मई 2022 । एंटी माफिया अभियान के तहत मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा समस्त प्रकार के माफियाओं पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। सागर कलेक्टर श्री दीपक आर्य एवं पुलिस अधीक्षक श्री तरुण नायक के द्वारा संयुक्त रूप से संपूर्ण जिले में कार्रवाई कराई जा रही है। इस तारतम्य में जिले के सभी राजस्व एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारियों   द्वारा अपने दल-बल के साथ जिले में समस्त प्रकार के माफियाओं पर कार्रवाई की जा रही है। इन माफियाओं में  सूदखोरी ,भूमाफिया, मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत माफिया, खनन माफियाओं के खिलाफ, गुंडे, बदमाश, अवैध शराब का विक्रय करने वालों पर कार्रवाई कर जिले को माफिया मुक्त जिला बनाने की दिशा में प्रयास किए जा रहे हैं।

कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के स्पष्ट निर्देश हैं कि मध्य प्रदेश को माफिया मुक्त करना है। और उनके इरादों को नेस्तनाबूद करना है। इसी निर्देश के पश्चात जिला एवं पुलिस अधीक्षक श्री तरुण नायक के नेतृत्व में पुलिस प्रशासन के संयुक्त प्रयास से संपूर्ण जिले में कार्यवाही की जा रही है।
 एसपी श्री तरुण नायक ने बताया कि एक बैठक आयोजित कर पुलिस एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों कर्मचारियों को निर्देशित किया गया था कि, समस्त प्रकार के अपराधियों  सूदखोरों ,माफियाओं बदमाशों, गुंडों पर कार्रवाई कर उन्हें नेस्तनाबूद करना है।


 इसी कड़ी में विगत दिनों की गई विभिन्न कार्रवाईयों में 131  करोड़  14 लाख रुपए से अधिक की शासकीय भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराया गया है। जिसमें सर्वाधिक कार्रवाई सागर अनुभाग के अंतर्गत की गई है।

 उन्होंने बताया कि सागर अनुभाग में अनुविभागीय अधिकारी श्रीमती सपना त्रिपाठी, तहसीलदार श्री रोहित वर्मा , नायब तहसीलदार श्री दुर्गेश तिवारी, सुश्री सोनम पांडे , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विक्रम सिंह, श्री रविंद्र मिश्रा सहित अन्य अधिकारियों के साथ कार्रवाई की गई। इसके अंतर्गत सागर नरसिंहपुर रोड पर चितौरा टोल टैक्स के पास पांच ढाबों एवं 3 अस्थाई  दुकानों को हटाया गया , जिनकी बाजार कीमत 78 लाख 20 हजार रुपए आकी गई है। इसी प्रकार सुरखी क्षेत्र के अंतर्गत 1.73 हेक्टेयर भूमि से अतिक्रमण हटाया गया जिसकी कीमत 20 लाख रुपए आकी गई।


 तहसीलदार श्री रोहित वर्मा ने बताया कि मकरोनिया पैराडाइज होटल के सामने स्थित हाउसिंग बोर्ड की जमीन पर से 7 अर्ध पक्के मकानों को हटाया गया। जिनकी कीमत लगभग 70 लाख से अधिक आंकी गई है।
कलेक्टर श्री आर्य के निर्देश पर एक बड़ी कार्रवाई की गई है जिसमें बामन खेड़ी मौजा के पटवारी हल्का नंबर 4 में स्थित शासकीय भूमि खसरा नंबर 87, 101 ,102, 103 रखवा में से .0970 ,2.5 33 ,1.761,0.840 हेक्टेयर’ कुल रकबा 5.31 हेक्टेयर , से अतिक्रमण हटाया गया। इस भूमि पर बबलू पिता श्री हीरालाल प्रजापति 3200 वर्ग मीटर, कपिल पता श्री प्रकाश साहू 348 वर्ग मीटर, आशीष अमित पिता श्री कुंज बिहारी मिश्रा 2 हेक्टेयर, राजू पिता श्री गंगाराम विश्वकर्मा 207 वर्ग मीटर, दिनेश पिता श्री सीताराम विश्वकर्मा 510 वर्ग मीटर ,नीरज पिता श्री आरआर बछिया 120 वर्ग मीटर ,इकबाल खान 97 वर्ग मीटर ,गोविंद पिता श्री गोरेलाल विश्वकर्मा 44 वर्ग मीटर, राम जी पिता श्री रमन पवार 6 वर्ग मीटर, मनोज पिता श्री देवीलाल प्रजापति 78 वर्ग मीटर, प्रदीप सप्रे 9 वर्ग मीटर ,राजकुमार पिता श्री बेनी प्रसाद ठाकुर 816 वर्ग मीटर ,कालू विश्वकर्मा 480 वर्ग मीटर, एवं राजू पिता श्री छोटेलाल घोसी 9 वर्ग मीटर से अतिक्रमण हटाया गया है जिसकी कीमत 100 करोड़ रुपए से अधिक की आकी गई है।


कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने बताया कि खुरई विकासखंड में अनुविभागीय अधिकारी श्री मनोज चौरसिया द्वारा  खुरई- खिमलासा मुख्य मार्ग से कृषि यंत्र फैक्ट्री वाले क्षेत्र में पूरन द्वारा . 82 हेक्टेयर भूमि पर कब्जा किया गया था, जिसकी बाजार कीमत 3 करोड़ 20 लाख रुपए है,  से भी अतिक्रमण हटाया गया है। इसी प्रकार खुरई के ही संत कबीरदास वार्ड में जितेंद्र पिता श्री सुखदेव शिवलानी द्वारा नजूल की भूमि पर 15 वर्ग फुट का कब्जा किया गया था , जिसकी कीमत 26 लाख रुपए आंकी गई है।
एसडीएमसी मनोज चौरसिया ने बताया कि, ग्राम बरोदिया नोनागर की शासकीय भूमि खसरा न 9 रकबा 3350 वर्ग फुट पर पक्का निर्माण और बाउंड्री बनाकर कब्जा करके और शासकीय रास्ता भूमि खसरा न 452 रकबा 0.15 पर कब्जा करना पाया गया। आरोपी रिजवान पिता श्री शब्बीर हसन , सब्बीर हसन पिता श्री शकूर हसन द्वारा कब्जा किया गया था। उक्त के खिलाफ आई पी सी की धारा 452,294,323,324,506,107,116,34,110,147,148,307 के तहत  मामला  दर्ज हैं। हटाए गए कब्जे की संपत्ति की कीमत 23.50 लाख रुपए से अधिक आंकी गई है।
SATNA : प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के वैज्ञानिक के घर EOW का छापा, एक करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा


कलेक्टर श्री आर्य ने बताया  रहली विकासखंड में अनुविभागीय अधिकारी श्री जितेंद्र पटेल, तहसीलदार श्री कुलदीप पाराशर, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री अनुराग पांडे, तहसीलदार श्री संदीप तिवारी  सहित राजस्व एवं पुलिस के अन्य अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा कार्रवाई की गई। जिसमें 15 एकड़ की जमीन  से अतिक्रमण हटाया गया है, जिसकी बाजार कीमत 30  लाख रुपए आंकी गई है।

इसी प्रकार एसडीएम श्री जितेंद्र पटेल के द्वारा पुलिस एवं राजस्व अधिकारियों के संयुक्त प्रयास से गढ़ाकोटा में एक अन्य कार्रवाई करते हुए हत्या के प्रयास में 307 एवं सूदखोरी के मामले में बलवंत उर्फ रिंकू उर्फ लाखन और पिंटू द्वारा 6000 वर्ग फुट पर आलीशान होटल एवं 50 डिसमिल जमीन पर किए गए कब्जे को सख्ती के साथ हटाया गया। जिसकी बाजार कीमत दो करोड़ रुपए से अधिक की गई है।

इसी क्रम में तहसील गढ़ाकोटा अंतर्गत ग्राम सिमरिया बलेह में शासकीय शमसान की भूमि रकबा 1.12 एकड़ से अनावेदक राजकुमार पिता श्री मन्नीलाल का अवैध कब्जा हटाकर ग्राम पंचायत को फेंसिंग कराने कब्जा सौंपा गया। मुक्त कराई गई भूमि का मूल्य लगभग तीन लाख पचास हजार रू है। एवं ग्राम बरखेड़ा गोतम में गढ़ाकोटा सागर मुख्य मार्ग पर रोड की भूमि पर सोनू पिता बलराम कोरी द्वारा 0.05 एकड़ पर टीन शेड बनाकर ढाबा बनाया गया था जिसे हटा दिया गया है। उक्त भूमि की कीमत लगभग 12 लाख रू है ।

बीना विकासखंड के ग्राम दौलतपुर में 28 हेक्टेयर भूमि को माफियाओं से मुक्त कराकर वन विभाग को सौंपा गया अनुविभागीय अधिकारी श्री शैलेंद्र सिंह ने बताया कि कलेक्टर श्री आर्य के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई है ।

उन्होंने बताया कि राजस्व विभाग पुलिस विभाग वन विभाग की संयुक्त कार्रवाई से भू माफियाओं से 28 हेक्टेयर भूमि वन विभाग को अपना कब्जा सौंपा गया। उन्होंने बताया कि उक्त जमीन की कीमत प्रारंभिक तौर पर लगभग  6 करोड़ से अधिक आंकी गई है। अनुविभागीय अधिकारी  श्री सिंह ने बताया कि वन भूमि पर शिवचरण प्रेम नारायण, कुख्यात बदमाश आरोपी,देवी सिंह भरत सिंह यादव,, बुंदेल सिंह राजेश सिंह का कब्जा था उक्त  भूमि से कबजा हटाते हुए वन विभाग को सौपी गयी।
कलेक्टर श्री आर्य ने बताया कि संपूर्ण जिले में ये कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense