बुधवार, 4 मार्च 2020

टाटा वर्कशॉप में हवाई फायर का मामला ,पीड़ित पक्ष ने मांगी सुरक्षा, नही लिखी FIR

टाटा वर्कशॉप में हवाई फायर का मामला ,पीड़ित पक्ष ने मांगी सुरक्षा, नही लिखी FIR

सागर । राष्ट्रीय राजमार्ग 26 झांसी लखनादौन के बीच बम्हौरी तिगड्डा पर स्थित जीआर टाटा वर्कशॉप मेेंं हवाई फायर कर दहशत फैलाने वालों के विरूद्ध पुलिस आज दिनांक तक कोई कार्रवाई नहीं कर रहीं है जिसके चलते वर्कशॉप का स्टाफ अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहा है।
वर्कशॉप के प्रोपाईटर अरविंद कुमार जैन ने पुलिस महानिरीक्षक सागर रेंज, पुलिस अधीक्षक सागर, मानव अधिकार आयोग सहित अन्य स्थानों पर अपनी लिखित में दी शिकायत में बताया है कि वर्कशॉप में टाटा मोटर्स के भारी वाहनों की मरम्मत का काम होता है. फरवरी माह के अंत में सिरौंजा स्थित क्रेशर  के मालिक पुष्पेंद्र सिंह ठाकुर भोले राजा  का ट्रक क्रमांक एमपी 15 एचए 0728 वर्कशॉप में मरम्मत के लिए आया था. कार्य पूर्ण होने के बाद उनको सूचना दी गई कि ट्रक ले जा सकते है तो उनके यहाँ से आये ड्राईवर से जब मरम्मत कार्य का 17 हजार रूपए का बिल मांगा तो ड्राईवर कहने लगा ट्रायल कर लूँ ट्रायल के दौरान ही जब वह ड्राईवर भागने लगा तो वर्कशॉप के स्टाफ द्वारा रोक लिया गया जिस पर ड्राईवर द्वारा अपने मालिक को फोन लगाया गया तो मालिक अपने साथियों के साथ वर्कशॉप पहुंचे और हवाई फायर करने लगे, जिससे उनका स्टाफ दहशत में आया गया और जैन के अनुसार उनके पुत्र अंचल जैन और मैनेजर किशोर अग्रवाल पर भी उन्होंने जान से मारने की नियत से फायर किया और वहां से चले गए. साथ में सीसीटीव्ही कैमरे का डिवाईडर और गोलियों के खोखे तक ले गए. जिसकी सूचना डायल 100 को दी गई थी. जिस पर सिविल लाईन थाना प्रभारी और सीएसपी मौके पर भी पहुंचे थे.उसके पूर्व पुष्पेंद्र सिंह के द्वारा ट्रक की मरम्मत का बिल 17 हजार रूपया और पुराने 35 हजार में से 5 हजार रूपए जमा कर दिया गया. मगर पुलिस द्वारा हवाई फायर करने वालों के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है जिससे वर्कशॉप का स्टाफ असुरक्षित महसूस कर रहा है.।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें


नौरादेही अभ्यारण : प्रभावित लोगों का शत-प्रतिशत होगा विस्थापन : कलेक्टर

Archive