सोमवार, 25 अप्रैल 2022

MP : महिला TI को लोकायुक्त पुलिस ने 29 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा★ थाना प्रभारी हर महीने लेती थी 20 हजार रुपये रिश्वत ,सट्टा खिलवाने के एवज में

MP : महिला TI को लोकायुक्त पुलिस ने  29 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा
★ थाना प्रभारी हर महीने लेती थी 20 हजार रुपये रिश्वत ,सट्टा खिलवाने के एवज में 


उज्जैन । उज्जैन लोकायुक्त पुलिस ने आगर मालवा जिले की कानड़ थाना प्रभारी को 29 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। टीआई शिकायतकर्ता पर दबाव बनाकर उससे सट्टा खिलवाती थी और बदले में हर महीने 20 हजार रुपये रिश्वत लेती थी।



आगर मालवा में लोकायुक्त ने थाना प्रभारी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आगर मालवा जिले के कानड़ निवासी रितेश राठौर ने 11 अप्रैल को अधीक्षक लोकायुक्त अनिल विश्वकर्मा को आवेदन प्रस्तुत कर थाना प्रभारी के रिश्वत लेने की शिकायत की थी। आवेदक ने थाना प्रभारी मुन्नी परिहार पर दबाव बनाकर सट्टा चलवाने का आरोप लगाया था। वहीं, सट्टा चलाने के एवज में टीआई हर महीने 20 हजार रुपये रिश्वत के रूप में ले रही थी।



आवेदक की शिकायत पर कार्रवाई करते सोमवार को DSP राजकुमार शराफ़ के नेतृत्व में टीम का का गठन कर टीआई को ट्रैप किया गया। लोकायुक्त उज्जैन DSP सुनील तालान, TI राजेंद्र वर्मा आरक्षक संजय पटेल, सुनील परसाई, नीरज राठौर ने थाना कानड़ में टीआई मुन्नी परिहार को आवेदक से 29 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। 



20 हजार रुपये लेती थी हर महीने TI

TI मुन्नी परिहार ने आवेदक से पिछले महीने के बाकी 9 हज़ार रुपये और चालू महीने के बीस हज़ार रुपये के हिसाब से कुल 29 हज़ार रुपये की मांग की गयी थी। आवेदक के अनुसार उसे कोरोना लॉकडाउन में गल्ले के व्यापार में नुकसान होने से उसने 2021 में सट्टा चलाया था, जिसका TI मुन्नी परिहार हर महीने 20 हज़ार रुपये लेती थी। अब सट्टा नहीं खिलाना चाहता था, लेकिन TI दबाव बनाकर सट्टा चलवा रही थी और रिश्वत के रूप में हर महीने 20 हज़ार रुपये की मांग कर रही थी।


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Archive

Adsense