मंगलवार, 26 अप्रैल 2022

महाप्रबंधक, उपमहाप्रबंधक सहित एक दर्जन से अधिक कर्मचारी निलंबित, ★ आउटसोर्स कर्मचारी की सेवाएं समाप्त★ विद्युतीकरण के कार्यों में अनियमितता, म.प्र. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की सख्त कार्यवाही

महाप्रबंधक, उपमहाप्रबंधक सहित एक दर्जन से अधिक कर्मचारी निलंबित, 
★ आउटसोर्स कर्मचारी की सेवाएं समाप्त
★ विद्युतीकरण के कार्यों में अनियमितता,  म.प्र. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की सख्त कार्यवाही


भोपाल 26 अप्रैल। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने विदिशा वृत्त अंतर्गत कॉलोनियों के बाह्य विद्युतीकरण में अनियमितता और लापरवाही बरतने के आरोप में तत्कालीन महाप्रबंधक श्री व्ही.के.बघेल, उपमहाप्रबंधक श्री बी.एस.कुशवाह, श्री रामपाल सिरसाटे, श्री एन.डी.स्वर्णकार, प्रबंधक श्री राहुल ठाकुर, श्री कैलाश चौधरी, श्री शशांक शेखर पांडेय, सहायक प्रबंधक श्री संजय पौराणिक, श्री खुशाल कुमार अहिरवार एवं लाईन परिचारक श्री अवध प्रसाद धाकड़ को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के साथ ही सेवाप्रदाता कंपनी के माध्यम से कार्यरत सब-स्टेशन ऑपरेटर श्री रघुवीर सिंह राजपूत को सेवा से पृथक कर दिया गया है।


 इसी प्रकार रायसेन वृत्त अंतर्गत कॉलोनियों के बाह्य विद्युतीकरण में अनियमितता और लापरवाही बरतने के आरोप में तत्कालीन उपमहाप्रबंधक श्री एस.के.गुप्ता, श्री जी.एल.सिंह, श्री कमलकांत सिंह (पूर्व से निलंबित), प्रबंधक श्री मिर्जा जावेद बैग एवं सहायक प्रबंधक श्री आदित्य प्रताप सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।  


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने सचेत किया है कि निर्माण कार्यों में गुणवत्ता, पारदर्शिता, लगन, निष्ठा और उपभोक्ता सेवाओं को लेकर किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 


उन्होंने कहा कि कंपनी में भृष्टाचार को लेकर जीरो टोलरेंस की नीति है और सभी मैदानी अधिकारियों को निर्देशित कर दिया गया है कि वे उपभोक्ता सेवाओं और कंपनी की उत्तरोत्तर तरक्की के लिए निरन्तर प्रयास करते रहें। प्रबंध संचालक ने अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिये हैं कि कंपनी एवं उपभोक्ता सेवा संबंधी कार्य पूरी सजगता, ईमानदारी और पारदर्शिता से करें। उपभोक्ता सेवा सर्वोपरि है और उपभोक्ताओं से अन्याय एवं धोखाधड़ी किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों को स्पष्ट निर्देश दिये है कि आर्थिक अनियमितताओं और सेवाओं में लापरवाही के मामलों में सख्त अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों से अपेक्षा की है कि वे कार्य निष्पादन में किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें और उपभोक्ताओं के हितों का हमेशा ध्यान रखें।   


तीनबत्ती न्यूज़. कॉम
के फेसबुक पेज  और ट्वीटर से जुड़ने  लाईक / फॉलो करे


ट्वीटर  फॉलो करें

वेबसाईट



 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense